scorecardresearch
 

साइंस न्यूज़

ये है 16.4 करोड़ साल पुरानी कली का जीवाश्म. (फोटोःNIGPAS )

दुनिया की सबसे पुरानी कली मिली, 16.4 करोड़ साल है उम्र

21 जनवरी 2022

पुरातत्वविदों ने दुनिया की सबसे पुरानी कली (Flower Bud) के जीवाश्म को खोज लिया है. यह कली चीन के इनर मंगोलिया इलाके में मिली है. इसकी उम्र 16.4 करोड़ साल है. इस खोज के बाद से वैज्ञानिकों की फूलों वाले पौधों की उत्पत्ति की धारणा बदल गई है. क्योंकि यह कली जुरासिक काल (Jurassic Period) की है. जुरासिक काल 14.5 करोड़ से 20.1 करोड़ साल के बीच था.

दुनिया के सबसे बड़े आलू का होगा DNA टेस्ट, जान‍िए क्यों

21 जनवरी 2022

न्यूजीलैंड के हैमिल्टन के पास रहने वाले कोलिन और डोना क्रेग-ब्राउन ने पिछले साल अगस्त में अपने खेत में एक बेहद बड़ा आलू निकाला. यह उनके घर के पीछे बने सब्जियों के खेत से निकला था. इन दोनों ने आलू का नाम Dug रख दिया. इस एक आलू का वजन 7.8 किलोग्राम था. जिसने इसे दुनिया का सबसे बड़ा आलू होने का प्रतियोगी बनाया. अब वैज्ञानिक इसका डीएनए जांच करके यह पता करना चाहते हैं कि यह आलू ही है या कुछ और. कोलिन और डोना को फिलहाल इस बात की चिंता है कि जब तक जांच होगी तब तक Dug अपना वजन खो देगा. वह सूख जाएगा और उसमें मोल्ड्स निकल आएंगे. इसलिए उन्होंने आलू को खास तरह के कवर करके फ्रीजर में रख दिया है ताकि उसके सूखने की प्रक्रिया धीमी हो जाए.

दक्षिण भारत समेत कई एशियाई देशों में सौर तूफान का 'कहर'

21 जनवरी 2022

24 घंटे पहले दक्षिण भारत समेत दक्षिण पूर्व एशिया में सौर तूफान ने हिट किया है. यह M Class का तूफान था. इससे किस तरह का नुकसान हुआ है, इसकी रिपोर्ट तो नहीं आई है. कुछ देशों में इसकी जांच चल रही है. लेकिन यह सौर तूफान सूरज के सक्रिय इलाके AR12929 से निकला था. यह इलाका सूरज और धरती की लाइन के ठीक सामने 71 डिग्री के कोण पर स्थित था. सौर तूफान को कोरोनल मास इजेक्शन (CME) कहते हैं.

ब्रेन डेड मरीज के शरीर में लगाई सुअर की दोनों किडनी, क्लीनिकल ट्रायल जल्द

21 जनवरी 2022

भविष्य में आपको अगर किसी अंग की जरूरत पड़े तो हो सकता है कि आपको किसी डोनर की जरूरत न पड़े. किसी सुअर का अंग आपके शरीर में लगा दिया जाए. हाल ही में सुअर का दिल लगाया गया था. अब वैज्ञानिकों ने जेनेटिकली मॉडिफाइड सुअर की दो किडनी एक ब्रेन डेड इंसान के शरीर में प्रत्यारोपित की. जिसने सही तरीके यूरिन का फ्लो बनाए रखा और इंसान के शरीर ने किडनी को रिजेक्ट नहीं किया.

कुत्तों में फैली रहस्यमयी बीमारी, उलटी-डायरिया की शिकायत

21 जनवरी 2022

उत्तरी इंग्लैंड के इलाकों में इन दिनों एक रहस्यमयी बीमारी फैली है. इसकी वजह से कुत्ते परेशान हैं. वो बीमार हो रहे हैं. ज्यादातर कुत्ते समुद्र के किनारे मॉर्निंग या इवनिंग वॉक के बाद बीमार पड़े. लोगों की शिकायत है कि कुत्तों को वॉक के बाद उलटी और डायरिया हो रहा है. इन्हें किस तरह की बीमारी हुई है यह पता नहीं चल पा रहा है, न ही बीमारी के सोर्स का.

आंखों को देखकर पता चलेगा कि आप कब मरने वाले हैं, नई रिसर्च

21 जनवरी 2022

आंखों में देखने से प्यार, गुस्सा, नफरत, खुशी, डर और मौत तक दिख सकती है. आप मौत को भी आंखों में देख सकते हैं, वह भी मरने से कई महीनों और साल पहले. इंग्लैंड में वैज्ञानिकों ने एक ऐसा एल्गोरिदम (Algorithm) तैयार किया है, जो सिर्फ आपकी आंखों की रेटिना की स्कैनिंग करके यह बता देगा कि आपकी मौत कितने दिन, महीने या साल में होने वाली है.

Delhi-NCR: जमीन से निकला जा रहा है बेहिसाब पानी, धंस सकता है बड़ा इलाका

20 जनवरी 2022

दिल्ली-NCR में जमीन के अंदर से इतना ज्यादा पानी निकाला जा रहा है कि इसके कुछ हिस्से भविष्य में कभी भी धंस सकते हैं. ये बात यूके, जर्मनी और बॉम्बे के साइंटिस्ट अपनी स्टडी में कह रहे हैं. दिल्ली-NCR का करीब 100 वर्ग किलोमीटर का इलाका धंसने की हाई रिस्क जोन में है. इस स्टडी को किया है कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के पीएचडी शोधार्थी शगुन गर्ग, IIT Bombay से प्रो. इंदू जया, अमेरिका की साउदर्न मेथोडिस्ट यूनिवर्सिटी के वामशी कर्णम और जर्मन सेंटर फॉर जियोसाइंसेस के प्रो. महदी मोटाघ ने.

ज्यादा तेजी से ठंडा हो रहा धरती का केंद्र, Mars बन जाएगी पृथ्वी!

19 जनवरी 2022

हमारी धरती तेजी से पथरीले ग्रहों के जैसी होती जा रही है. ये बुध या मंगल ग्रह की तरह बन जाएगी. वह भी उम्मीद से ज्यादा गति से. एक नए रिसर्च में पता चला है कि धरती का केंद्र यानी गर्म मैग्मा वाला इलाका अपनी तय गति की तुलना में ज्यादा तेज ठंडा हो रहा है. अगर ऐसा हो रहा है तो वैज्ञानिकों को फिर से धरती की परतों और उनकी गणित, केमिस्ट्री, जियोलॉजी आदि सब फिर से पढ़नी पढ़ेगी. आइए समझते हैं असल में धरती के केंद्र में हो क्या रहा है.

धरती पर जीवन पैदा करने वाले प्रोटीन का पता चला!

19 जनवरी 2022

धरती पर पहला जीवन लाने के लिए जिस प्रोटीन को जिम्मेदार माना जाता है, शायद उसकी खोज कर ली गई है. ऐसा वैज्ञानिकों का मानना है. अगर वैज्ञानिक सही हैं तो धरती पर जीवन की शुरुआत को लेकर एक नए रहस्य से खुलासा होगा. साथ ही यह पता चलेगा कि धरती पर जीवन की शुरुआत कैसे और किन परिस्थितियों में हुई थी.

7.8 किलोग्राम का है न्यूजीलैंड के हैमिल्टन में मिला आलू. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

दुनिया के सबसे बड़े आलू का होगा DNA टेस्ट

19 जनवरी 2022

न्यूजीलैंड के हैमिल्टन के पास रहने वाले कोलिन और डोना क्रेग-ब्राउन ने पिछले साल अगस्त में अपने खेत में एक बेहद बड़ा आलू निकाला. यह उनके घर के पीछे बने सब्जियों के खेत से निकला था. इन दोनों ने आलू का नाम Dug रख दिया. इस एक आलू का वजन 7.8 किलोग्राम था. जिसने इसे दुनिया का सबसे बड़ा आलू होने का प्रतियोगी बनाया. अब वैज्ञानिक इसका डीएनए जांच करके यह पता करना चाहते हैं कि यह आलू ही है या कुछ और.

