scorecardresearch
 

बिन पिता के 11 साल के मासूम की अपील- ‘आइए यहां पर’, Anand Mahindra बोले ‘जरूर आएंगे’

आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) ने ट्विटर पर दो ऐसे भाइयों की कहानी शेयर की है, जिनके ऊपर कुछ दिनों पहले दु:खों का पहाड़ टूट पड़ा. दिसंबर में उनके पिता की मौत हो गई और अब परिवार की जिम्मेदारी उन पर है.

X
आनंद महिंद्रा बोले ‘जरूर आएंगे’ आनंद महिंद्रा बोले ‘जरूर आएंगे’
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिसंबर में हुई बच्चों के पिता की मौत
  • बड़े भाई के साथ चलाता है रेस्टोरेंट
  • अमृतसर के दो भाइयों की है दास्तान

कल्पना करके देखिए 11 साल की उम्र का ऐसा बच्चा, जिसके सिर से पिता का साया हाल में उठा हो और अपने 17 साल की उम्र वाले बड़े भाई के साथ पूरे परिवार की जिम्मेदारी उन पर आ गई हो. आपको ये कहानी किसी फिल्म की लग सकती है, लेकिन ये कहानी है अमृतसर के दो भाइयों की जिनकी आपबीती सुन आनंद महिंद्रा का दिल भी पसीज गया और उन्होंने इनका वीडियो ट्वीट (Anand Mahindra Tweet) किया है.

मासूम की अपील ‘आइए यहां पर’
ये वीडियो अमृतसर वाकिंग टूर्स (Amritsar Walking Tours) नाम के YouTube चैनल का है, जिसे गुरुवार को ही अपलोड किया गया है. इस वीडियो में 17 साल के जशनदीप सिंह और 11 साल के अंशदीप सिंह की कहानी है, जो अमृतसर में Top Grill नाम से एक रेस्टोरेंट चलाते हैं. उनके पिता ने कुछ महीने पहले ही इस रेस्टोरेंट को शुरू किया था, लेकिन 26 दिसंबर 2021 को उनकी दुखद मौत हो गई. अब ये दोनों बच्चे मिलकर इस रेस्टोरेंट को चलाते हैं और उनके लिए इस जगह का रेंट निकालना भी भारी पड़ रहा है.

वीडियो के अंत में अंशदीप सिंह लोगों से उनके यहां आने की अपील करते दिखाई देते हैं. उनकी इस अपील का जवाब दिया है आनंद महिंद्रा ने..

आनंद महिंद्रा ने कहा ‘जरूर आएंगे.’
इस वीडियो को पोस्ट करते हुए आनंद महिंद्रा ने लिखा (Anand Mahindra Viral Video) इन बच्चों की मुश्किल उन लोगों में से एक है जो मैंने अक्सर यहां-वहां देखी है. बहुत जल्द इन बच्चों के रेस्टोरेंट के बाहर लोगों की लाइन लग सकती है. मुझे अमृतसर से प्यार है और मैं अक्सर इस शहर में दुनिया की सबसे स्वादिष्ट जलेबी खाने जाता हूं, लेकिन अब ये रेस्टोरेंट मेरी लिस्ट में शामिल हो गया है और अब जब भी अगली बार मैं इस शहर में जाउंगा तो पक्का खाना खाउंगा.

हालांकि महिंद्रा के इस ट्वीट के साथ ही ट्विटर पर #BabaKaDhaba ट्रेंड कर रहा है. बाबा का ढाबा कोरोना काल में दिल्ली में काफी पॉपुलर हुआ था.

ये भी पढ़ें: 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें