scorecardresearch
 

राजनीति

मध्य प्रदेश उपचुनाव: शिवराज के ताज, कांग्रेस के आधार और स‍िंध‍िया की साख का इम्तेहान

30 अक्टूबर 2020

मध्य प्रदेश विधानसभा की 28 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं. इन सीटों पर चुनाव के नतीजे ना सिर्फ ये तय करेंगे कि शिवराज का ताज बचेगा कि नहीं बल्कि कांग्रेस के आधार और सिंधिया के सियासी वजूद का भी इम्तिहान लेंगे. जिन 28 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं उनमें 25 सीटें कांग्रेस विधायकों के पार्टी छोड़ने से खाली हुई हैं. तीन सीटें कांग्रेस के विधायकों की मौत होने से हुई. इनमें भी ग्वालियर-चंबल संभाग में 16 सीटें हैं. ये सीटें ग्वालियर राजघराने के ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव क्षेत्र में आते हैं. इसीलिए सिंधिया इसे कांग्रेस या बीजेपी की लड़ाई ना मानकर अपनी लड़ाई मान रहे हैं. मध्य प्रदेश विधानसभा 230 सदस्यों की है. इनमें से 29 सीटें खाली हैं यानी अभी सदन 201 सदस्यों की है. इसमें 106 सदस्यों के साथ बीजेपी बहुमत में है. वही अपने 28 सदस्यों के हटने से कांग्रेस 114 से घटकर 86 पर आ गई है. 28 सीटों पर चुनाव के बाद सदन 229 सदस्यों की हो जाएगी. इसमें बहुमत के लिए 115 सदस्य चाहिए. अगर बीजेपी 28 में 9 सीटें भी जीत जाती है तो शिवराज का राज कायम रहेगा.

पीएम मोदी (फाइल फोटो)

कश्मीर में 3 बीजेपी नेताओं की हत्या की PM मोदी ने की निंदा

30 अक्टूबर 2020

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू और कश्मीर के कुलगाम में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के तीन नेताओं की हत्या की निंदा की है. पीएम मोदी ने कहा कि हमारे 3 युवा कार्यकर्ताओं की हत्या की मैं निंदा करता हूं. वे जम्मू और कश्मीर में अच्छा काम कर रहे थे.

मायावती सपा से इतना नाराज कि पसंद आने लगा BJP का साथ!

29 अक्टूबर 2020

उत्तर प्रदेश में 3 नवंबर को विधानसभा की 7 सीटों के लिए उपचुनाव होंगे, लेकिन इससे भी ज्यादा राज्यसभा चुनाव को लेकर राजनीति में रोमांचक मोड़ आ गया है. इसमें बीएसपी सुप्रीमो मायावती समाजवादी पार्टी से इतना नाराज हो गई हैं कि उनको बीजेपी का साथ पसंद आने लगा है. यूपी में 10 सीटों पर हो रहे राज्यसभा के चुनाव ने रिश्ते को और खराब कर दिया. बीजेपी के पास 395 की विधानसभा में बीजेपी के पास 306 विधायक हैं. इनमें बीजेपी ने अपने 8 उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है जिनको जिताने के लिए 288 वोट चाहिए. वहीं समाजवादी पार्टी के पास 48 विधायक हैं और उसने एक उम्मीदवार रामगोपाल यादव को उतारा है जिनको जीतने के लिए 36 वोट चाहिए. बीएसपी के पास 18 विधायक हैं और उसने रामजी गौतम को मैदान में उतारा है जिनको जिताने के लिए अतिरिक्त 18 विधायक चाहिए. विपक्ष का आरोप है कि मायावती को बीजेपी का समर्थन मिल रहा है. इस बीच निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में कारोबारी प्रकाश बजाज ने पर्चा भर दिया जिनको समाजवादी पार्टी के 10 विधायकों ने प्रस्ताव दिया और बीएसपी के पांच विधायकों ने पार्टी से बगावत कर दी.

मोदी सरकार पर विपक्ष के नेताओं ने कसे थे तंज

पुलवामा हमले पर विपक्ष ने मोदी सरकार से किए थे सवाल, अब PAK ने कुबूला

29 अक्टूबर 2020

अब जब पाकिस्तान ने आधिकारिक तौर पर यह बात मान ली है कि पुलवामा अटैक में उसका हाथ था तो वो बातें भी प्रासंगिक हो जाती हैं जो उस वक्त हमारे तमाम राजनेताओं द्वारा कही गई थीं. तो आइए जानते हैं कि उस वक्त भारत के कुछ नेता केंद्र की मोदी सरकार को घेरने के लिए क्या कुछ कह रहे थे.

