scorecardresearch
 

दिल्ली: पिता ने किया अपने दो बच्चों को किडनैप, दादी से मिलवाने के लिए उठाया ये कदम

बताया जा रहा कि आरोपी इमरान की शादी 2004 में शमीमा खातून से हुई थी. महिला मूक बधिर है. ऐसे में इमरान ने कुछ समय बाद पत्नी को छोड़ दिया. ऐसे में शमीमा अपने 7 साल के बेटे और ढाई साल की बेटी के साथ संगम विहार इलाके में रहती है. वह दूसरों के घर में जाकर काम कर अपने बच्चों का पेट पालती है.

X
पिता ने ही किया बच्चों को किडनैप पिता ने ही किया बच्चों को किडनैप
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मूक बधिर पत्नी से अलग रह रहा था पति
  • पत्नी के पास रह रहे थे बच्चे

दिल्ली की संगम विहार पुलिस ने एक ऐसे पिता को गिरफ्तार किया, जिसपर अपने दो मासूम बच्चों को किडनैप करने का आरोप लगा. पुलिस ने बच्चों को बरामद कर मां को सौंप दिया है. पुलिस पूछताछ में शख्स ने बताया कि वह बच्चों को उनकी दादी से मिलवाना चाहता था, लेकिन उसकी पत्नी ऐसा नहीं करने दे रही थी. इसके बाद उसे मजबूर होकर ये कदम उठाना पड़ा. 

बताया जा रहा कि आरोपी इमरान की शादी 2004 में शमीमा खातून से हुई थी. महिला मूक बधिर है. ऐसे में इमरान ने कुछ समय बाद पत्नी को छोड़ दिया. ऐसे में शमीमा अपने 7 साल के बेटे और ढाई साल की बेटी के साथ संगम विहार इलाके में रहती है. वह दूसरों के घर में जाकर काम कर अपने बच्चों का पेट पालती है. 

शमीमा ने महिला आयोग में की शिकायत 
पुलिस के मुताबिक, शमीमा ने 10 सितंबर को महिला आयोग के सदस्यों के साथ थाने पहुंचकर शिकायक दर्ज कराई थी कि उसके दो बच्चे लापता हैं. पुलिस ने आईपीसी की धारा 363 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी. लेकिन महिला बोल नहीं सकती थी, ऐसे में वह अपने पति का भी पता नहीं बता पा रही थी. 

पुलिस ने पड़ोसियों से पूछताछ कर महिला के रिश्तेदार नासिर का मोबाइल नंबर पता किया. नासिर सऊदी अरब में रहता है. नासिर ने पुलिस को बताया कि महिला का पति इमरान बिहार के सिवान का रहने वाला है. इसके बाद पुलिस ने उसके घर पर छापेमारी की मगर वह बच्चों को लेकर वहां से फरार हो गया. 
 
चलती बस से पुलिस ने किया गिरफ्तार
पुलिस टीम ने महिला के बहनोई अफताब अंसारी को हिरासत में लेकर पूछताछ की. इसके बाद पता चला कि इमरान बिहार नंबर की बस से बच्चों के साथ दिल्ली आ रहा है. इसके बाद पुलिस ने गाजियाबाद से चलती बस में छापेमारी कर इमरान को गिरफ्तार किया. पूछताछ में इमरान ने बताया कि वह बच्चों को अपनी मां यानी उनकी दादी से मिलवाना चाहता था. लेकिन शमीमा बच्चों को उनसे नहीं मिलने दे रही थी. ऐसे में उसने बच्चों को अगवा कर लिया. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें