scorecardresearch
 

Rahul Dravid: एजबेस्टन में उभर कर आई टीम इंडिया की ये 'बीमारी', जिसे राहुल द्रविड़ भी ठीक नहीं कर पा रहे

इंग्लैंड ने एजबेस्टन टेस्ट में भारतीय टीम को 7 विकेट से हराया. इस नतीजे के बाद दोनों टीमों के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज 2-2 से ड्रॉ पर खत्म हुई...

X
Rahul Dravid (Getty) Rahul Dravid (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • टीम इंडिया 378 रनों का लक्ष्य नहीं बचा सकी
  • एजबेस्टन टेस्ट में इंग्लैंड टीम आसानी से जीती

Rahul Dravid: टीम इंडिया का टेस्ट क्रिकेट में कुछ सालों में प्रदर्शन शानदार रहा है, जबकि पिछले कुछ महीनों में भारतीय टीम का परफॉर्मेंस बेकार ही रहा है. यह बात भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने भी स्वीकार की है. टेस्ट मैच में भारतीय टीम शुरुआत तो ठीक करती है, लेकिन तीसरी पारी में आकर उसे पता नहीं क्या हो जाता है.

तीसरी पारी में आकर भारतीय टीम की बल्लेबाजी एकदम बंटाधार हो जाती है. यह बात पिछली साउथ अफ्रीका सीरीज और अब इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन टेस्ट में भी साबित हुई है. टीम इंडिया इन तीनों टेस्ट में 240, 212 और अब 378 रनों का टारगेट देकर भी हार गई.

भारतीय टीम की बल्लेबाजी तीसरी पारी में जाकर कमजोर साबित हो रही है. इसको कोच राहुल द्रविड़ भी सुधारने की कोशिश में जुटे हैं, लेकिन अभी तक तो वो भी असफल ही साबित होते दिखे हैं. जब कोच राहुल से इस कमी को सुधारने और इस पर एनालिसिस करने को लेकर सवाल किया गया, तो उन्होंने मजाकिया अंदाज में जवाब दिया.

तीसरी पारी में भारत का स्कोर और हार

जोहानिसबर्ग टेस्ट- 266 रन, 7 विकेट से हार
केपटाउन टेस्ट- 198 रन, 7 विकेट से हार
एजबेस्टन टेस्ट- 245 रन, 7 विकेट से हार

'...लगातार काफी क्रिकेट हो रही है'

द्रविड़ ने कहा, 'इस समय लगातार काफी क्रिकेट खेली जा रही है. इस कारण इसके लिए समय ही नहीं मिल पा रहा है. आप इन दो दिनों में बिल्कुल ही अलग बातें करने लग जाएंगे.' दरअसल, एजबेस्टन टेस्ट खत्म होने के दो दिन के अंदर ही टी20 सीरीज शुरू हो जाएगी. द्रविड़ इसी की बात कर रहे थे.

राहुल द्रविड़ ने कहा, 'मगर हम इस पर निश्चित तौर पर विचार करेंगे. हर मैच हमारे लिए एक सीख ही होता है. आप इससे कुछ ना कुछ सीखते ही हैं. हालांकि हमें अब इस पर गहन अध्ययन करना होगा कि आखिर हम एक टेस्ट मैच की तीसरी पारी में अच्छी बल्लेबाजी क्यों नहीं कर पा रहे हैं. साथ ही चौथी पारी में आखिर हम 10 विकेट क्यों नहीं ले पा रहे हैं.'

अगले 6 टेस्ट एशिया में ही खेलने हैं

कोच ने कहा, 'अब हमें अपने अगले 6 टेस्ट मैच (WTC के तहत) एशिया में ही खेलना है. ऐसे में हमारा पूरा ध्यान इन्हीं पर रहने वाला है. फिर भी कोच, और सेलेक्टर्स को बैठकर सोचने और एनालिसिस करने की जरूरत है, जो करेंगे. यह एनालिसिस हर मैच के बाद होती है. यही वजह है कि हम अगले SENA देशों के दौरे पर जाते हैं, तो बेहतर तरीके से तैयार रहते हैं.'

राहुल द्रविड़ ने कहा, 'हमने पिछले कुछ सालों में अच्छी क्रिकेट खेली है, लेकिन पिछले कुछ महीनों में ऐसा नहीं कर पाए हैं. इसमें कई कारण हो सकते हैं, जिसमें फिटनेस और उस तरह के तेज खेल को बनाए रखना भी हो सकता है. पिछली दोनों सीरीज में तीसरी पारी में हम अच्छी बैटिंग नहीं कर पाए. साउथ अफ्रीका और इंग्लैंड में अच्छी शुरुआत तो की, लेकिन उसे अच्छे से खत्म नहीं कर पाए.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें