scorecardresearch
 

क्या वानखेडे की 'साजिश' का शिकार हुए आर्यन खान? देखें वारदात

क्या वानखेडे की 'साजिश' का शिकार हुए आर्यन खान? देखें वारदात

क्या आर्यन खान बिना किसी जुर्म के 25 दिनों तक जेल में रहा, क्या आर्यन खान एनसीबी और इसके ज़ोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की साज़िश का शिकार हुआ, क्या एनसीबी ने आर्यन के व्हाट्सअप चैट का झूठा ढिंढोरा पीटा था, क्या क्रूज़ पर एनसीबी की पूरी रेड ही झूठ की बुनियाद पर मारी गई थी. इन सारे सुलगते सवाल को बॉम्बे हाईकोर्ट के कुछ जवाबों ने जन्म दिए हैं. बॉम्बे हाईकोर्ट ने कहा था कि "एप्लीकेंट नंबर 1 और 2 यानी आर्यन खान और अरबाज़ खान क्रूज़ पर एक साथ सफर कर रहे थे, जबकि एप्लीकेंट नंबर 3 मुनमुन धमेचा अकेली. मुनमुन या बाकी किसी के साथ आर्यन और अरबाज़ का कोई लिंक नहीं था, आर्यन के आईफोन से मिले व्हाट्सअप चैट में भी ऐसा कुछ भी आपत्तिजनक नहीं था जिससे ये साबित होता कि क्रूज़ पर ड्रग्स को लेकर कोई साज़िश रची गई थी. इस कोर्ट में रिकॉर्ड पर ऐसा एक भी सबूत नहीं पेश किया गया जिससे ये साबित हो सके कि क्रूज़ पर सवार सभी आरोपी एक ही मकसद से इकट्ठा हुए थे.' बॉम्बे हाईकोर्ट का ये बयान बेहद अहम है, अहम इसलिए कि इस बयान से ये साबित होता है कि क्रूज़ पर 2 अक्टूबर को ना तो कोई रेव पार्टी थी, ना आर्यन खान और उसका दोस्त अरबाज़ उस रेव पार्टी का हिस्सा और ना ही किसी बड़ी साज़िश के हिस्सेदार. तो क्या वानखेडे की 'साजिश' का शिकार हुए आर्यन? देखें वारदात का ये एपिसोड.

Did Aryan Khan stay in jail for 25 days without any crime, was Aryan Khan a victim of a conspiracy by NCB and its Zonal Director Sameer Wankhede? Some answers of the Bombay High Court have given birth to all these smoldering questions. The Bombay High Court had stated that "Applicants No. 1 and 2 i.e. Aryan Khan and Arbaaz Khan were traveling together on a cruise, while Applicant No. 3 Munmun Dhamecha alone. There was no link between Aryan and Arbaaz with Munmun or anyone else, There was also nothing objectionable in the WhatsApp chat found on Aryan's iPhone to prove that there was a conspiracy on Cruz over drugs." Then why was Aryan Khan arrested? Watch Vardaat.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें