scorecardresearch
 

टॉप इंडियन प्लेयर्स

 

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने अब तक का अपना सबसे बड़ा खिलाड़ियों का दल उतारा है. दिग्गज मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम और हॉकी कप्तान मनप्रीत सिंह ने टोक्यो खेलों के उद्घाटन समारोह में भारतीय दल की अगुआई की. वहीं, पहलवान बजरंग पूनिया समापन समारोह में भारतीय दल के ध्वजवाहक की भूमिका निभाएंगे.

टोक्यो ओलंपिक 2020 के बारे में

खेलों का 'महाकुंभ' ओलंपिक हर चार साल पर आयोजित किया जाता है, लेकिन कोरोना महामारी (Pandemic-ravaged Games) के चलते 2020 में इसके आयोजन पर ब्रेक लग गया था. अब सालभर की देरी से जापान की राजधानी टोक्यो (Olympic Games Tokyo 2020) में इसका आयोजन हो रहा है. इस ओलंपिक खेलों की आधिकारिक शुरुआत 23 जुलाई को एक रंगारंग कार्यक्रम से हुई. 8 अगस्त को इसका समापन हो जाएगा.

ओलंपिक खेलों के इतिहास में यह दूसरा मौका है, जब टोक्यो को इस महाकुंभ की मेजबानी मिली है. इससे पहले 1964 में टोक्यो इस मेगा इवेंट का आयोजन कर चुका है. टोक्यो में इस बार 33 खेलों में 339 मेडल (339 gold medals at the Tokyo 2020 Olympics) के लिए मुकाबले होने हैं, जिसके लिए लिए 206 देशों के 11 हजार से ज्यादा एथलीट जोर आजमाइश कर रहे हैं.

टोक्यो ओलंपिक खेलों के शुभंकर का नाम 'मिराइतोवा' (MIRAITOWA) है, जिसका रंग इंडिगो ब्लू है. जापानी शब्द मिराइतोवा में 'मिराइ' का अर्थ 'भविष्य' और तोवा का मतलब 'अनंत काल' होता है.

टोक्यो ओलंपिक में चार खेल अपना पदार्पण (Four sports to make debut at Tokyo 2020) किए हैं. ये खेल सर्फिंग, स्केटबोर्डिंग, स्पोर्ट्स क्लाइंबिंग और कराटे हैं. इसके अलावा बेसबॉल (पुरुष) और सॉफ्टबॉल (महिला) की ओलंपिक में वापसी हुई है.

कोरोना महामारी के चलते टोक्यो ओलंपिक बंद दरवाजों के बीच आयोजित हो रहा है. साथ ही ओलंपिक में इस बार मेडल सेरेमनी के नियमों में भी बदलाव किए गए हैं. उस बार खिलाड़ियों को पदक गले में डालकर नहीं दिया जा रहा है. पदक खिलाड़ियों को ट्रे में पेश किए जा रहे हैं और फिर एथलीट पदक लेकर खुद ही (Olympic athletes to put on own medals at Tokyo 2020) अपने गले में पहन रहे हैं. यही नहीं समारोह के दौरान कोई भी एक-दूसरे से हाथ नहीं मिला रहा है और ना ही कोई किसी को गले लगा रहा है.