scorecardresearch
 

दिल्ली में 900 लोग होंगे क्वारनटीन, मोहल्ला क्लीनिक का डॉक्टर निकला था कोरोना पॉजिटिव

सऊदी से लौटी एक महिला ने मौजपुर के मोहल्ला क्लीनिक में इलाज कराया था. इस महिला से मोहल्ला क्लीनिक के डॉक्टर को कोरोना हुआ और फिर डाक्टर की पत्नी और बेटी को. अब मौजपुर इलाके के 900 लोगो को क्वारंटीन किया जाएगा.

मोहल्ला क्लिनिक की फाइल फोटो मोहल्ला क्लिनिक की फाइल फोटो

  • डॉक्टर के संक्रमित होने के बाद लिया गया फैसला
  • दो दिन बाद सभी मोहल्ला क्लिनिक खोले गए

दिल्ली में 900 लोगों को क्वारनटीन किया जाएगा. दरअसल, सऊदी से लौटी एक महिला ने मौजपुर के मोहल्ला क्लीनिक में इलाज कराया था. इस महिला से मोहल्ला क्लीनिक के डॉक्टर को कोरोना हुआ और फिर डाक्टर की पत्नी और बेटी को. अब मौजपुर इलाके के 900 लोगो को क्वारंटीन किया जाएगा.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने बताया कि शमा नाम की महिला, जो सऊदी अरब से आई थी, वह 12 मार्च को मौजपुर मोहल्ला क्लिनिक में डॉक्टर गोपाल झा से मिली. इस महिला के चलते से डॉ. गोपाल झा, उनकी पत्नी और उनकी बेटी समेत कुल 8 लोग और संक्रमित हुए. डॉक्टर गोपाल अभी ठीक हैं. करीब 900 लोगों को क्वारनटीन किया जाएगा.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

दो दिन बाद खुले सभी मोहल्ला क्लिनिक

मोहल्ला क्लिनिक के डॉक्टर के पॉजिटिव मिलने के बाद पूरी दिल्ली के मोहल्ला क्लिनिक को बंद कर दिया गया था. दो दिन बाद यानी आज फिर से सभी क्लिनिक खोल दिए गए हैं. इससे पहले मौजपुर समेत सभी मोहल्ला क्लिनिक को सेनिटाइज किया गया. डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ को सावधानी बरतने की हिदायत दी गई है.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

दिल्ली में अब तक 31 केस, एक की मौत

कोरोना को लेकर पूरे देश में लॉकडाउन है. करोड़ों लोग घरों में कैद रहने को मजबूर हैं और इसी बीच भारत में कोरोना मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 639 पहुंच गया है. मध्य प्रदेश में 5 नए मामले आए हैं. वहीं कोरोना से अबतक देश में 15 लोगों की मौत हुई है. दिल्ली में अब तक कोरोना के 31 मामले सामने आए हैं, जिसमें एक की मौत हुई है.

केजरीवाल बोले- दिल्लीवाले न हों परेशान

दिल्ली में लॉकडाउन की वजह से लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा था कि राजधानी में किसी भी तरह से जरूरी चीजों की कमी नहीं होने दी जाएगी. मूलभूत जरूरतों को पूरा करना सरकार की जिम्मेदारी है. ध, सब्जी, खाने की चीजें, दवाई जरूरी चीजें जरूरत पड़ने पर आपके घरों तक पहुंचाई जाएंगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें