scorecardresearch
 

गाज़ियाबादः बुजुर्ग दंपति की हत्या का सनसनीखेज खुलासा, शोरूम मालिक समेत 4 गिरफ्तार

इस कत्ल का खुलासा सिहानी गेट थाना पुलिस ने किया है. पुलिस के मुताबिक दंपति का नौकर सुंदर इस हत्याकांड का मास्टरमाइंड है. जिसने बुजुर्ग दंपति के घर कई वर्षों तक नौकरी की थी. इसी की एवज में बुजुर्ग दंपत्ति ने उसे रहने के लिए घर भी दे रखा था. मगर नौकर को लगता था कि इतने वर्षों बाद भी उसे कुछ हासिल नहीं हुआ.

X
पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सुंदर नामक नौकर ने बदले की खातिर किया था डबल मर्डर
  • शोरूम मालिक समेत 4 लोग साजिश में थे शामिल
  • उधार वसूली को लेकर था नरूला का विवाद

उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद में दीवाली की रात बुजुर्ग दंपति के कत्ल का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है. इस मर्डर केस में पुलिस ने रॉयल एनफील्ड शोरूम के मालिक रोहित नरूला समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया है. जिनमें सुंदर नाम का वो नौकर भी शामिल है, जिसने बदसलूकी और किराया वसूली को लेकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया था. उसने ये डबल मर्डर रोहित नरूला के कहने पर किया था. 

मामला गाजियाबाद के पटेल नगर इलाके का था. जहां बीती 4 तारीख को बुजुर्ग दंपति अशोक जैदका और उनकी पत्नी मधु की हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड को बेरहमी से अंजाम दिया गया था. दोनों बुजुर्गों के सिर पर हथौड़े से हमला करके उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया था. 

अब इस मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बुजुर्ग दंपति के नौकर और एक बाइक शोरूम के मालिक समेत चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. दरअसल मृतक अशोक जैदका, रोहित नरूला की एक विवादित प्रॉपर्टी के केस में गवाह था. वो गवाही से मुकर गया था. इसलिए रोहित ने 1 करोड़ से अधिक की देनदारी से बचने के लिए उसी के नौकर सुंदर से उन दोनों की हत्या कराई थी.

इसे भी पढ़ें--- पटना मॉडल मर्डर: लेडी मास्टरमाइंड और कत्ल की खौफनाक साजिश का खुलासा 

इस मामले का खुलासा अब सिहानी गेट थाना पुलिस ने किया है. पुलिस के मुताबिक दंपति का नौकर सुंदर इस हत्याकांड का मास्टरमाइंड है. जिसने बुजुर्ग दंपति के घर कई वर्षों तक नौकरी की थी. इसी की एवज में बुजुर्ग दंपत्ति ने उसे रहने के लिए घर भी दे रखा था. मगर नौकर सुंदर को लगता था कि इतने वर्षों बाद भी उसे कुछ हासिल नहीं हुआ. इसके अलावा बुजुर्ग दंपति का व्यवहार सुंदर के साथ ठीक नहीं था. कुछ समय पहले उन दोनों ने सुंदर को नौकरी से निकाल दिया था. जिससे वह गुस्से में था.

इसलिए सुंदर ने बुजुर्ग दंपति से बदला लेने के लिए प्लान बनाया था. सुंदर ने बुजुर्ग दंपति के पड़ोस में रहने वाले कबाड़ी आजाद और अपने एक साथी अतुल के साथ मिलकर दीपावाली की रात बुजुर्गों की बेरहमी से हत्या कर दी थी. 

पुलिस के मुताबिक रोहित नरूला ने भी सुंदर का साथ दिया था. रोहित नरूला एक शोरूम का मालिक है. रोहित नरूला और मृतक दंपति आपस में परिचित थे. दंपति ने मोटी रकम बतौर उधार रोहित नरूला को दे रखी थी. रोहित नरूला उस उधारी की रकम को नहीं चुकाना चाहता था. इसलिए उसने सुंदर की मंशा पता चलते ही सुंदर को रुपये का लालच देकर दंपति की हत्या करने के लिए उकसाया था. इस मामले में अब आरोपी सुंदर और रोहित नरूला समेत चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.

ये भी पढ़ेंः

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें