scorecardresearch
 

बिहार के सीतामढ़ी डबल मर्डर : पिता-पुत्र की हत्या, बचाने आई बेटी की पीठ में भी घोंपा चाकू

बिहार के सीतामढ़ी में डबल मर्डर से सनसनी फैल गई. यहां पिता-पुत्र की चाकू गोदकर हत्या कर दी गई. पिता और भाई को बचाने आई नाबालिग बेटी को भी आरोपियों ने पीठ में चाकू मार दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस बल की तैनाती कर दी गयी है.

X
पिता-पुत्र की चाकू गोदकर हत्या  पिता-पुत्र की चाकू गोदकर हत्या

बिहार के सीतामढ़ी में पिता-पुत्र की चाकू गोदकर हत्या कर दी गई. इस डबल मर्डर से इलाके में सनसनी फैल गई है. घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. इलाके में तनाव को देखते हुए एहतियातन पुलिस बल की तैनात कर दिया गया है. 

मामला रीगा थाना क्षेत्र के पिपरा गांव की है. यहां के वार्ड संख्या 3 के 55 वर्षीय निवासी आस नारायण दास और उनका बेटा शिवम कुमार गुरुवार की रात घर में सो रहे थे. तभी गांव के ही रहने वाले उदय दास अपने 3 दोस्त के साथ वहां पहुंचा. दरवाजे पर सो रहे आस नारायण को चाकू मार दिया. वहीं, बचाव करने आए उनके पुत्र शिवम को भी चाकू मारा. इससे दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई. 

शोरगुल की आवाज सुनकर पिता और भाई को बचाने आई क्षमा कुमारी के भी पीठ में आरोपियों ने चाकू घोंप दिया. जिसमें वह बुरी तरह से जख्मी हो गई. स्थानीय लोगों की मदद से उसे इलाज के लिए सीतामढ़ी सदर अस्पताल भर्ती कराया गया है.   

महावीरी झंडा को लेकर हुआ था विवाद

जख्मी हालत में मृतक की बेटी क्षमा ने बताया, ' हम जब कोचिंग जाते थे तो आरोपी उदय रास्ते में हमें परेशान करता था. घटना की जानकारी हमनें अपने पिता और भाई को दी थी. इसलिए गुस्से में आरोपी ने ऐसा किया है.   

वहीं, स्थानीय लोगों कहना है कि महावीरी झंडा पूजा के दिन उदय व मृतक शिवम के साथ बकरे को लेकर विवाद हुआ था. उसी दिन से उदय दास शिवम व उसके पिता आस नारायणदास से खफा चल रहा था. उदय ने उसी विवाद का बदला लिया है.

मामले में एसपी हरकिशोर राय ने बताया, इस मामले की छानबीन की जा रही है. आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें