scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: पुलिसकर्मियों से भरे ई-रिक्शा के पलटने का ये वीडियो उत्तर प्रदेश का नहीं है

इंडिया टु़डे ने अपनी पड़ताल में पाया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है. वीडियो उत्तर प्रदेश का नहीं बल्कि राजस्थान के दौसा का है.

यह घटना यूपी की नहीं, राजस्थान की है यह घटना यूपी की नहीं, राजस्थान की है

पानी से लबा-लब सड़क पर ई-रिक्शा के पलटने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो को लेकर यूजर्स खूब चुटकी ले रहे हैं, क्योंकि पलटते हुए दिख रहे इस ई-रिक्शा में कुछ पुलिसकर्मी बैठे हुए हैं. वीडियो को उत्तर प्रदेश का बताते हुए लोग सीएम योगी आदित्यनाथ पर तंज कर रहे हैं.

"पश्चिमी यूपी कांग्रेस सेवा दल" के वेरीफाईड ट्विटर हैंडल से भी वीडियो को साझा किया गया है. ट्वीट के कैप्शन में लिखा है "आज तो @myogiadityanath @myogioffice जी के 'विकास' में उत्तर प्रदेश पुलिस डूब ही जाती। बाल बाल बचे ". ट्वीट को कई लोग लाइक और रीट्वीट कर चुके हैं. 

इसी तरह और भी यूजर्स ने वीडियो को उत्तर प्रदेश का बताकर फेसबुक और ट्विटर पर शेयर किया है. वायरल ट्वीट का आर्कइव यहां देखा जा सकता है.

क्या है सच्चाई?

इंडिया टु़डे ने अपनी पड़ताल में पाया कि वीडियो के साथ किया जा रहा दावा गलत है. वीडियो उत्तर प्रदेश का नहीं बल्कि राजस्थान के दौसा का है.

कुछ कीवर्ड की मदद से खोजनें पर हमें "दैनिक भास्कर" की एक रिपोर्ट मिली जिसमें वायरल वीडियो का एक फ्रेम मौजूद था. 1 अक्टूबर को प्रकाशित हुई इस खबर के अनुसार, ये हादसा दौसा जिले के बांदीकुई कस्बे में हुआ था. पुलिसकर्मियों से भरा ये ई-रिक्शा एक गड्ढे में फंसने के कारण पलट गया था.

ई-रिक्शा चालक को सड़क पर पानी भरा होने की वजह से गड्ढा दिखाई नहीं दिया था. खबर में लिखा है कि हादसे में किसी को भी गंभीर चोट नहीं आई थी. बांदीकुई में गुरुवार को 40 मिनट तक तेज बारिश हुई थी जिस वजह से सड़कें लबालब हो गईं थीं.

"नवभारत टाइम्स" और "पंजाब केसरी" ने भी वीडियो को लेकर खबरें की हैं और इसे राजस्थान के दौसा की ही घटना बताई है. 

इसे लेकर यूपी पुलिस ने भी कांग्रेस सेवा दल के ट्वीट का खंडन किया है और लिखा है कि वीडियो राजस्थान के दौसा का है, न कि उत्तर प्रदेश का. यहां हमारी जांच में स्पष्ट हो जाता है कि वीडियो के साथ भ्रामक दावा किया गया है कि ये यूपी का है. पुलिसकर्मियों से भरा ये ई-रिक्शा हाल ही राजस्थान में पलटा था.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

वीडियो में देखा जा सकता है कि कैसे उत्तर प्रदेश में पानी से लबालब सड़क पर पुलिसकर्मियों से भरा ये ई-रिक्शा पलट गया.

निष्कर्ष

वीडियो उत्तर प्रदेश का नहीं बल्कि राजस्थान के दौसा का है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें