scorecardresearch
 

कटक

कटक

कटक

कटक

कटक (Cuttack), जिसे ओडिशा की व्यावसायिक राजधानी (Business capital of Odisha) के रूप में जाना जाता है, राज्य का सबसे पुराना और दूसरा सबसे बड़ा शहर है. नेताजी सुभाष चंद्र बोस और बीजू पटनायक का जन्मस्थान भी है (birthplace of Netaji Subhas Chandra Bose and Biju Patnaik). शहर एक सैन्य छावनी के रूप में शुरू हुआ और कई शासकों द्वारा शासित था और समृद्ध गौरवशाली इतिहास का दावा करता है.

महानदी डेल्टा (Mahanadi Delta) के शीर्ष पर स्थित, कटक को अपने पुराने इतिहास और लोकप्रिय चांदी के फिलाग्री कार्यों के कारण 'मिलेनियम सिटी' (Millennium City) और 'सिल्वर सिटी' (Silver City) भी कहा जाता है. अन्य भारतीय शहरों, विशेष रूप से कोलकाता के साथ कटक का अच्छा रेल और सड़क संपर्क इसे एक महत्वपूर्ण व्यापार केंद्र और एक नदी बंदरगाह बनाता है (River Port).

स्मारकों, मूर्तियों और स्मारकों के लिए प्रसिद्ध, कटक में एक उष्णकटिबंधीय जलवायु है और इसमें रसायन, हस्तशिल्प, कपड़ा और चमड़ा उद्योग हैं, जो इसे सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) उद्योगों का केंद्र बनाते हैं. शहर का जलवायु उष्णकटिबंधीय है (Cuttack Climate). 

दुर्गा पूजा सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है (Festival). उड़िया कटक की आधिकारिक भाषा है और यहां के लोग हिंदी और अंग्रेजी भी बोलते हैं (Language). यह शहर दहीबदास, आलुदम, मटन चॉप और रसगुल्ले जैसे व्यंजनों के लिए प्रसिद्ध है (Cuttack Food). दक्षिणपूर्वी तटरेखाओं के सबसे अधिक देखे जाने वाले शहरों में से एक, कटक बड़ी संख्या में पर्यटकों को आकर्षित करता है. शहर के कुछ पसंदीदा पर्यटन स्थलों में नेताजी जन्म स्थान संग्रहालय, कटक चंडी मंदिर, बाराबती स्टेडियम, हिरण पार्क, समुद्री संग्रहालय, नारज में मुंडाली बैराज, बाराबती किला, धबलेश्वर मंदिर और जोबरा बैराज हैं (Cuttack Tourist Places). बाली जात्रा कटक में आयोजित होने वाले सबसे बड़े व्यापार मेलों में से एक है, जिसमें रोजाना 4-5 लाख लोग आते हैं (Bali Jatra Trade).
 

और पढ़ें

कटक न्यूज़