scorecardresearch
 

वारदात

सुकेश चंद्रशेखर केस: 'महाठग' के चक्कर में नप गई पूरी जेल! देखें वारदात

21 जनवरी 2022

फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रवर्तक शिविंदर मोहन सिंह की पत्नी अदिति सिंह समेत कुछ अमीर लोगों को ठगने के आरोपी महाठग सुकेश चंद्रशेखर का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. अब इस मामले में रोहिणी जेल के मुलाज़िमों का नाम भी सामने आया है. जेल के सात मुलाज़िम और अफ़सर तो पहले ही सुकेश की मदद कर भ्रष्टाचार फैलाने के इल्ज़ाम में सलाखों के पीछे जा चुके हैं, नई ख़बर ये है कि जेल के 82 और मुलाज़िम अब दिल्ली पुलिस की रडार पर आ चुके हैं. इन सभी पर इल्ज़ाम है कि इन्होंने सिक्कों की खनक के सामने अपना ईमान गिरवी रख कर रोहिणी जेल में बंद जालसाज़ सुकेश चंद्रशेखर को जेल में हर वो सुविधा मुहैया करवाई, जो आज़ादी की ज़िंदगी में किसी आम आदमी को नहीं बल्कि रईसों को नसीब होती है. देखें वारदात.

बीवी को बंधक बना दोस्तों के साथ करता रहा गैंगरेप, MP में हुई खौफनाक वारदात!

20 जनवरी 2022

मध्य प्रदेश के इंदौर की एबी रोड, मांगलिया पर मौजूद एक फार्म हाउस में कल तक रातें गुलज़ार हुआ करती थीं, शहर के रंगीन मिज़ाज और समाज कंटक किस्म के लोग यहां अपनी हर ख्वाहिश पूरी किया करते थे, लेकिन इन्हीं ख्वाहिशों के चक्कर में इस फार्म हाउस का मालिक इस कदर आगे निकल गया कि उसने क़ायदे क़ानून तो छोड़िए, इंसानियत की भी परवाह नहीं की. युवराज फार्म हाउस के मालिक राजेश विश्वकर्मा पर इल्ज़ाम है कि उसने ना सिर्फ़ एक बीवी के रहते हुए दूसरी लड़की से झूठ बोल कर शादी कर ली, बल्कि शादी के बाद ना सिर्फ़ अपनी बीवी के साथ ही रेप करने लगा, बल्कि अपने दोस्तों से भी उसका गैंगरेप करवाने लगा. बीवी को इसी फार्म हाउस में क़ैद कर उसने रात-रात भर न्यूड पार्टियां की और इन पार्टीज़ में अपनी बीवी को बिना कपड़ों के अपने और अपने दोस्तों के सामने नाचने पर मजबूर करता रहा. देखें कैसे खुली राजेश विश्वकर्मा की पोल.

लखनऊ में लाश और कश्मीर में तलाश, देखें ट्रिपल मर्डर की झकझोरने वाली कहानी

19 जनवरी 2022

संपत्ति का लालच या फिर कुछ और जिसकी वजह से एक बेटे ने न सिर्फ अपने भाई, बल्कि बुजुर्ग मां-बाप की भी बेरहमी से हत्या (Murder) कर दी. हत्या के बाद लाशें तीन अलग-अलग इलाकों में जाकर फेंक दीं, ताकि शिनाख्त न हो सके और पुलिस से बच सके. यह सनसनीखेज घटना उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के ग्रामीण इलाके की है. इस मामले में पुलिस (Police) ने मुख्य आरोपी समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है. इस पर देखें वारदात.

सब्जीवाले से बना शराब तस्कर, एयरहोस्टेस से इश्क, देखें अनोखी कहानी

18 जनवरी 2022

महज़ 12वीं तक की पढ़ाई करनेवाला समर घोष कभी सब्ज़ी बेचा करता था लेकिन देखते ही देखते उसने नाजायज़ शराब के धंधे में अपने पैर कुछ ऐसे जमाए कि रातों-रात करोड़ों में खेलने लगा और हद तो तब हो गई जब करोड़पति बनने के बाद एक एयरहोस्टेस को दिल दे बैठा और अपनी इस माशूक़ा के दिल में जगह बनाने के लिए महज़ एक साल के अंदर उसने बिज़नेस क्लास में 50 से ज़्यादा बार सफ़र कर डाला. ये बात सुनने में भी अजीब लगेगी कि जो शख़्स कल तक सड़क के किनारे सब्ज़ी बेचा करता था, वो आज ना सिर्फ़ फ़्लाइट के बिज़नेस क्लास में सफ़र कर रहा था, बल्कि एक बार नहीं बार-बार कर रहा था. देखें बिहार के सब्जीवाले की लव स्टोरी.

US: कौन हैं आफिया सिद्दकी, जिसे छुड़ाने के लिए संदिग्ध आतंकी ने लोगों को बनाया बंधक

17 जनवरी 2022

अमेरिका की जेल में पिछले कई सालों से पाकिस्तान के आफ़िया सिद्दिक़ी बंद है. आफ़िया सिद्दिक़ी को अमेरिका में लेडी क़ायदा के नाम से भी जाना जाता है. क्योंकि उस पर दुनिया के सबसे ख़तरनाक आतंकी संगठन अल क़ायदा से रिश्ता रखने और इस संगठन के लिए काम करने का ना सिर्फ़ संगीन इल्ज़ाम लगा बल्कि अमेरिकी अदालत में ये जुर्म साबित भी हो चुका है. वो पाकिस्तान की सबसे चर्चित और सबसे मशहूर न्यूरो सांइटिस्ट रह चुकी हैं. लेकिन साल 2008 में उसका असली चेहरा तब सामने आया, जब अमेरिकी सेना ने आफ़िया को अफ़ग़ानिस्तान के ग़ज़नी शहर से गिरफ़्तार किया. उस पर अमेरिकी सेना के एक कर्नल रैंक के अफसर की हत्या की कोशिश का इल्ज़ाम लगा था. देखें वारदात में आफ़िया सिद्दिक़ी की कहानी.

अलवर केस में प्रशासन ही बन बैठा मूक-बधिर बच्ची का दुश्मन! देखें वारदात

16 जनवरी 2022

Alwar Rape Case: अलवर में एक मूक-बधिर बच्ची के साथ कुछ दरिंदों ने ऐसी ज़्यादती की कि निर्भया कांड की याद ताज़ा हो गई. जिसके बाद लोग गुनहगारों को पकड़ कर बच्ची को फौरन इंसाफ़ दिलाने की मांग करने लगे. लेकिन यहां गुनहगारों की बात छोड़िए जब शासन-प्रशासन का सारा ज़ोर ही ये साबित करने में लग गया कि बच्ची के साथ रेप या गैंगरेप जैसी कोई वारदात हुई ही नहीं है. यही वजह है कि विपक्ष को अब ये कहने का मौक़ा मिल गया है कि सरकार गुनहगारों की धर-पकड़ कर उन्हें सज़ा दिलाने की जगह बहस का मुद्दा ही बदल देना चाहती है. ताकि ना कोई गैंगरेप की बात करे और ना ही इंसाफ़ की मांग पर कोई हंगामा ही हो. वारदात के इस एपिसोड में देखें कैसे प्रशासन ही बन बैठा इस बच्ची का दुश्मन.

मॉडल, मौत और सुपर स्टार: मॉडल्स की कार का पीछा कौन कर रहा था?

15 जनवरी 2022

2019 में मिस केरल बनी अंसी कबीर और इसी मिस केरल कंप्टीशन में रनर-अप रहीं अंजना शजान की पिछले एक नवंबर को केरल के कोच्चि में हुए एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी. दोनों एक ही कार में सवार थीं, शुरुआत में ये महज़ एक सड़क हादसे में हुई मौत का मामला ही लग रहा था. लेकिन तफ्तीश के दौरान पुलिस को कुछ ऐसे सुराग और सबूत मिले हैं जिनसे साज़िश की बू आने लगी है. साज़िश के पीछे बड़े-बड़े नाम और चेहरे दिखाई दे रहे हैं. इनमें नेता भी हैं और अभिनेता भी. यहां तक कि साउथ फिल्मों के एक मशहूर सुपर स्टार का नाम भी लिया जा रहा है. वारदात में देखें क्या है पूरा मामला.

मेटल बॉक्स में रखे जा रहे लोग, चीन से आई क्वारंटाइन सेंटर्स की डरावनी तस्वीर!

14 जनवरी 2022

साल 2020 के शुरुआती दिनों में कोरोना ने जब धीरे-धीरे पूरी दुनिया को अपनी गिरफ्त में लेना शुरू किया था, तब चीन से आई तस्वीरों ने सभी को डरा दिया था. तस्वीरों में चीनी अधिकारी कहीं संदिग्ध कोरोना मरीज़ों को उनके घरों में जबरन सील करते हुए दिखाई दे रहे थे, तो कहीं उनकी बात न मानने पर उनके साथ मारपीट करते हुए कैमरे में क़ैद हुए थे. लेकिन अब दो साल बाद फिर से चीन में वही कहानी दोहराई जाने लगी है. इन दो सालों में पूरी दुनिया के साथ-साथ चीन ने भी कोरोना को लेकर काफ़ी कुछ सीखा है. लेकिन अबकी सामने आई ये नई तस्वीरें भी उतनी ही अमानवीय हैं, जितनी आज से दो साल पहले की तस्वीरें थी. फ़र्क़ बस इतना है कि नई तस्वीरों में चीनी अफ़सर संदिग्ध कोरोना मरीज़ों को उनके घरों में नहीं, बल्कि ऐसे कंटेनरनुमा डब्बों में सील कर रहे हैं, जहां रहना किसी भी इंसान के लिए एक बेहद बुरा ख्वाब हो सकता है. देखें वारदात.

कत्ल एक और लाश दो! देखें कानपुर की चौंकाने वाली वारदात

12 जनवरी 2022

आज वारदात में हम एक कत्ल और दो लाश वाली अजीब कहानी की बात करेंगे. इस कहानी की बुनियाद में पति पत्नी और वो है. लेकिन इस वो के बारे में पत्नी को पता चल जाता है. इसके बाद पति-पत्नी में झगड़ा होता है, झगड़े के दौरान पति अपनी पत्नी का कत्ल कर देता है. इसके बाद वो लाश लेकर अपनी प्रमिका घर के पहुंचता है. फिर प्रेमिका के साथ मिलकर लाश को एक नदी में फेंक देता है. कुछ दिनों बाद नदी से लाश मिलती है. लेकिन यहीं से कहानी में एक नया ट्विस्ट आता है. ट्विस्ट ये कि कत्ल तो एक हुआ था लेकिन लाश दो बरामद हुईं. वारदात में देखिए पूरी कहानी.

पाकिस्तान के मरी में बर्फबारी का कहर, बर्फ में बन गई 23 लोगों की कब्र!

11 जनवरी 2022

पाकिस्तान के मरी में अचानक हुई भीषण बर्फबारी से 23 लोगों की मौत हो गई है. बर्फबारी के चलते मरी क्षेत्र में गाड़ियां आगे नहीं बढ़ पा रही थीं. मरी के लोगों ने बताया कि सालों बाद पीर पंजाल की पहाड़ियों में ये सफेद तबाही देखने को मिली है. बर्फबारी और सर्दियों का लुत्फ उठाने हजारों और लाखों की तादाद में लोग गाड़ियां लेकर वीकेंड पर मरी की तरफ रवाना हुए थे. मगर इस दौरान मरी और उसकी तरफ जाने वाले रास्तों पर अचानक भारी बर्फबारी शुरू हो गई. सारी गाड़ियां बर्फबारी में फंसने लगीं. कुछ देर के बाद ही बर्फ ने गाड़ियों को ढक लिया, जिससे गाड़ियों में बैठे लोगों का सांस लेना मुश्किल होने लगा. ऑक्सीजन की कमी से लोग बेचैन होने लगे तभी लोगों ने कार के हीटर चला दिए. पाकिस्तान सरकार के सरकारी आंकड़ों के मुताबिक इस सफेद तबाही में अब तक 23 लोगों की मौत हुई है. देखें वारदात का ये एपिसोड.

मर्डर दिखाने के लिए सीन क्रिएट, देखें उस 'कत्ल' की कहानी जो कभी हुआ ही नहीं

07 जनवरी 2022

हाजीपुर के घर के कमरे में खून की खून बिखरा पड़ा था. बिस्तर के नीचे, दीवार पर, हर तरफ़ खून के छींटे थे और तो और कमरे में ही खून से सना सब्ज़ी काटनेवाला एक तेज़धार फहसूल भी पड़ा था और हैरानी की बात ये थी कि ये कमरा जिस नीतू का था, वो रहस्यमयी तरीक़े से गायब थी. कमरे का ये मंज़र देख कर घरवालों की चीखें निकल गई. सुबह-सुबह घर में रोना-पिटना मच गया. किसी को समझ ही नहीं आ रहा था कि आख़िर आधी रात घर की बहू नीतू के साथ ऐसा क्या हुआ कि उसके कमरे में इतना ख़ून बिखरा हुआ था और खुद नीतू कहां चली गई और तो और उसका मोबाइल फ़ोन भी लगातार स्विच्ड ऑफ आ रहा था. तो क्या रात को ही किसी ने फहसूल से काट कर नीतू का क़त्ल कर दिया? देखें वारदात.

नफरती साजिश की चौंकानेवाली कहानी, जानें क्या है बुल्ली बाई मामला

05 जनवरी 2022

साल का पहला दिन 'गिटहब' प्लेटफॉर्म पर एक एप चमकता है. वो एप जिसमें सौ से ज़्यादा मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें चस्पां हैं और इन महिलाओं को ऑक्शन यानी नीलामी के लिए उपलब्ध बताया गया है. देखते ही देखते इस एप के ग्रैब्स और लिंक्स ट्विटर की टाइमलाइन पर भी अपियर होने लगते हैं. सोशल मीडिया में इस एप से जुड़े मैसेजेज़ की बाढ़ सी आ जाती है. एप का नाम है, बुल्ली बाई. बुल्लीबाई, बुल्ली डील्स, सुल्ली डील्स जैसे हैशटैग्स के साथ इस एप में अलग-अलग लड़कियों और महिलाओं की तस्वीरें मौजूद हैं और तस्वीरों के साथ कैप्शन है, ये आज की आपकी बुल्ली बाई है. ख़ास बात ये है कि एप में लिस्टेड इन चेहरों में ज़्यादातर उन हिंदुस्तानी मुस्लिम महिलाओं के हैं, जो या तो सेलिब्रिटी हैं, पत्रकार हैं या फिर सोशललाइट. कहने का मतलब ये कि एप में दिखने वाली इन महिलाओं का अपना एक वजूद है, अपनी एक हस्ती. लेकिन फिर सवाल ये है कि आख़िर ये महिलाएं नीलामी के कैसे उपलब्ध हो सकती हैं? इस पर देखें वारदात.

मौत पर 20 लोग, रैली में 2 लाख! जिंदगी जरूरी या चुनाव? देखें वारदात

05 जनवरी 2022

हाल के दिनों में हम सब ने बहुत सी तस्वीरें और वीडियो देखें हैं, जिनमें साफ दिखता है कि कई लोगों ने अब सावधानी बरतना या तो बंद कर दिया है या बहुत ढिलाई ले आए हैं. ये बिलकुल ठीक नहीं है. बिना मास्क पहने, बिना प्रोटोकॉल का अमल किए बिना भारी भीड़ का उमड़ना एक चिंता का विषय है, ये ठीक नहीं है. थोड़ी सी भी लापरवाही आपका और आपके अपनों का बहुत ज़्यादा नुकसान कर सकती है. कभी कभी लोग सवाल पूछते हैं कि तीसरी लहर की क्या तैयारी की है, लोगों को समझाना ज़रूरी है कि तीसरी लहर अपने आप नहीं आएगी. मास्क ज़रूर पहनें, और ठीक से पहनें. ये समय सचेत रहने का भी है, मास्क उसका भरपूर उपयोग करें ओमिक्रॉन की वजह से संक्रमण बढ़ रहा है. भारत में भी कई लोगों के ओमिक्रॉन से संक्रमित होने का पता चला है. देखें वारदात.

