scorecardresearch
 

राजनीति

समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव (फोटो: PTI)

Akhilesh Yadav Exclusive: राम मंदिर जमीन विवाद पर सपा प्रमुख बोले- इस्तीफा दें ट्रस्ट के सदस्य

15 जून 2021

उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होना है और उससे पहले ही राज्य में राजनीतिक गतिविधियां तेज़ हो गई हैं. इसी बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि केंद्र-प्रदेश में बीजेपी की सरकार है, फिर भी ये पंचायत चुनाव में बुरी तरह हारे हैं.

बड़ी संख्या में नेताओं को लेकर राज्यपाल से मिले थे शुभेंदु अधिकारी

बंगाल: राज्यपाल से मिलने पहुंचे शुभेंदु, BJP के 2 दर्जन MLA नदारद

15 जून 2021

भारतीय जनता पार्टी के नेता शुभेंदु अधिकारी की अगुवाई में पार्टी के विधायकों ने राज्यपाल से मुलाकात की और राज्य में चुनाव बाद हुई हिंसा का मसला उठाया. लेकिन इस मुलाकात के दौरान बीजेपी के करीब दो दर्जन विधायक गायब रहे, जिसके बाद अटकलें तेज़ हो गई हैं.  

संब‍ित पात्रा Vs अनुराग भदौर‍िया: अयोध्या लैंड डील पर देखें वार-पलटवार

15 जून 2021

अयोध्या में जमीन खरीद में बड़ी गड़बड़ी के संगीन आरोप लगे हैं. ये आरोप राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर लगे हैं. आरोप है कि ट्रस्ट ने 2 करोड़ की जमीन को साढ़े अठारह करोड़ में खरीदी. ये खरीददारी महज 10 मिनट में हुई. पहले दो लोगों ने जमीन को 2 करोड़ में खरीदा और फिर आरोप है कि इन दो लोगों से राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने साढ़े 18 करोड़ में खरीद लिया. राम मंदिर ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद सियासत गरमा गई है. इस मुद्दे पर बहस के दौरान आपस में भिड़ गए बीजेपी और समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता, देखें.

कांग्रेस आलाकमान से मिलने दिल्ली में पायलट का डेरा, क्यों नहीं हो सकी मुलाकात

15 जून 2021

राजस्थान में कांग्रेस का अंदरूनी रण खत्म होता नहीं दिख रहा है, क्योंकि सब कुछ अभी परदे में ही नज़र आ रहा है. अब तक सिर्फ इतना ही हुआ है कि गहलोत और पायलट में नाराजगी है, मगर पायलट की नाराजगी दूर होगी या नहीं, फिलहाल ये सवाल बना हुआ है. पायलट कांग्रेस के बड़े नेताओं से मिलने के लिए दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं, मगर कांग्रेस के नेताओं से फिलहाल उनकी मुलाकात ही नहीं हो सकी, देखिए क्यों.

LJP में चाचा-भतीजे की जंग, 248 दिन पहले ही पड़ चुकी थी दोनों में फूट

15 जून 2021

चाचा-भतीजा जंग की स्क्रिप्ट तो उसी समय लिखनी शुरू हो गई थी, जब रामविलास पासवान ने अपने बेटे चिराग को पार्टी की कमान सौंप दी थी. आग में घी तब पड़ा, जब चिराग ने विधानसभा चुनाव में जेडीयू के खिलाफ चुनाव लड़ने का फैसला कर लिया. पशुपति पारस इस फैसले से घायल थे तो वहीं जेडीयू घात में थी. मौका मिला तो चाचा ने पार्टी में तख्ता पलट कर दिया. देखें ये रिपोर्ट.

चिराग पासवान के ख‍िलाफ बगावत, पशुपति कुमार पारस के खेमे में ये 5 सांसद

14 जून 2021

करीब पांच साल पहले यूपी की सियासत में चाचा-भतीजा में जंग हुई थी, तब भतीजे अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल को पार्टी से बाहर करके पार्टी हथिया ली थी. अब चाचा-भतीजा की नई जंग बिहार में छिड़ी है. एलजेपी को चिराग पासवान के चाचा पशुपति पारस ने हाईजैक कर लिया. पारस ने 6 में से 5 सांसदों को अपने पाले में करके चिराग को दिन में ही तारे दिखा दिए. पशुपति कुमार पारस के खेमे में गए 5 सांसद कौन हैं, जानने के लिए देखिए ये रिपोर्ट.

BJP वर्कर्स 'घर वापसी' को बेताब, TMC दफ्तर के बाहर लगा रहे गुहार

14 जून 2021

बहुत पुरानी कहावत है, लौट के बुद्धू घर को आए. लेकिन ये कहावत फिलहाल बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर सटीक बैठ रही है, क्योंकि बंगाल चुनाव के पहले टीएमसी के जो कार्यकर्ता बीजेपी में शामिल हो गए थे, चुनाव के बाद वही कार्यकर्ता एक बार फिर जोर लगा रहे हैं कि वो बीजेपी छोड़कर वापस टीएमसी में शामिल हो जाएं. इतना ही नहीं, वापस टीएमसी में शामिल होने के लिए ये कार्यकर्ता टीएमसी दफ्तर पर धरना प्रदर्शन भी कर रहे हैं. देखिए ये रिपोर्ट.

लैंड डील विवाद अयोध्या में, यूपी की राजधानी से लेकर देश की राजधानी तक असर

14 जून 2021

अयोध्या, बरसो बरस से भारतीय राजनीति की धुरी पर घूम रही है, विवादों के अध्यायों से भरी पड़ी है, रामचरितमानस में तुलसीदास ने तो सिर्फ सात कांड लिखे हैं. मगर अयोध्या में विवादों के कितने कांड हैं, कहना मुश्किल है. क्योंकि अयोध्या की सियासत, सत्ता के सिंहासन को बचाने के लिए भी होती है और सत्ता को पाने के लिए भी होती है. इस बार भी वैसी ही सियासत हो रही है. जमीन खरीद का विवाद हुआ तो अयोध्या में है, मगर इसका असर प्रदेश की राजधानी से लेकर देश की राजधानी तक दिखाई दे रहा है. देखिए ये रिपोर्ट.

कांग्रेस ने पूछा- अयोध्या लैंड डील में जांच से डर क्यों? देखें संब‍ित पात्रा का जवाब

14 जून 2021

अयोध्या में जमीन खरीद में बड़ी गड़बड़ी के संगीन आरोप लगे हैं. ये आरोप राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर लगे हैं. आरोप है कि ट्रस्ट ने 2 करोड़ की जमीन को साढ़े अठारह करोड़ में खरीदी. ये खरीददारी महज 10 मिनट में हुई. पहले दो लोगों ने जमीन को 2 करोड़ में खरीदा और फिर आरोप है कि इन दो लोगों से राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने साढ़े 18 करोड़ में खरीद लिया. राम मंदिर ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद सियासत गरमा गई है. इस पूरे मामले पर जब कांग्रेस ने जांच के लिए कहा तो देखिए क्या बोले संब‍ित पात्रा.

अयोध्या में जमीन 10 म‍िनट में 9 गुना महंगी कैसे? संब‍ित पात्रा ने बताया

14 जून 2021

अयोध्या में जमीन खरीद में बड़ी गड़बड़ी के संगीन आरोप लगे हैं. ये आरोप राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट पर लगे हैं. आरोप है कि ट्रस्ट ने 2 करोड़ की जमीन को साढ़े अठारह करोड़ में खरीदी. ये खरीददारी महज 10 मिनट में हुई. पहले दो लोगों ने जमीन को 2 करोड़ में खरीदा और फिर आरोप है कि इन दो लोगों से राम जन्मभूमि ट्रस्ट ने साढ़े 18 करोड़ में खरीद लिया. राम मंदिर ट्रस्ट पर भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद सियासत गरमा गई है. इस पूरे मामले पर क्या बोले बीजेपी प्रवक्ता संब‍ित पात्रा.

अखिलेश यादव और लालू यादव की मुलाकात

दिल्ली में लालू यादव से मिले अखिलेश, शेयर की ये तस्वीर

14 जून 2021

राजद सुप्रीमो के साथ अखिलेश की ये मुलाकात यूपी में आगामी चुनावों को लेकर काफी अहम मानी जा रही है. बता दें कि लालू यादव और सपा के मुखिया मुलायम सिंह यादव के बीच पारिवारिक संबंध हैं. दोनों के बीच समधी का रिश्ता है.