scorecardresearch
 

देखते ही देखते जमींदोज हो गया नेपाल का 'कुतुबमीनार'

नेपाल में शनिवार को आए भयंकर भूकंप से 19वीं सदी का नौ मंजिला धरहरा टावर पूरी तरह धराशायी हो गया. 1832 का में बना यह टावर भूकंप के भयानक झटकों के बाद मटियामेट हो गया.

X
धरहरा टावर की भूकंप से पहले और बाद की तस्वीर धरहरा टावर की भूकंप से पहले और बाद की तस्वीर

नेपाल में शनिवार को आए भयंकर भूकंप से 19वीं सदी का नौ मंजिला धरहरा टावर पूरी तरह धराशायी हो गया. 1832 का में बना यह टावर भूकंप के भयानक झटकों के बाद मटियामेट हो गया.

'इसलिए खास था धरहरा टावर'
सन् 1832 में नेपाल के पहली प्रधानमंत्री भीमसेन थापा द्वारा बनवाया गया यह टावर एक प्रतिष्ठित स्मारक था. इसका निर्माण एक सैन्य निगरानी टावर के रूप में किया गया था, जो बाद में काठमांडू का एक मुख्य ऐतिहासिक स्थल बन गया. बताया जाता है कि इसे नेपाल का कुतुबमीनार कहा जाता था. धरहरा को 10 साल पहले ही पर्यटकों के लिए खोला गया था.

भूकंप से थर्राया पूरा नेपाल
7.9 मैग्नीट्यूड वाले भूकंप से नेपाल में हर तरफ मौत और मातम का मंजर पसरा हुआ है. अभी तक 1500 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर है. नेपाल की राजधानी काठमांडू में 500 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें