scorecardresearch
 

आतंकी मॉड्यूलः अली बुदेश की हत्या के लिए डी गैंग ने जान मोहम्मद उर्फ समीर कालिया को भेजा था बहरीन

इस पूरी आतंकी साजिश के पीछे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई तो काम कर ही रही थी. साथ ही इस मामले में अंडरवर्ल्ड कनेक्शन का खुलासा होने की खबर ने भारतीय एजेंसियों की चुनौती बढ़ा दी है.

X
अली बुदेश की हत्या के लिए समीर कालिया को बहरीन भेजा गया था अली बुदेश की हत्या के लिए समीर कालिया को बहरीन भेजा गया था
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अली बुदेश की हत्या कराना चाहता था डी गैंग
  • डी गैंग ने जान मोहम्मद उर्फ समीर कालिया को भेजा था बहरीन

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और अंडरवर्ल्ड के आतंकी मॉड्यूल को लेकर एक अहम खुलासा और हुआ है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के हत्थे चढ़े डी गैंग के शूटर जान मोहम्मद शेख़ उर्फ़ समीर कालिया को मोस्ट वॉन्टेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम ने ही बहरीन भिजवाया था. दाऊद ने उसे अपने जानी दुश्मन को मरवाने के लिए 2019 में बहरीन भेजा था. आज तक/इंडिया टुडे के पास उस वक्त की तस्वीर भी मौजूद है, जब जान मोहम्मद उर्फ़ समीर कालिया बहरीन में था.

स्पेशल सेल ने दाऊद के भाई अनीस के इशारे पर काम करने वाले जिस जान मोहम्मद शेख़ उर्फ़ समीर कालिया को गिरफ़्तार किया है, वो समीर कालिया डी गैंग के इशारे पर एक बार मुंबई से बहरीन गया था. डी गैंग ने समीर कालिया को टास्क दिया था कि वो बहरीन में मौजूद दाऊद इब्राहिम और छोटा शकील के जानी दुश्मन अली बुदेश को वहीं गोली मार दे. डी गैंग ने इस टास्क के लिए समीर को मोटी रकम भी दी थी.

प्लान के मुताबिक जान मोहम्मद शेख उर्फ़ समीर कालिया बहरीन पहुंचा और अली बुदेश के हर ठिकाने की रेकी करने लगा. लेकिन अली बुदेश को डी गैंग के प्लान की भनक लग गई और उल्टा अली बुदेश ने जान मोहम्मद उर्फ़ समीर कालिया पर नज़र रखनी शुरू कर दी. जानकारी के मुताबिक जान मोहम्मद  पासपोर्ट संख्या- R7618106 से जरिए बहरीन गया था. आज तक/इंडिया टुडे के पास बहरीन में मौजूद समीर कालिया की वो फोटो भी है, जब वो वहां मौजूद था.

इसे भी पढ़ें-- पंजाब में भी पकड़ा गया टेरर मॉड्यूल, हैंड ग्रेनेड-पिस्टल बरामद, पाकिस्तान से था कनेक्शन 

डी गैंग ने प्लान बनाया था कि पहले समीर कालिया अली बुदेश की रेकी करेगा फिर दुबई से 2 और लोग बहरीन जाएंगे और अली बुदेश को खत्म कर देंगे. लेकिन अली बुदेश को इस साजिश की भनक लग गई फिर बुदेश ने बहरीन के पुलिस अथॉरिटीज़ से समीर कालिया को पकड़वा दिया और फसे भारत भिजवा दिया.

कौन है अली बुदेश

कभी दाऊद इब्राहिम का दोस्त रहा अली बुदेश, अब दाऊद का जानी दुश्मन है. वो दाऊद को मारने की कसम खा चुका है. अली बुदेश अपने कई इंटरव्यू में दाऊद को मारने की धमकी दे चुका है. वैसे तो डी गैंग अपने किसी दुश्मन को नहीं छोड़ता लेकिन बहरीन में अली बुदेश का सिक्का ठीक वैसा ही चलता है ,जैसा की पाकिस्तान में दाऊद इब्राहिम का. इसलिए डी गैंग कभी अली बुदेश पर हमला नहीं कर पाया.

दिल्ली पुलिस अब डी गैंग के ऑपरेशन बहरीन के बारे में समीर कालिया से पूछताछ कर रही है. आपको बता दें कि समीर कालिया को साल 2019 में डी गैंग ने अली बुदेश को मारने के लिए बहरीन भेजा था. साल 2019 में ही अली बुदेश ने आज तक/इंडिया टुडे को दिए गए एक इंटरव्यू में दाऊद और शकील को भिखारी कहा था. उसके बाद से ही डी गैंग के लोग काफ़ी ग़ुस्से में थे.

ज़रूर पढ़ें-- प्यार के लिए दी दर्दनाक मौत! लड़के का कत्ल कर प्राइवेट पार्ट काटा, लड़की का गला घोंटा

दरअसल, साल 2019 में दाऊद और छोटा शकील ने बीजेपी के विधायकों और नेताओं को धमकी भरे मैसेज़ करवाए थे और ये धमकी भरे मैसेज़ अली बुदेश के नाम से किए गए थे. जिसमें नेताओं से पैसे मांगे जा रहे थे. पैसे न देने पर जान से मारने की धमकी दी गयी थी. उस वक्त अली बुदेश ने आरोप लगाया था कि दाऊद और शकील उसके नाम पर ये सब कर रहे हैं. आज तक/इंडिया टोडे को बहरीन में मौजूद अली बुदेश ने मैसेज़ भेज कर ये कन्फ़र्म किया है कि समीर कालिया मुझे मारने आया था, लेकिन यहां उसे स्पॉट कर लिया गया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें