scorecardresearch
 

नॉलेज

नॉलेज

नॉलेज

नॉलेज

नॉलेज यानी ज्ञान (Knowledge) को तथ्यों के बारे में जागरूकता या व्यावहारिक कौशल के रूप में परिभाषित किया जा सकता है. तथ्यों का ज्ञान को अक्सर औचित्य के आधार पर राय या अनुमान से अलग मापा जाता है. जबकि दार्शनिकों के बीच व्यापक सहमति है कि यह सच्चे अनुभूति और समझ का एक रूप है. 

ज्ञान का उत्पादन कई अलग-अलग तरीकों से किया जा सकता है. सबसे महत्वपूर्ण स्रोत धारणा है, जो पांच इंद्रियों के उपयोग को संदर्भित करता है (Five Sense Organs). कई सिद्धांतकारों ने आत्मनिरीक्षण को ज्ञान के स्रोत के रूप में भी शामिल किया है. बाहरी भौतिक वस्तुओं का नहीं, बल्कि स्वयं की मानसिक अवस्थाओं का. अक्सर चर्चा किए गए अन्य स्रोतों में स्मृति, तर्कसंगत अंतर्ज्ञान और अनुमान शामिल हैं (Internal Knowledge). 

ज्ञान के स्रोत, ऐसे तरीके हैं जिनसे लोगों को चीजों का पता चलता है. अकादमिक साहित्य में ज्ञान के विभिन्न स्रोतों पर मानसिक संकायों के संदर्भ में चर्चा की जाती है. उनमें धारणा, आत्मनिरीक्षण, स्मृति और अनुमान शामिल हैं. हालांकि, हर कोई इस बात से सहमत नहीं है कि वे सभी वास्तव में ज्ञान की ओर ले जाते हैं. आमतौर पर, धारणा या अवलोकन, यानी पांच इंद्रियों में से एक का उपयोग करना, सबसे महत्वपूर्ण स्रोत के रूप में माना जाता है. किताबी ज्ञान या व्यवहारिक ज्ञान इंसान के लिए आवश्यक है. कई बार किताब से ज्ञान प्राप्त करते है लेकिन ज्ञानी नहीं हो पाते हैं (Achievement of Knowledge). 

और पढ़ें

नॉलेज न्यूज़