बीजेपी को भी समर्थन देने को तैयार मायावती! देखें क्या कहा

29 अक्टूबर 2020

राज्यसभा चुनाव में बगावत करने वाले सात विधायकों को बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने निलंबित कर दिया है. बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने विधायकों के निलंबन का ऐलान किया. इसके साथ ही मायावती ने कहा कि एमएलसी के चुनाव में बसपा जैसे को तैसा का जवाब देने के लिए पूरी ताकत लगा देगी. बीजेपी को वोट देना पड़ेगा तो भी देंगे. बीएसपी अध्यक्ष मायावती ने कहा कि एमएलसी के चुनाव में सपा के दूसरे उम्मीदवार को हराने के लिए पूरा जोर लगाएंगे. देखिए वीडियो.

(सांकेतिक फोटो)

पश्चिम बंगाल: कार्यकर्ता की हत्या के विरोध में BJP का 12 घंटे का बंद

29 अक्टूबर 2020

कुछ दिनों पहले एक बीजेपी कार्यकर्ता पर अज्ञात हमलावरों ने गोली से हमला किया था. जिसमें कार्यकर्ता जख्मी हो गया. बाद में उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया.

अभिनंदन पर पाक का कबूलनामा, नड्डा ने कांग्रेस पर बोला हमला

29 अक्टूबर 2020

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पाकिस्तान के मसले पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधा है. पाकिस्तान की संसद में विंग कमांडर अभिनंदन को छोड़ने के वाकये पर कबूलनामा किया गया है, उसी पर अब जेपी नड्डा ने कांग्रेस को घेरा है. बीजेपी अध्यक्ष ने लिखा कि कांग्रेस ने सेना का मजाक उड़ाया है, सेना की वीरता पर सवाल उठाया. दरअसल, हाल ही में पाकिस्तान से एक बयान सामने आया है जिसपर पाकिस्तान और भारत दोनों में ही चर्चा हो रही है. बालाकोट स्ट्राइक के बाद विंग कमांडर अभिनंदन के उसपार जाने और पाकिस्तान के अभिनंदन के छोड़ने के मसले पर बयान दिया गया. देखें वीडियो.

बिहार चुनाव: नीतीश ने बदला पाला, दोबारा वोटर देंगे साथ? क्या है एक्सपर्ट्स की राय

28 अक्टूबर 2020

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में पहले चरण का मतदान जारी है. पहले चरण में 16 जिलों की 71 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग हो रही है. पहले चरण में वोटिंग के लिए मतदान केंद्रों पर लोगों की लंबी कतारें लगी हुई हैं. 2015 के विधानसभा चुनाव के बाद नीतीश कुमार ने पाला बदलकर आरजेडी-कांग्रेस के साथ मिलकर महागठबंधन की सरकार बना ली थी. फिर कुछ समय बाद वह एनडीए में वापस आ गए. ऐसे में सवाल उठते हैं कि क्या नीतीश का पाला बदलना इस चुनाव में उन पर कोई असर डालेगा? क्या है एक्सपर्ट्स की राय, जानिए इस वीडियो में.

बिहार: पहले चरण की सीटों पर पिछली बार किसका था दबदबा? देखें

28 अक्टूबर 2020

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में पहले चरण का मतदान जारी है. पहले चरण में 16 जिलों की 71 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग हो रही है. पहले चरण में वोटिंग के लिए मतदान केंद्रों पर लोगों की लंबी कतारें लगी हुई हैं. 2015 के विधानसभा चुनाव की बात करें तो पहले चरण में 71 सीटों पर हुए मतदान में बीजेपी ने 13, आरजेडी ने 27, जेडीयू ने 18 और कांग्रेस ने 9 सीटों पर जीत हासलि की थी. देखें ये रिपोर्ट.

बिहार: कोई 'कमाने-खाने' के लिए चिंतित, कोई चाहे सुविधा! देखें क्या मांग रही जनता

28 अक्टूबर 2020

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में पहले चरण का मतदान जारी है. पहले चरण में 16 जिलों की 71 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग हो रही है. पहले चरण में वोटिंग के लिए मतदान केंद्रों पर लोगों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं. इसी बीच आजतक ने मतदाताओं से बातचीत की. कोई रोजगार के लिए चिंतित है तो कोई सुविधाओं के लिए परेशान है. देखें ग्राउंड रिपोर्ट.

बिहार: वोट‍िंग लाइन में हवा हुई सोशल डिस्टेंसिंग! देखें ग्रांउड रिपोर्ट

28 अक्टूबर 2020

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में पहले चरण का मतदान जारी है. पहले चरण में 16 जिलों की 71 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग हो रही है. पहले चरण में इसमें 2.14 करोड़ से ज्यादा मतदाता 1066 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे. पहले चरण में वोटिंग के लिए मतदान केंद्रों पर लोगों की लंबी-लंबी कतारें लगी हुई हैं. यह चुनाव कोरोना काल में हो रहा है लेकिन तस्वीरें देखकर अब ऐसा लगता है कि लोगों को कोरोना की कोई फिकर ही नहीं है. मतदान की लाइन में सोशल डिस्टेंसिंग हवा होती दिख रही है. देखें वीडियो.