scorecardresearch
 

आतंकी मॉड्यूलः निशाने पर थे ब्रिज और रेलवे ट्रैक, 93 की तर्ज पर करना चाहते थे सीरियल ब्लास्ट

इस पूरे आतंकी मॉड्यूल का असली मास्टरमाइंड उसैदुर रहमान है, जो पाकिस्तान में ट्रेनिंग लेने वाले आरोपी ओसामा का पिता है आज तक को मिली जानकारी के मुताबिक वो दुबई में रहकर एक मदरसा चलाता है. वो आईएसआई के संपर्क में है.

X
इस आतंकी मॉड्यूल ने 1993 की तर्ज पर आतंक मचाने का खाका तैयार किया था. इस आतंकी मॉड्यूल ने 1993 की तर्ज पर आतंक मचाने का खाका तैयार किया था.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • धमाकों में होना था RDX का इस्तेमाल
  • 1993 की तरह किए जाने थे धमाके
  • पुल और रेलवे लाइन थे निशाने पर

दिल्ली पुलि्स की स्पेशल सेल ने जिस आतंकी मॉड्यूल का खुलासा किया है, उसके कारिंदे अपने पाकिस्तानी आकाओं के इशारे पर बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थे. इस मामले में पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में कई अहम राज उगले हैं. सूत्रों के मुताबिक पकड़े गए आरोपी देश में 1993 की तर्ज पर धमाके करने फिराक में थे. उनके निशाने पर पुल और रेल की पटरियां भी थी.
 
पुलिस सूत्रों के मुताबिक आरोपी जीशान और ओसामा जब ट्रेनिंग के लिए पाकिस्तान गए थे, तो वहां उन्हें ब्रिज और रेल की पटरियों को धमाके से उड़ाने की ट्रेनिंग दी गई थी. इन धमाकों में आरडीएक्स (RDX) का इस्तेमाल किया जाना था. पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस बार ठीक उस तरह से ब्लास्ट करने थे, जैसे 1993 में किए गए थे. इस बार अनीस के गुर्गों ने विस्फोटक और हथियार को ट्रांसपोर्ट करने की जिम्मेदारी ली थी. 

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को अब तक की पूछताछ और जांच में पता चला है कि गिरफ्त में आये संदिग्ध आतंकियों के संपर्क में कुछ स्लीपर सेल थे. पुलिस उनकी तलाश में भी जुटी है. पुलिस को खबर मिली है कि जब ये लोग अलग-अलग शहरों में पहुंच जाते तो उसके बाद 1993 की तरह सीरियल ब्लास्ट किए जाते. 

इसे भी पढ़ें-- असमः पिता की हत्या के मामले में 4 साल के बच्चे ने ट्विटर पर PM, HM और CM से लगाई इंसाफ की गुहार

एजेंसियों के अनुसार अब बताया जा रहा है कि इस पूरे आतंकी मॉड्यूल का असली मास्टरमाइंड उसैदुर रहमान है, जो पाकिस्तान में ट्रेनिंग लेने वाले आरोपी ओसामा का पिता है  आज तक को मिली जानकारी के मुताबिक वो दुबई में रहकर एक मदरसा चलाता है. वो आईएसआई के संपर्क में है. 

अब ओसामा से पूछताछ के दौरान इस पूरे कांड में उसके पिता की भूमिका साफ हो पाई है. कुछ ऐसे चैट भी मिले हैं जिसके आधार पर ओसामा के पिता को मास्टरमाइंड बताया जा रहा है. बताया जा रहा है कि ISI की मदद से ही ओसामा पाकिस्तान में ट्रेनिंग लेने गया था.

इसके अलावा ओसामा के चाचा को भी इस मामले में आरोपी बताया जा रहा है. कहा गया है कि ओसामा का चाचा हुमैदुर रहमान भी इस टेरर मॉडयूल का हिस्सा है. उसी ने गिरफ़्तार जीशान को रेडिकलाइज किया और पाकिस्तान ट्रेनिंग लेने के लिए भेजा. हुमैदुर रहमान यूपी के प्रयागराज का रहने वाला है और फ़िलहाल वो फरार है. उसकी तलाश की जा रही है.

ज़रूर पढ़े-- आंतकी मॉड्यूलः जानिए दुबई-PAK से UP तक कैसे खड़ा हुआ टेरर नेटवर्क

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने मंगलवार को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI और अंडरवर्ल्ड समर्थित इस आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश किया था. इसमें कुल 6 लोग गिरफ्तार किए गए थे, जिसमें कथित रूप से पाकिस्तान की ISI द्वारा ट्रेनिंग पाने वाले दो लोग भी शामिल थे. आरोपियों की पहचान जान मोहम्मद शेख (47) उर्फ 'समीर', ओसामा (22), मूलचंद (47), जीशान कमर (28), मोहम्मद अबू बकर (23) और मोहम्मद आमिर जावेद (31) के रूप में हुई थी. इनको दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में छापेमारी के बाद पकड़ा गया था. फिलहाल सभी को 14 दिन की पुलिस रिमांड में भेज दिया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें