scorecardresearch
 

तीसरी बार सीएम बन रहीं ममता बनर्जी को बिप्लब देब ने याद दिलाई राजनीतिक मर्यादा

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता सर्वोपरि होती है. उसके जनादेश का पालन करना चाहिए. पश्चिम बंगाल की जनता ने बीजेपी को मुख्य विपक्षी दल के लिए जनादेश दिया है. पार्टी जनादेश का आदर करते हुए सशक्त विपक्ष की भूमिका निभाएगी और पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल की जनता के विकास की कोशिश करेगी. 

बिप्लब देब, त्रिपुरा सीएम (फाइल फोटो) बिप्लब देब, त्रिपुरा सीएम (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ममता बनर्जी पर त्रिपुरा सीएम का निशाना
  • बिप्लब देब बोले, जनता ने दिया आपको जनादेश
  • राजनीतिक हिंसा को लेकर मर्यादा की दिलाई याद

ममता बनर्जी, तीसरी बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनने जा रहीं है. वहीं त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने ममता बनर्जी को राजनीतिक मर्यादा की याद दिलाई है. बिप्लब देब ने ममता बनर्जी को कहा है कि आप नंदीग्राम से चुनाव हारी हैं. जनता ने आपको जनादेश नहीं दिया है. व्यक्तिगत रूप से कहूं तो अगर मैं चुनाव हारा होता तो मुख्यमंत्री कभी नहीं बनता. पार्टी को अपना फैसला बता देता. अभी-अभी नंदीग्राम की जनता ने ममता बनर्जी को चुनाव में हराया है. वह जनता भी पश्चिम बंगाल की ही है कहीं बाहर की नहीं है. 

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता सर्वोपरि होती है. उसके जनादेश का पालन करना चाहिए. पश्चिम बंगाल की जनता ने बीजेपी को मुख्य विपक्षी दल के लिए जनादेश दिया है. पार्टी जनादेश का आदर करते हुए सशक्त विपक्ष की भूमिका निभाएगी और पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल की जनता के विकास की कोशिश करेगी. 

बीजेपी कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित करते हुए बिप्लब कुमार देब ने कहा कि पश्चिम बंगाल समेत सभी पांच राज्यों में बीजेपी का आधार बढ़ा है, पार्टी प्लस हुई है. पश्चिम बंगाल में पार्टी का मत प्रतिशत 10 से बढ़कर 38 के पार पहुंचा है. तो सीटों की संख्या भी 3 से 77 हुई है. आजादी के बाद यह पहला अवसर है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा में कांग्रेस पार्टी का एक भी विधायक नहीं है. 

वहीं राज्य में 34 साल तक शासन करने वाले वाम दल के भी एक भी विधायक विधानसभा में नहीं पहुंचे हैं. बीजेपी के परिणाम पर सवाल उठा रहे राजनीतिक पंडितों को आड़े हाथ लेते हुए देब ने कहा कि किसी को भी यह भूलना नहीं चाहिए कि बंगाल की राजनीति में सबसे कम समय में बीजेपी का ही उत्थान हुआ है.

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री ने कहा कि आप हार गईं तो षडयंत्र और जहां जीती हैं वहां क्या षड़यंत्र नहीं? उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी को नंदीग्राम की जनता ने हराया है. उन्हें नैतिकता का ख्याल रखना चाहिए. बिप्लब देब ने नंदीग्राम से चुनाव जीतने वाले शुभेंदू अधिकारी को बधाई देते हुए कहा है कि आप नंदीग्राम से चुनाव जीतने में सफल रहे हैं इसके लिए आपका अभिनंदन.

बंगाल हिंसा को लेकर देब का निशाना

पश्चिम बंगाल में चुनाव बाद जारी हिंसा को लेकर बिप्लब देब ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आडे़ हाथों लेते हुए कहा कि पड़ोसी राज्य असम में भी चुनाव हुए हैं. बीजेपी यहां दूसरी बार जीत कर आई है. मगर यहां कोई हिंसा नहीं हुई. पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद जारी हिंसा की निंदा करते हुए देब ने कहा कि तृणमूल सुप्रीमो को जल्द ही अपने काडर से अपील करनी चाहिए. ये उनका दायित्व है. बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हो रहे हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे. 

उन्होंने कहा कि चुनाव में राजनीतिक दलों की जीत-हार होती रहती है. मगर चुनाव बाद हिंसा को सभ्य समाज कतई भी बर्दाश्त नहीं कर सकता है. धैर्य बनाए रखने के लिए पश्चिम बंगाल के कार्यकर्ताओं को धन्यवाद करते हुए देब ने कहा कि आपकी ताकत कम नहीं है. पूरे देश के कार्यकर्ता आपके साथ हैं. 

उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के नेतृत्व में सभी पांचों राज्यों में बीजेपी ने अपना आधार बढ़ाया है. हर जगह पार्टी प्लस हुई है. असम में सरकार दोबारा बन रही है, पुडुचेरी में राजग की सरकार बन रही है. यहां पहली बार बीजेपी ने 6 सीटें जीती हैं.

उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी 3 सीट से 77 पर पहुंची है. इसके अलावा तमिलनाडु में भी पार्टी ने पहली बार 4 सीटें जीती हैं. कोयम्बटूर दक्षिण से कमल हासन को चुनाव हराने वाली वनिता श्रीनिवासन की तारीफ करते हुए बिप्लब देब ने त्रिपुरा बीजेपी की ओर से उनका अभिनंदन किया है. उन्होंने कहा कि केरल में भी पार्टी का वोट प्रतिशत बढ़ा है.

तृणमूल के हिंसा की राजनीति का बीजेपी करेगी पूरे देश में विरोध
बिप्लब देब ने कहा है कि तृणमूल के हिंसा की राजनीति का बीजेपी पूरे देशभर में विरोध करेगी. उन्होंने कहा कि 5 और 6 मई को देशभर में बीजेपी कार्यकर्ता, मंडल स्तर पर कोविड नियमों का पालन करते हुए पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस द्वारा किए जा रहे चुनाव बाद हिंसा के कृत्य का पर्दाफाश करेंगे.

उन्होंने कहा कि त्रिपुरा बीजेपी के बूथ स्तर के कार्यकर्ता समेत पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता और चुने हुए प्रतिनिधि 5 मई को शाम 7 बजे अपने घर के आगे 5 मोमबती जलाकर पश्चिम बंगाल में मारे गए बीजेपी कार्यकर्ता की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करेंगे. साथ ही ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस के इस कृत्य का विरोध करेंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें