scorecardresearch
 

महाराष्ट्र

मुंबई में बिल्डिंग गिरी

मुंबई में बड़ा हादसा, 4 मंजिला इमारत गिरी, 20-25 लोग मलबे में दबे

28 जून 2022

महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे ने बताया कि मलबे से 5 लोगों को निकाल लिया गया है और इन्हें अस्पताल ले जाया गया है. इस बिल्डिंग को बीएमसी का नोटिस दिया गया था, उसके बावजूद इसे खाली नहीं किया गया था.

बागी विधायक एकनाथ शिंदे

महाराष्ट्र के महा-ड्रामे में आगे क्या? गिरेगी उद्धव सरकार या बागियों पर कसेगा दल-बदल कानून का शिकंजा?

27 जून 2022

सवाल ये है कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आने वाले दिनों में और क्या नाटकीय मोड़ देखने को मिलने वाले हैं? उद्धव गुट, शिंदे गुट के पास क्या विकल्प खुले हैं, राज्यपाल क्या कर सकते हैं?

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में आया दिलचस्प मोड़ ( फाइल फोटो)

सरकार, शिंदे और सुप्रीम कोर्ट के बीच महाराष्ट्र की सियासी बिसात, आखिरी बाजी आएगी किसके हाथ?

27 जून 2022

सुप्रीम कोर्ट के आदेश ने शिवसेना को बड़ा झटका दिया है. अगर सच में शिंदे गुट के साथ 39 विधायक हैं तो उद्धव ठाकरे के सामने फ्लोर टेस्ट की चुनौती कभी भी खड़ी हो सकती है. हालांकि न तो शिंदे गुट और न ही बीजेपी फ्लोट टेस्ट की मांग को लेकर राज्यपाल के पास जाने को तैयार दिख रहे हैं.

महाराष्ट्र में BJP की रणनीत‍ि, पार्टी खुद नहीं करेगी फ्लोर टेस्ट की मांग!

27 जून 2022

सूत्रों के हवाले से खबर है कि बीजेपी सीधे खुद राज्यपाल से फ्लोर टेस्ट की मांग करने के लिए नहीं जाएगी. खबर ये आजतक को मिली है कि महाविकास आघाड़ी को समर्थन देने वाली कोई छोटी पार्टी राज्यपाल से फ्लोर टेस्ट कराने की मांग रखेगी. क्योंकि उद्धव सरकार के पास बहुमत अभी नहीं है. एक विकल्प ये भी दावा हो रहा है कि राज्यपाल खुद संज्ञान लेकर फ्लोर टेस्ट के लिए कहें. इस बीच खबर है कि बीजेपी ने अपने सभी विधायकों को मुंबई या आसपास ही रहने को कहा है ताकि फ्लोर टेस्ट की नौबत आने पर सभी विधायक मौजूद रहें.

पनवेल में हुई आग लगने की घटना. (Representational image)

बंगले में लगी आग में 3 बच्चों को बचाने के बाद फंस गया शख्स, जलकर हुई मौत

27 जून 2022

Mumbai News: मुंबई के पनवेल एरिया में एक बंगले में अचानक आग लग गई. आग की लपटों के बीच से एक पिता ने अपने तीन बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया, लेकिन जब दोबारा अपना लैपटॉप और अन्य दस्तावेज लेने गया तो आग में फंस गया. गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसकी मौत हो गई.

सुप्रीम कोर्ट ने 11 जुलाई तक डिप्टी स्पीकर के फैसले पर लगा दी है रोक (फाइल फोटो)

'डिप्टी स्पीकर खुद के खिलाफ अर्जी पर जज कैसे बन गए', SC ने मांगा जवाब

27 जून 2022

बागी विधायकों के वकील ने नबाम रेबिया बनाम डिप्टी स्पीकर, अरुणाचल प्रदेश विधानसभा मामले में 2016 के SC के फैसले का जिक्र किया, जिसमें सदन को बुलाने की शक्ति और राज्यपाल के अधिकार के बारे में बात की गई थी. वहीं महाराष्ट्र सरकार की ओर से पेश ने 1992 के SC के किहोतो होलोहन बनाम ज़ाचिल्हू और अन्य के फैसले का जिक्र किया, जिसमें 10वीं अनुसूची के तहत अध्यक्ष के व्यापक विवेक को बरकरार रखा था.

मौतों के मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपी. (Photo: File PTI)

महाराष्ट्र: सामूहिक खुदकुशी नहीं, गुप्त धन के लालच में जहर देकर की गई थी 9 लोगों की हत्या

27 जून 2022

Sangli News: महाराष्ट्र के सांगली जिले में 9 लोगों की मौत का मामला सामने आने के बाद कर्ज की वजह से सुसाइड करने की बात सामने आई थी. अब इस मामले में नया मोड़ आ गया है. पुलिस का कहना है कि यह केस सुसाइड का नहीं था, बल्कि गुप्त धन के लालच में जहर देकर हत्या की गई थी.

सीएम उद्धव ठाकरे और बागी विधायक एकनाथ शिंदे

महाराष्ट्र संकट: विधायकों को अयोग्य घोषित कर सकते हैं डिप्टी स्पीकर? जानिए संवैधानिक अधिकार

27 जून 2022

महाराष्ट्र संकट के बीच सवाल ये उठता है कि आखिर डिप्टी स्पीकर के संवैधानिक अधिकार क्या होते हैं? क्या डिप्टी स्पीकर किसी विधायक को अयोग्य घोषित कर सकता है?

एकनाथ शिंदे (फाइल फोटो)

शिंदे के गांववाले बोले- 'एकनाथ ने ही कराया क्षेत्र का विकास, वही बनें सूबे की मुख्यमंत्री'

27 जून 2022

महाराष्ट्र में सियासी उठापटक के बीच एकनाथ शिंदे के गांववालों को उम्मीद है कि वह प्रदेश के मुख्यमंत्री बनेंगे. दरे गांव के लोग कहते हैं कि एकनाथ शिंदे ने ही यहां का विकास कराया है. हम गांव वाले उनके समर्थन में खड़े हैं.

शरद पवार/उद्धव ठाकरे (File Photo)

महाराष्ट्र: दो बार इस्तीफा देना चाहते थे उद्धव, लेकिन शरद पवार ने रोका

27 जून 2022

महाराष्ट्र में चल रही सियासी हलचल के बीच सूत्रों का कहना है कि यहां पर राज्यपाल किसी भी समय फ्लोर टेस्ट की बात कह सकते हैं. इस बीच खबर सामने आई है कि महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के 2 बार इस्तीफा देना चाहते थे, लेकिन शरद पवार ने उन्हें रोक लिया.

'मुझे मालूम है न‍िर्देश कहां से आता है', ED नोट‍िस पर बोले राउत

27 जून 2022

Sanjay Raut on ED Summon: महाराष्ट्र में सियासी संकट के बीच प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने शिवसेना सांसद संजय राउत को समन भेजा है. राउत को कल पूछताछ के लिए बुलाया है. बताया जा रहा है कि संजय राउत को ये समन प्रवीण राउत और पात्रा चॉल भूमि घोटाले से जुड़े मामले में भेजा गया. उधर, शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने संजय राउत को समन भेजने को लेकर ईडी पर निशाना साधा है. इस मुद्दे पर आजतक से बातचीत में संजय राउत ने कहा है कि मुझे मालूम है इसके न‍िर्देश कहां से आते हैं, उन्होंने आगे कहा कि मुझे गिरफ्तार करो, मैं यहां शिवसेना भवन में बैठा हूं. अगर मुझे शिवसैनिकों के लिए बलिदान होना है, तो हो जाऊंगा. इसमें कौन सी बड़ी बात है. देखें ये वीडियो.

बागियों की ललकार..पार्टी बचेगी या सरकार? देखिए रिपोर्ट

27 जून 2022

सुप्रीम कोर्ट ने शिंदे गुट को बड़ी राहत दी है. कोर्ट ने शिंदे की अर्जी पर महाराष्ट्र सरकार, डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस, और अजय चौधरी को नोटिस जारी किया है. बागी विधायक 3 दिन में अपना पक्ष रखेंगे. शिंदे गुट के वकील एनके कौल ने बहस की शुरुआत की थी. कौल ने सीधे सुप्रीम कोर्ट में आने और उद्धव सरकार के अल्पमत में होने पर दलील रखी. विधायकों को जान का खतरा भी बताया. वहीं, उद्धव सरकार के वकील सिंघवी ने सीधे सुप्रीम कोर्ट में आने पर सवाल किया तो कोर्ट ने मामले को अलग बताया. अंजना ओम कश्यप के साथ देखिए ये कवरेज.

'अगर मुझे शिवसैनिकों के लिए बलिदान होना है, तो हो जाऊंगा', बोले संजय राउत

27 जून 2022

Raut on Maharashtra Politics: महाराष्ट्र के बागी विधायक एकनाथ शिंदे की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने लगभग सभी पक्षों को नोटिस दे दिया. इस नोटिस का जवाब सभी पक्षों को पांच दिनों के अंदर देना है. फिर मामले की अगली सुनवाई 11 जुलाई को होगी. शिंदे गुट को सुप्रीम कोर्ट से फोरी तौर पर राहत मिल गई है. वहीं सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि राज्य सरकार कानून व्यवस्था बनाए रखे और सभी 39 विधायकों के जीवन और स्वतंत्रता की रक्षा के लिए पर्याप्त कदम उठाए और सभी 39 विधायकों को सुरक्षा दे महाराष्ट्र सरकार. सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हमारे लिए सुप्रीम कोर्ट भगवान है, लेकिन महाराष्ट्र में जनता की भावनाएं अलग हैं. 11 जुलाई के बाद बागी विधायकों को अयोग्य ठहराने की प्रक्रिया शुरू होगी. उन्होंने कहा कि मुझे गिरफ्तार करो, मैं यहां शिवसेना भवन में बैठा हूं. अगर मुझे शिवसैनिकों के लिए बलिदान होना है, तो हो जाऊंगा. इसमें कौन सी बड़ी बात है. देखें ये वीडियो.

'जो भागकर जाते, वे कभी जीतते नहीं', बागी विधायकों पर बोले आदित्य ठाकरे

27 जून 2022

Aaditya Thackeray on SC Verdict: महाराष्ट्र में जारी सियासी जंग ने आज सुप्रीम कोर्ट में अलग रंग ले लिया. यहां डिप्टी स्पीकर को झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने बागी विधायकों की याचिका पर डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल को नोटिस थमाया दिया. उनसे पूछा गया कि जब बागी विधायकों ने उनके खिलाफ अविश्वास का नोटिस दिया था, तो उसे डिप्टी स्पीकर ने बिना सदन में रखे कैसे खारिज कर दिया? मतलब वह अपने खिलाफ आए नोटिस में खुद ही जज कैसे बन गए? अब इस मामले पर अगली सुनवाई 11 जुलाई को होगी. वहीं, इस फैसले के बाद, आदित्य ठाकरे ने गुवाहाटी में बैठे बागी विधायकों पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि सामने आएं और आंख में आंख डालकर हमसे बात करें. यह राजनीति नहीं सर्कस बन गया है. यह बागी नहीं भगोड़े हैं. जो भागकर जाते हैं, वे कभी जीतते नहीं हैं. उन्होंने कहा कि कुछ विधायक हमारे साथ हैं. देखें ये वीडियो.

आदित्य ठाकरे (File Photo)

लौटने वालों का स्वागत है, बागी विधायकों को आदित्य ठाकरे का ऑफर

27 जून 2022

Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र संकट के बीच लगातार दूसरे दिन आदित्य ठाकरे का बयान आया है, उन्होंने रविवार को बागी विधायकों पर जमकर निशाना साधा था तो वहीं सोमवार को कहा कि लौटने वाले विधायकों का स्वागत है.

शिवसेना सांसद संजय राउत (फाइल फोटो)

Maharashtra: संजय राउत कल ED के सामने नहीं होंगे पेश! ये है वजह

27 जून 2022

Maharashtra: शिवसेना सांसद संजय राउत को ED ने जमीन घोटाले से जुड़े एक मामले में समन भेजा है, लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक संजय राउत कल ईडी के सामने पेश नहीं होंगे.

महाराष्ट्र में शिंदे समर्थक सड़क पर उतरे, किया प्रदर्शन

27 जून 2022

महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम का मामला आज सुप्रीम कोर्ट में है. वहीं महाराष्ट्र में सड़कों पर भी शिवसैनिकों और शिंदे समर्थकों की जंग देखने को मिल रही है. ठाणे में आज बड़ी संख्या में शिंदे समर्थक सड़क पर उतरे और शिवसेना से बागी हुए नेताओं में समर्थन में प्रदर्शन किया. महाराष्ट्र में शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे के समर्थक ठाणे में उनके समर्थन में उनके आवास पर एकत्रित हुए. सुप्रीम कोर्ट आज महाराष्ट्र के बागी विधायकों के खिलाफ डिप्टी स्पीकर द्वारा जारी अयोग्यता नोटिस के खिलाफ एकनाथ शिंदे की याचिका पर सुनवाई है. देखें ये वीडियो.

शिवसेना सांसद संजय राउत

इनको सीएम बना देते तो खुश रहते....संजय राउत ने कसा एकनाथ शिंदे पर तंज

27 जून 2022

महाराष्ट्र संकट के बीच संजय राउत ने एक बार फिर एकनाथ शिंदे पर निशाना साधा है. उनका कहना है कि शिंदे को एनसीपी के साथ सरकार में तब दिक्कत नहीं थी जब उन्हें बड़े मंत्रालय दिए गए. इन्हें अगर सीएम बनाते तो खुश रहते.

शिंदे गुट उद्धव सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की कर सकता है मांग (फाइल फोटो)

उद्धव सरकार से समर्थन वापसी की घोषणा कर सकता है शिंदे कैंप, गवर्नर से मिलने की तैयारी

27 जून 2022

शिंदे गुट को सोमवार को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिल गई है. कोर्ट ने फिलहाल 11 जुलाई तक डिप्टी स्पीकर के उस नोटिस पर रोक लगा दी है, जो उन्होंने बागी विधायकों को जारी की थी. यानी 11 जुलाई तक इन विधायकों को अयोग्य नहीं ठहराया जा सकेगा. कोर्ट के इस आदेश के बाद शिंदे गुट को  MVA सरकार को घेरने का और वक्त मिल गया है.

16 बागियों पर नोटिस का वार, लटकी तलवार! देखें महाराष्ट्र में महासंग्राम

27 जून 2022

Maharashtra Politics: महाराष्ट्र में जारी सियासी जंग का मामला आज सुप्रीम कोर्ट में है वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र में सड़कों पर भी शिवसैनिकों और शिंदे समर्थकों की जंग देखने को मिल रही है. ठाणे में आज बड़ी संख्या में शिंदे समर्थक सड़क पर उतरे और शिवसेना से बागी हुए नेताओं में समर्थन में प्रदर्शन किया. वहीं, सुप्रीम कोर्ट में दायर अपनी याचिका में एकनाथ शिंदे ने लिखा है कि महा विकास अघाड़ी (MVA) गठबंधन ने सदन में बहुमत खो दिया है क्योंकि शिवसेना विधायक दल के 38 सदस्यों ने अपना समर्थन वापस ले लिया है और इस तरह सदन में बहुमत से नीचे आ गया है. बागी मंत्रियों पर सीएम उद्धव ठाकरे ने बड़ी कार्रवाई की है. महाराष्ट्र में बागी मंत्रियों के विभाग दूसरे मंत्रियों को दिए गए हैं, जिसमें एकनाथ शिंदे का विभाग सुभाष देसाई को सौंप दिया गया है. पूरी जानकारी के लिए देखें ये एपिसोड.

महाराष्ट्र में सियासी दंगल जारी है

महाराष्ट्र: SC से शिंदे कैंप को राहत, 11 जुलाई तक अयोग्य नहीं घोषित हो पाएंगे बागी विधायक

27 जून 2022

महाराष्ट्र में सियासी संकट के बीच प्रवर्तन निदेशालय (ED) की एंट्री हो गई है. ईडी ने शिवसेना सांसद संजय राउत को समन भेजा है. राउत को कल यानी मंगलवार को ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया है.