scorecardresearch
 

पर्व-त्यौहार

आपकी राशि पर कब चढ़ेगी शनि की साढ़ेेसाती, किस वर्ष रहेंगे परेशान?

10 जून 2021

Shani Jayanti 2021: इस बार शनि जयंती कल यानी 10 जून को पड़ रही है. शनि न्याय के देवता और दंडाधिकारी हैं. ज्योतिषों की मानें तो शनि की साढ़ेसाती अलग-अलग राशियों पर अलग-अलग प्रभाव डालती है. शनि के बुरे प्रभाव से व्यक्ति रंक और अच्छे प्रभाव से राजा तक बन सकता है.

Photo Credit: Getty Images

वट सावित्री व्रत आज, जानें पूजन विधि, शुभ मुहूर्त और कथा

10 जून 2021

Vat Savitri Vrat 2021: इस दिन शादीशुदा महिलाओं पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं और वट के पेड़ की पूजा करती हैं. इस व्रत का महत्व करवा चौथ जैसा ही है. इस दिन महिलाओं वट यानी बरगद के पेड़ की पूजा कर पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं.

आज मनाई जा रही है मासिक शिवरात्रि

मासिक शिवरात्रि आज, इस पूजन विधि से प्रसन्न होंगे भोलेनाथ

08 जून 2021

मासिक शिवरात्रि का व्रत बहुत प्रभावशाली होता है. इस दिन उपवास रखने और भगवान शिव की सच्चे मन से आराधना करने से सारी मनोमनाएं पूरी हो जाती हैं. ये व्रत रखने और पूजा करने वाले लोगों की सारी समस्याएं दूर होती हैं.

Pradosh Vrat 2021: सोम प्रदोष व्रत आज, जानें इसकी महिमा और पूजन विधि

सोम प्रदोष व्रत आज, जानें इसकी महिमा और पूजन विधि

07 जून 2021

हर महीने की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत किया जाता है. सोमवार के दिन प्रदोष व्रत पड़ने से इसका महत्व और बढ़ जाता है. इस व्रत के प्रभाव से चन्द्रमा अपना शुभ फल देता है.

vat savitri vrat

कब है वट सावित्री व्रत? जानें व्रत कथा और इसका महत्व

06 जून 2021

Vat Savitri Vrat 2021: हिंदू कैलेंडर के अनुसार, वट सावित्री व्रत ज्येष्ठ मास की अमावस्या तिथि को किया जाता है. इस दिन सुहागन स्त्रियां बरगद के पेड़ की पूजा करती हैं और अपने पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं. वट सावित्री व्रत सौभाग्य प्राप्ति के लिए एक बड़ा व्रत माना जाता है. हिंदू पंचांग के अनुसार, इस साल वट सावित्री व्रत 10 जून दिन गुरूवार को रखा जाएगा.

वट सावित्री व्रत के दिन लगेगा साल का पहला सूर्य ग्रहण, जानें क्या है खास

05 जून 2021

इस वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून दिन गुरुवार को लगने जा रहा है. इस दिन वट सावित्री व्रत भी है. ये त्योहार ज्येष्ठ महीने की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है. खास बात ये है कि इस दिन शनि जयंती भी पड़ रही है. शास्त्रों के अनुसार, शनि जयंती को शनिदेव के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है. वट सावित्री व्रत उत्तर भारत के सबसे लोकप्रिय त्योहारों में से एक है.

apara ekadashi

Apara Ekadashi 2021: आज है अपरा एकादशी, जानें पूजा-विधि और इसका महत्व

04 जून 2021

हिन्‍दू पंचांग के अनुसार ज्येष्ठ मास में कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को अपरा एकादशी के रूप में मनाया जाता है. इस दिन भगवान विष्णु की विशेष पूजा की जाती है. इस बार अपरा एकादशी 6 जून यानी आज है. माना जाता है कि इस दिन पूरे विधि-विधान से पूजा करने से भगवान विष्णु की असीम कृपा मिलती है.

विनायक चतुर्थी

कब है ज्येष्ठ मास की विनायक चतुर्थी, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

30 मई 2021

हिंदू कैलेंडर के अनुसार, हर महीने में दो चतुर्थी तिथि आती हैं जिन्हें भगवान श्री गणेश की तिथि माना जाता है. प्रत्येक माह में शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को विनायक चतुर्थी कहा जाता है. मान्यताओं के अनुसार, इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने से मनचाहा वरदान प्राप्त किया जा सकता है.

आज मनाई जा रही है बुद्ध पूर्णिमा

बुद्ध पूर्णिमा आज, जानें शुभ मुहूर्त और इस दिन का महत्व

26 मई 2021

आज वैशाख पूर्णिमा है. आज के दिन ही भगवान गौतम बुद्ध का जन्म हुआ था. ऐसी मान्यताा है कि बुद्ध पूर्णिमा पर वातावरण में विशेष ऊर्जा आ जाती है. इस दिन चंद्रमा पूर्णिमा पृथ्वी और जल तत्व को पूर्ण रूप से प्रभावित करता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार चन्द्रमा पूर्णिमा तिथि के स्वामी माने जाते हैं. इसलिए बुद्ध पूर्णिमा के दिन हर तरह की मानसिक समस्याओं से मुक्ति मिल सकती है.

आज नरसिंह जयंती मनाई जा रही है

नृसिंह जयंती आज, इस पूजन विधि से दूर होंगे सारे संकट

25 मई 2021

भगवान नृसिंह शक्ति और पराक्रम के देवता माने जाते हैं. भगवान नरसिंह, श्रीहरि विष्णु के उग्र और शक्तिशाली अवतार कहे जाते हैं. मान्यता है कि इनकी पूजा-अर्चना करने से हर तरह के संकट से रक्षा होती है. देश के हर कोने में भगवान नृसिंह की पूजा होती है लेकिन खासतौर पर दक्षिण भारत में भगवान नृसिंह को वैष्‍णव संप्रदाय के लोग संकट के समय रक्षा करने वाले देवता के रूप में पूजते हैं.

शनि जयंती

Shani Jayanti 2021: कब है शनि जयंती? ऐसे करें शनिदेव को प्रसन्न

23 मई 2021

ज्योतिष शास्त्र में शनिदेव सभी नवग्रहों में बहुत अहम माने जाते हैं. शनिदेव न्याय प्रिय देवता हैं और मनुष्य को उसके कर्मों के आधार पर फल देते हैं. हिंदू पंचांग में ज्येष्ठ मास की अमावस्या तिथि को शनि जयंती मनाई जाती है. इस बार शनि जयंती 10 जून दिन गुरुवार को मनाई जाएगी.