.... तो लखीमपुर कांड हादसा नहीं बल्कि साजिश थी! देखें वारदात

03 जनवरी 2022

लखीमपुर कांड में बेटे आशीष मिश्र के खिलाफ़ चार्जशीट दाखिल होने के साथ ही देश के गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी की मुसीबत और बढ़ गई है. अब सवाल ये है कि एसआईटी की तफ्तीश में ये साबित हो गया है कि वारदात की साजिश उनके बेटे ने ही रची और वो खुद मौका ए वारदात पर मौजूद था, तो क्या गृह राज्य मंत्री अपने पद से इस्तीफ़ा देंगे? क्योंकि टेनी ने खुद कभी आजतक के कैमरे पर ये दावा किया था कि अगर बेटे की मौजूदगी का सबूत मिल जाए, तो वो अपनी कुर्सी छोड़ देंगे और अब यूपी पुलिस की एसआईटी ने वो सबूत दे दिए हैं. चार्जशीट में जांच टीम ने आशीष मिश्र के खिलाफ 5 सबूत दिए हैं जिससे यही समझा जा रहा है कि लखीमपुर कांड हादसा नहीं बल्कि साजिश थी. देखें वारदात का ये एपिसोड.

कानपुर रेड: क्या पेनल्टी देकर छूट जाएगा पीयूष जैन? देखें वारदात

31 दिसंबर 2021

पांच जनवरी के बाद उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तारीख़ का ऐलान कभी भी हो सकता है. हालांकि चुनावी सरगर्मियां तो पहले से ही शुरू हो चुकी है. लिहाज़ा मान कर चलिए यूपी में इस वक़्त जो कुछ भी होगा, सब चुनावी होगा, सारे चुनावी मुद्दे होंगे. अब जब ऐसा है तो फिर क़रीब दो सौ करोड़ रुपये का ख़ज़ाना चुनावी मुद्दे से अछूता कैसे रह सकता है? तो बस यही वजह है कि कानपुर वाले पीयूष जैन अचानक मुद्दों के साथ सुर्खियों में हैं. ख़ज़ाना किसका है, नकदी किसके लिए थी, चुनाव में इसका इस्तेमाल कैसे होना या ना होना था, इन पैसों से किस पार्टी की नैया पार की जानी थी या नहीं की जानी थी, ये सारे मुद्दे फिलहाल हवा में हैं. बीजेपी पीयूष जैन का रिश्ता समाजवादी पार्टी से जोड़ रही है, तो समाजवादी पार्टी बीजेपी से, अब जब राजनीति ऐसी होगी, तो भला जांच एजेंसियां भी कहां अछूती रहेंगी? इस पर देखें वारदात.

कहां से इकट्ठा किया करोड़ों कैश और कैसे छिपाया? देखें पीयूष जैन की पूरी कहानी

29 दिसंबर 2021

कानपुर वाले इत्र कारोबारी पीयूष जैन के ठिकानों पर छापेमारी का सिलसिला तो ख़त्म हो चुका है, तो इन ठिकानों से निकली अकूत दौलत और उससे जुड़ी कहानियां अब भी लोगों को हैरान कर रही हैं. आम लोगों की बात छोड़िए डायरेक्टर ऑफ जीएसटी इंटेलिजेंस यानी डीडीजीआई की टीम में शामिल ज़्यादातर अफसरों तक की जिंदगी में खुद ये पहला मौका है, जब उन्होंने एक साथ इतना कैश और इतनी दौलत देखी है. छापेमारी में टोटल सीज़र यानी कुल बरामदगी 213 करोड़ 45 लाख रुपये की है जिसमें कैश, सोने-चांदी की ईंटें, चंदन का तेल और दूसरी क़ीमती चीज़ें शामिल हैं. पीयूष के कानपुर वाले मकान से कुल 177 करोड़ 45 लाख रुपये मिले हैं जबकि कन्नौज वाले उसके पुश्तैनी मकान से 19 करोड़ रुपये के नोट मिले हैं. इसके अलावा 23 किलो सोने की ईंटें हैं, जिसकी क़ीमत करीब 11 करोड़ रुपये आंकी गई है. कुल 213.45 लाख रुपये की बरामदगी की है. अब सवाल ये है कि आखिर पीयूष जैन ने इतनी दौलत कैसे इकट्ठा की और इन्हें अब तक अपने घरों में कैसे छिपा कर रखा? देखें वारदात का ये एपिसोड.

