scorecardresearch
 

Tokyo Olympics: अनुभवी अचंत शरत कमल टोक्यो में कर पाएंगे कमाल?

अचंत शरत कमल उन युवा खिलाड़ियों के लिए आदर्श हैं, जो टेबल टेनिस को अपना करियर बनाना चाहते हैं. अचंत चौथी बार ओलंपिक में भाग ले रहे हैं, जो टेबल टेनिस में भारतीय रिकॉर्ड है.

Achanta Sharath Kamal Achanta Sharath Kamal

अचंत शरत कमल
उम्र- 39 
खेल- टेबल टेनिस 
वर्ल्ड रैंकिंग- 32 (पुरुष एकल) 

अचंत शरत कमल उन युवा खिलाड़ियों के लिए आदर्श हैं, जो टेबल टेनिस को अपना करियर बनाना चाहते हैं. अचंत चौथी बार ओलंपिक में भाग ले रहे हैं, जो टेबल टेनिस में भारतीय रिकॉर्ड है. टोक्यो ओलंपिक में अचंत पुरुष एकल के अलावा मनिका बत्रा के साथ मिक्स्ड डबल्स में भी चुनौती पेश करेंगे. 

चेन्नई से ताल्लुक रखने वाले अचंत ने 2003 में टेबिल टेनिस की राष्ट्रीय चैम्पियनशिप जीतकर सुर्खियां बटोरीं. इसके बाद 2004 में उन्होंने कुआलालंपुर में आयोजित 16वीं राष्ट्रमंडल टेबिल टेनिस चैम्पियनशिप का व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीता. फिर 2006 के मेलबर्न राष्ट्रमंडल खेलों में उन्होंने दो स्वर्ण पदक जीतकर अपनी श्रेष्ठता एकबार फिर साबित की. 

2008 के बीजिंग ओलंपिक की व्यक्तिगत स्पर्धा में भाग लेने वाले वह इकलौते भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी थे. इसके बाद उन्होंने 2010 में मिशिगन में आयोजित यूएस टेबल टेनिस चैम्पियनशिप जीती. उसी साल अचंत ने दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में शुभाजीत साहा के साथ मिलकर मेन्स डबल्स का गोल्ड जीतने में भी सफलता हासिल की. बाद में 2018 के गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में भी अचंत ने एक स्वर्ण समेत तीन पदक जीते. 

टोक्यो का सफर: अचंत शरत कमल ने मार्च 2021 में आयोजित हुए एशियन ओलंपिक क्वालिफायर के जरिए टोक्यो ओलंपिक में जगह बनाई है. पुरुष एकल में अचंत ने इस प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग के आधार पर ओलंपिक का कोटा हासिल किया. वहीं, मिक्स्ड डबल्स में अचंत और मनिका बत्रा फाइनल मुकाबले में कोरियाई जोड़ी सांग सु ली और जिही जनियोन को मात देकर क्वालिफाई करने में सफल रहे. 

हालिया प्रदर्शन: अचंत शरत कमल ने मार्च 2021 में आयोजित हुए डब्ल्यूटीटी स्टार कंटेंडर टूर्नामेंट में भाग लिया था. लेकिन, वह टूर्नामेंट के प्री-क्वार्टर फाइनल में जर्मनी के दिमित्री ओवचारोव से पराजित हो गए. इसके बाद अचंत ने विश्व एकल ओलंपिक क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट में चुनौती पेश की. जहां वह दूसरे दौर में इटली के निएगोल स्तोयानोव से पराजित होकर प्रतियोगिता से बाहर हो गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें