scorecardresearch
 

Kane Williamson: 'जो हुआ वो काफी दुखद...', यॉर्कशायर काउंटी से जुड़े नस्लवाद विवाद पर बोले केन विलियमसन

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने क्रिकेट में नस्लवाद के मामलों की निंदा की है. विलियमसन यॉर्कशायर टीम के लिए खेल चुके है जिसपर नस्लवाद का आरोप लगा था.

X
केन विलियमसन केन विलियमसन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पिछले साल छाया रहा क्रिकेट में नस्लवाद विवाद
  • अजीम रफीक ने यॉर्कशायर पर लगाए थे आरोप

पिछले साल नस्लवाद के मुद्दे को लेकर इंग्लिश क्रिकेट में भूचाल मच गया था. तब इंग्लिश अंडर -19 टीम के पूर्व कप्तान अजीम रफीक ने अपनी पूर्व काउंटी टीम यॉर्कशायर पर संगीन आरोप लगाए थे. अब न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने यॉर्कशायर काउंटी से जुड़े नस्लवाद विवाद की निंदा की है. 31 साल के विलियमसन 2014- 218 के दौरान यॉर्कशायर के लिए काउंटी क्रिकेट खेल चुके हैं.

नस्लवाद की कोई जगह नहीं: विलियमसन

हेडिंग्ले में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच जारी तीसरे टेस्ट से पहले केन विलियमसन ने कहा, 'जो कुछ सामने आया है उसे देखकर बहुत दुख हुआ. मैं केवल यह आशा कर सकता हूं कि इससे कुछ सकारात्मक निकले और जागरूकता बढ़े. खेल या समाज में नस्लवाद या भेदभाव के लिए कोई जगह नहीं है. मैं यहां कुछ संक्षिप्त समय के लिए था और यॉर्कशायर में अपने टाइम का आनंद लिया. पूरी दुनिया में इसे लेकर बड़े पैमाने पर जागरूकता फैलाई जा रही है.'

क्या आरोप लगाया था रफीक ने?

अजीम रफीक ने आरोप लगाया था कि उन्हें यॉर्कशायर में एक बाहरी व्यक्ति की तरह महसूस कराया गया. इन सब चीजों के चलते वह अपनी जान देने के बारे में सोचने लगे थे. अजीम रफीक के आरोपों के बाद इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने यॉर्कशायर के होम ग्राउंड हेडिंग्ले से इंटरनेशनल मुकाबलों की मेजबानी छीन ली थी. वैसे, अब एक बार फिर न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच जारी तीसरे टेस्ट मैच से हेडिंग्ले में इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हो चुकी है.

दूसरे टेस्ट से बाहर रहे थे विलियमसन

केन विलियमसन की बात करें तो उन्होंने कोविड-19 पॉजिटिव होने के चलते इंग्लैंड के खिलाफ दूसरा टेस्ट मैच मिस किया था. अब हेडिंग्ले टेस्ट मैच के जरिए उन्होंने कीवी टीम मेंअपनी वापसी की है. न्यूजीलैंड की टीम पहले दो मुकाबल हारकर सीरीज पहले ही गंवा चुकी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें