scorecardresearch
 

दिल्लीः जल्द अमीर बनने के लिए तस्कर बने थे दो भाई, 2 करोड़ की हेरोइन समेत गिरफ्तार

क्राइम ब्रांच के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि आरोपियों की पहचान साजिद और वाजिद के तौर पर हुई है. ये दोनों चचेरे भाई हैं. दोनों बरेली के रहने वाले हैं.

पुलिस ने तस्कर साजिद-वाजिद को गिरफ्तार कर लिया है पुलिस ने तस्कर साजिद-वाजिद को गिरफ्तार कर लिया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 6 साल से ड्रग्स की तस्करी में शामिल थे आरोपी
  • पहले थे पेडलर, बाद में बन गए सप्लायर
  • तेजी से ज्यादा पैसा कमाना चाहते थे आरोपी

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने ड्रग्स के धंधे में शामिल दो बड़े तस्करों को गिरफ्तार कर लिया है. पकड़े गए दोनों आरोपी चचेरे भाई हैं. पुलिस ने उनके कब्जे से 1 किलो हेरोइन बरामद की है. जिसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में दो करोड़ रुपये बताई जा रही है. क्राइम ब्रांच की टीम ने इन दोनों आरोपियों को दिल्ली के गाजीपुर इलाके से गिरफ्तार किया है. 

क्राइम ब्रांच के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि आरोपियों की पहचान साजिद और वाजिद के तौर पर हुई है. ये दोनों चचेरे भाई हैं. दोनों बरेली के रहने वाले हैं. ये दोनों आरोपी रॉ मैटेरियल से हेरोइन तैयार करने में माहिर हैं. इनमें से साजिद की उम्र 24 साल जबकि वाजिद 28 साल का है. क्राइम ब्रांच के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि दोनों आरोपियों ने पूछताछ में खुलासा किया है कि वह करीब 5 साल से हेरोइन की तस्करी में धंधे से जुड़े हुए थे. 

साजिद-वाजिद को रिमांड पर लेकर हेरोइन सप्लाई के मुख्य स्रोत को पकड़ने का प्रयास किया गया. उन्होंने हेरोइन बनाने के स्थान का भी उल्लेख किया, जो गंगा नदी के किनारे गांव भैरा के जंगल में मौजूद था. इनके पास से हेरोइन बनाने में प्रयुक्त बर्तन और गैस सिलेंडर भी बरामद किया गया है.

पढ़ें-- UP: पुलिस करती रही गश्त और चोरों ने उड़ाए 12 लाख रुपये के मोबाइल

साजिद अनपढ़ है. वह कपड़ों पर जरी लगाने का काम करता था. साजिद अपने सहयोगी के साथ वर्ष 2016 के दौरान पीएस फरदीपुर, बरेली में दर्ज एनडीपीएस मामले में भी आरोपी है. वह 2015 से आपराधिक गतिविधियों में सक्रिय बताया जा रहा है.

साजिद और वाजिद दोनों ने जल्दी और बहुत सारा पैसा कमाने के लिए बरेली के बाहर कुछ और दवा सप्लायरों से संपर्क किया. उन्होंने अवैध ड्रग्स के व्यापार में एक पेडलर के रूप में अपनी शुरुआत की थी, लेकिन जल्द ही वे हेरोइन के बड़े सप्लायरों में शुमार होने लगे. वे अपराध की सीढ़ी पर चढ़ते गए और उन दोनों ने बरेली और दिल्ली में भारी मात्रा में हेरोइन बनाना और बेचना शुरू कर दिया था. पुलिस उन दोनों से लगातार पूछताछ कर रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें