scorecardresearch
 

न्यूज़

अब ट्रेन से भी सप्लाई किया जा रहा ऑक्जीजन (फोटो: PTI)

किल्लत के बीच राज्यों को भेजी जाएगी 6177 मीट्रिक टन ऑक्सीजन, पीयूष गोयल बोले- कंट्रोल में रखें डिमांड

19 अप्रैल 2021

कई राज्यों के अस्पतालों में मरीजों को इसके लिए काफी परेशानी उठानी पड़ रही है. इस बीच केंद्र सरकार की ओर से राज्यों के साथ संपर्क साधा गया है और एक दर्जन से अधिक राज्यों को तुरंत अधिक मात्रा में ऑक्सीजन सप्लाई करने का फैसला किया गया है. 

कब थमेगी कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर कितनी भयावह?

18 अप्रैल 2021

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर जब अपने पीक पर पहुंचेगी तब क्या होगा, सोचकर डर लगता है. अगर इस वायरस का संक्रमण नहीं थमेगा तो परिस्थितियां भयावह होने वाली हैं. कहां जाएं, कैसे बचें, कैसे कोरोना का सामना करें, कोई उपाय सामने नहीं आ रहा है. कोरोना संक्रमण के मामले हर दिन 2 लाख से ज्यादा आ रहे हैं. दूसरी लहर में कोरोना संक्रमण के मामले बेहद तेज रफ्तार से आगे बढ़ रहे हैं. ऐसे में कैसे लोगों की जान बचे, अहम सवाल ये है. देखें रिपोर्ट.

कोरोना: अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी, मर रहे हैं मरीज, देखें ये रिपोर्ट

18 अप्रैल 2021

एक तरफ देश में लगातार दो लाख से ज्यादा मरीज आ रहे, दूसरी तरफ स्वास्थ्य व्यवस्थाएं एकदम ध्वस्त हो चुकी है. अस्पतालों में बेड से लेकर ऑक्सीजन का संकट उत्पन्न हो गया है. जहां मध्य प्रदेश के शहडोल में ऑक्सीजन की कमी के चलते अब तक 12 मरीजों की मौत हो गई है. वहीं ऐसा ही नजारा वाराणसी और चंडीगढ़ में भी देखने को मिला. ऑक्सीजन की कमी से नालंदा के सुपरिटिंडेंट ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से गुजारिश की उन्हें तुरंत अस्पताल की जिम्मेदारी से मुक्त कर दिया जाए. बिहार के पटना का भी यही हाल देखने को मिल रहा है. देखें वीडियो.

कोरोना: संकट सर के ऊपर आने के बाद क्यों जागे? देखें क्या बोले TMC प्रवक्ता

18 अप्रैल 2021

पिछले 4 दिनों से देशभर में 2 लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर मदद न करने का आरोप लगाया है. वहीं टीएमसी पर संकट सर के ऊपर आने के बाद जागने का आरोप लग रहा है. इसपर टीएमसी प्रवक्ता मनोजीत मंडल ने कहा कि हमें कोरोना के पहले वेब के समय काम नहीं करने दिया गया. साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार पर वैक्सीन के कम डोजेस देने का आरोप लगाया. वीडियो में जानिए मनोजीत मंडल ने और क्या कहा. देखें वीडियो.

कोरोना से लड़ने में PM केयर फंड से क्या किया? कांग्रेस प्रवक्ता का मोदी सरकार पर हमला

18 अप्रैल 2021

देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है. इस बीच कोरोना से लड़ने में पीएम केयर फंड को लेकर भी सवाल उठना शुरू हो गया है. इसपर कांग्रेस प्रवक्ता ने केंद्र सरकार पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि देश के अस्पतालों में इस समय बेड, ऑक्सीजन औऱ सुविधाओं की कमी देखी जा रही है. साथ ही उन्होंने इसपर भी सवाल उठाया कि कोरोना से लड़ने को मिले पीएम केयर फंड का सरकार ने पिछले एक सालों में क्या किया. देखें वीडियो

महाराष्ट्र, दिल्ली, राजस्थान... केंद्र पर लगा रहे मदद न करने का आरोप, BJP प्रवक्ता ने दिया जवाब

18 अप्रैल 2021

देशभर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. ऐसें में महाराष्ट्र, दिल्ली और राजस्थान जैसे राज्यों ने केंद्र सरकार पर मदद न करने और ऑक्सीजन की सप्लाइ न करने का आरोप लगाया है. इसपर बीजेपी नेता अपराजिता सारंगी ने कहा कि स्थिति काफी भयावह है. उन्होंने अभी सभी को साथ आकर काम करना चाहिए. अभी दोषाऱोपण का समय नहीं है. उन्होंने डिमांड और सप्लाइ के मिसमैच को आक्सीजन और अन्य सुविधाओं में दिक्कत को वजह बताया है. देखें वीडियो.

अस्पताल दर अस्पताल भटकते परिजन, हर तरफ दम तोड़ रहीं जिंदगियां!

18 अप्रैल 2021

देश में कोरोना संक्रमण के बीते 24 घंटे में 2,61,500 नए केस सामने आए हैं. देशभर में बीते 24 घंटे में 1,500 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. अस्पातल भर चुके हैं. गंभीर मरीजों को भी जगह नहीं मिल रही है. ऑक्सीजन और वेंटिलेटर्स के अभाव में लोग दम तोड़ रहे हैं. लेकिन बर्बादी की ये कहानी मौत के बाद भी खत्म नहीं हो रही है. मौत के बाद अंतिम संस्कार के लिए लंबी लाइनें लगी हैं. देखें रिपोर्ट.

दिल्ली में ICU के बचे 100 से भी कम बेड, बेबस दिखे केजरीवाल!

18 अप्रैल 2021

दिल्ली में कोरोना संक्रमण का स्तर बेहद खतरनाक स्तर पर पहुंच गया है. दिल्ली में आईसीयू बेड्स और ऑक्सीजन की किल्लत देखने को मिल रही है. दिल्ली में सिर्फ 100 ऑक्सीजन बेड्स बचे हैं. दिल्ली के स्कूलों को अस्पताल बनाने की तैयारी चल रही है. दिल्ली बेहद भयावह स्थिति से गुजर रही है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज बेहद बेबस नजर आए. उन्होंने दिल्ली के अस्पतालों की बदहाली, खुद बयान की. देखें वीडियो.

नीतीश कुमार, मुख्यमंत्री, बिहार

Newswrap: पढ़ें, रविवार शाम की पांच बड़ी खबरें...

18 अप्रैल 2021

कोरोना के बेकाबू होते मामले को देखकर नीतीश सरकार ने 15 मई तक सभी स्कूल-कॉलेज बंद रखने के निर्देश दिए हैं. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा है कि प्रदेश में हालात बेहद खराब हैं. अस्पताल में ICU बेड तक नहीं मिले हैं. वहीं अब देश के अलग-अलग हिस्सों में रेलवे के माध्यम से लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (LMO) को पहुंचाया जा सकेगा.

कोरोना मरीज के न‍िगेट‍िव होने के क‍ितने द‍िन बाद लोगों से म‍िलना सही, AIIMS डायरेक्टर से जानें

18 अप्रैल 2021

कोरोना आंकड़े लगातार बढ़ रहे हैं. महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और दिल्ली जैसे राज्यों में हालात काफी चिंताजनक है. ऐसे में संक्रमण से निकलकर बाहर आने वाले लोगों से कितने दिन बाद मिलना सही है. एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने बताया कि शुरूआती गाइडलाइन था कि 2 दिन बाद कोरोना निगेटिव लोगों से मिला जा सकता है, लेकिन बाद में यह दो हफ्तों का हो गया. डॉ गुलेरिया ने बताया कि रिसर्च में यह भी सामने आया है कि अगर 10 दिनों पहले आप संक्रमण के शिकार हुए हैं और कई दिनों से बुखार नहीं आया है. तो आप लोगों से मिल सकते है. उस समय वायरस संक्रामक नहीं रह जाएगा. देखें वीडियो.

वीकेंड कर्फ्यू से काबू होगा कोरोना, दिल्ली में कोरोना पर सख्ती?

18 अप्रैल 2021

दिल्ली में कोरोना के केस बढ रहे हैं लेकिन इसके साथ ही सख्ती भी बढाई जा रही है. दिल्ली में दो दिनों का वीकेंड कर्फ्यू है तो सड़कों पर बाजारों में सन्नाटा है. लगातार बढ़ते कोरोना संकट ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है. बिना वजह बताए बाहर निकलने वालों पर सख्ती बरती जा रही है. जमीनी हालात मुंबई में भी सन्नाटा है. लोगों ने कोरोना के डर से खुद को घर के अंदर कैद कर लिया है. देखें खास कार्यक्रम, सईद अंसारी के साथ.