Israel के Arrow Weapon System ने अंतरिक्ष में लंबी दूरी की मिसाइल मार गिराई. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

Israel ने वायुमंडल के बाहर मिसाइल को किया ध्वस्त, Arrow का सफल टेस्ट

18 जनवरी 2022

इजरायल ने मंगलवार यानी 18 जनवरी 2022 को धरती की वायुमंडल के बाहर लंबी दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल को ध्वस्त कर दिया. इसके लिए उसने एक नए हथियार प्रणाली की टेस्टिंग की. इस प्रणाली का नाम है ऐरो वेपन सिस्टम (Arrow Weapon System).

Golden Blood: सिर्फ 43 लोगों के पास ये खून...जानिए क्यों है दुर्लभ?

18 जनवरी 2022

गोल्डेन ब्लड (Golden Blood) उन लोगों के शरीर में होता है, जिनका Rh फैक्टर null होता है. यानी Rh-null. इस तरह के खून वाले लोगों के Rh सिस्टम में 61 संभावित एंटीजन की कमी होती है.

अमेरिका की नदी में बनी बर्फीली गोल तश्तरी, पहली बार 2019 में दिखी थी

18 जनवरी 2022

अमेरिका के उत्तर में स्थित माएन प्रांत की एक नदी में गोल बर्फीली तश्तरी बन गई है. यह तश्तरी प्रांत के वेस्टब्रुक काउंटी की प्रीसम्पकोट नदी में बनी है. इसे वहां लोग डक कैरोसल (Duck Carousel) बोलते हैं. यह तश्तरी गोल-गोल घूमती रहती है. यह दुर्लभ प्राकृतिक प्रक्रिया है, जिसे देखने के लिए काफी संख्या में पर्यटक आते हैं.

सबसे भयानक ज्वालामुखी विस्फोट, 2300 KM तक सुनाई पड़ा धमाका

18 जनवरी 2022

न्यूजीलैंड के पास दक्षिणी प्रशांत महासागर में इतना भयानक ज्वालामुखी विस्फोट हुआ कि धरती के चारों तरफ हवा के दबाव की एक लहर यानी शॉक वेव दो बार दौड़ गई. ज्वालामुखी से शुरू हुई शॉकवेव उत्तरी अफ्रीका में जाकर खत्म हुई और फिर वहां से वापस उठी तो ज्वालामुखी तक आ गई. जैसे तालाब में कंकड़ फेंकने से लहर उठती है. इस ज्वालामुखी का नाम है टोंगा (Tonga Volcano). धमाके की आवाज 2300KM तक स्पष्ट सुनाई दी.

नई खोजः बाहरी ग्रह पर मिली Oxygen, जहां पिघल रहे पत्थर...

18 जनवरी 2022

Oxygen जीवन की शुरुआत के लिए बेहद जरूरी है. अगर इस गैस की स्टडी की जाए तो किसी भी ग्रह के बारे में बहुत कुछ पता चल सकता है. लेकिन अगर यह किसी ग्रह पर कम है तो वहां पर पत्थर भी पिघल सकते हैं. वजह है नमक और पिघलती हुई बर्फ. ये बर्फ और नमक पत्थरों को पिघला देते हैं. एक नई स्टडी में यह खुलासा हुआ है कि हमारे सौर मंडल से बाहर एक ग्रह (Exoplanet) पर ऑक्सीजन है लेकिन उससे क्या असर हो रहा है, वो हैरान करने वाला है.

वैज्ञानिकों ने खोजा, कैसे एक कोशिका अपनी मौत को दे सकती है धोखा?

18 जनवरी 2022

शरीर की कोशिकाएं कई तरीकों से मर सकती हैं. लेकिन वैज्ञानिकों ने ऐसी कोशिकाएं भी खोजी हैं, जो अपनी मौत को भी धोखा दे सकती हैं. आमतौर पर कोशिकाएं संक्रमण के समय में खुद को विस्फोट करके मार लेती हैं. ताकि दूसरी कोशिकाओं तक संक्रमण न जाए. यह पूरे शरीर को बचाने के लिए दी गई कुर्बानी होती है. आइए समझते हैं शरीर की इस जटिल प्रक्रिया को बेहद सरल और सामान्य भाषा में...

22 KM ऊपर धुआं, 4 फीट ऊंची सुनामी... समुद्र में फटा ज्वालामुखी

17 जनवरी 2022

दक्षिण प्रशांत महासागर में हाल ही में समुद्र के अंदर एक भयानक ज्वालामुखी विस्फोट हुआ. जिससे निकला धुआं 22 किलोमीटर ऊपर तक गया. विस्फोट इतना तेज था कि उससे निकलने वाली शॉकवेव से 4 फीट ऊंची सुनामी आ गई. यह नजारा अंतरिक्ष से भी दिखाई दिया. धरती की मॉनिटरिंग करने वाले सैटेलाइट्स ने इस विस्फोट को कैद किया.

धरती पर शुरू हो चुका छठा सामूहिक विनाश, इंसान हैं जिम्मेदार!

17 जनवरी 2022

धरती पर छठा सामूहिक विनाश (Sixth Mass Extinction) शुरू हो गया है. दुनिया के कुछ बड़े वैज्ञानिकों और संस्थानों का तो यही मानना है. क्योंकि इससे पहले हुए पांच सामूहिक विनाश की घटनाएं तो प्राकृतिक थीं, लेकिन ये वाली इंसानी गतिविधियों की वजह से हो रही है. करोड़ों की संख्या में अलग-अलग प्रजातियों की जीवों की मौत हो रही है. इसके पीछे जिम्मेदार इंसान हैं.

लव, सेक्स और धोखा के पीछे होते हैं वैज्ञानिक कारण...इन लक्षणों से होती है पहचान

17 जनवरी 2022

किसी से प्यार करने और उसी समय दूसरे को धोखा देने के लक्षण क्या हैं? यह सब होता है आपके दिमाग के रसायनों की वजह से. आप जिस समय किसी से प्यार करते हैं, उस समय आपके दिमाग में एक केमिकल रिएक्शन होता है, जिसकी वजह से आपको उसके आगे बाकी दुनिया या फिर आपके सबसे करीबी भी बेकार या गलत लगने लगते है. इसके कुल मिलाकर 13 वैज्ञानिक कारण हैं.

ये है कुंगास के कंकाल, जिन्हें हाल ही में खोजा गया है. (फोटोः ग्लेन श्वार्ट्ज/जॉन्स हॉपकिंस यूनिवर्सिटी)

4600 साल पुराना बायोइंजीनियर्ड हाइब्रिड जानवर मिला, वैज्ञानिक परेशान

17 जनवरी 2022

बायोइंजीनियरिंग नई बात नहीं है. हाइब्रिड जानवर हजारों साल पहले भी होते थे. हाल ही में पुरातत्वविदों को एक प्राचीन बायोइंजीनियर्ड हाइब्रिड जानवर का कंकाल मिला है. यह करीब 4600 साल पुराना है. इसे प्राचीन समय में कुंगास (Kungas) कहते थे. यह घोड़ा था या गधा यह तय नहीं हो पाया है लेकिन यह सीरिया में पाए जाने वाले जंगली गधों जैसा था.

सूरज के बाद चीन ने बनाया 'नकली चांद', जहां ग्रैविटी खत्म

17 जनवरी 2022

नकली सूरज के बाद चीन ने 'नकली चांद' (Artificial Moon) भी बना लिया है. नकली चांद बनाने के पीछे गुरुत्वाकर्षण से संबंधित एक प्रयोग करना था, जिसमें नकली चांद से ग्रैविटी पूरी तरह खत्म हो जाती है. इसमें चुंबकीय शक्ति की परख की गई, ताकि भविष्य में चुंबकीय शक्ति से चलने वाले यान और यातायात के नए तरीके खोजे जा सकें.