एक साल पहले आया फोन कॉल कैस बना कत्ल की वजह, वारदात में देखें

28 दिसंबर 2021

मध्य प्रदेश के आगर मालवा जिले में एक शख्स का कत्ल की वजह बना एक फोन कॉल. ये कत्ल गला काट कर किया गया था लेकिन मरनेवाले के जिस्म पर गला काटे जाने के निशान के अलावा अलग-अलग चाकुओं के कुल 16 निशान मिले. आम तौर पर ऐसा हेट क्राइम के मामलों में ही होता है. करीब महीने भर की तफ्तीश के बाद इस भयानक कत्ल के मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया फिर कत्ल के पीछे एक ऐसी कहानी उभर कर सामने आई जिसने पुलिसवालों को भी चकरा दिया. ये कत्ल सिर्फ एक फोन कॉल की वजह से हुआ था. एक ऐसा फोन कॉल जो कत्ल से एक साल पहले कातिल की सुहाग रात पर आया था. देखिए वारदात में पूरी कहानी.

सबसे बड़ी छापेमारी की क्या है 'इनसाइड स्टोरी', वारदात में देखें

27 दिसंबर 2021

अहमदाबाद की डीजीजीआई यानी डायरेक्टरेट ऑफ़ जीएसटी इंटेलिजेंस की टीम ने चेकिंग के दौरान एक-एक कर चार ट्रकों को पकड़ा. ट्रक में पान मसाले का सामान लदा था. लेकिन हैरानी की बात ये थी कि इन ट्रकों में लाखों रुपये का माल पैक होने के बावजूद इसका एक भी बिल 50 हज़ार रुपये या फिर उससे ज़्यादा का नहीं था और इसकी वजह सीधी सी थी, टैक्स की चोरी. डीजीजीआई ने अब इस मामले की गहराई से जांच शुरू की तब टीम को पता चला कि इस ट्रांसपोर्टर ने जीएसटी चुकाने से बचने के लिए 200 से ज़्यादा फ़र्ज़ी इनवाइसेज़ तैयार किए हैं और इस तरह सरकार को लाखों का चूना लगा चुका है. जांच आगे बढ़ी और इसका सीधा कनेक्शन कानपुर से जुड़ा. बस यहीं से शुरू हुआ पीयूष जैन के ठिकानों पर रेड का सिलसिला. देखिए वारदात का ये एपिसोड.

लुधियाना कोर्ट में धमाका, क‍िस तरफ इशारा कर रही तहकीकात? देखें वारदात

24 दिसंबर 2021

लुधियाना के कोर्ट में रोज़ की तरह गुरुवार को भी कामकाज जारी था. हालांकि वकीलों की हड़ताल होने की वजह से अदालत में भीड़ थोड़ी कम ज़रूर थी. लेकिन इसी बीच जैसे ही घड़ी की सुइयों ने दोपहर के सवा बारह बजाए अचानक कोर्ट की दूसरी मंज़िल से आई धमाके की एक ज़ोरदार आवाज़ ने लोगों को दहला दिया. धमाका इतना ज़बरदस्त था कि आवाज़ दूर तक सुनाई दी और धमाकेवाली जगह से दूर भी कई खिड़की दरवाज़ों के शीशे चटक गए. आनन-फ़ानन में पुलिस के साथ-साथ तमाम इमरजेंसी सर्विसेज़ से जुड़े लोग मौका-ए-वारदात पर पहुंचे और ब्लास्ट से जुड़ी खबरें छन-छन कर सामने आने लगीं. पता चला कि ब्लास्ट कोर्ट की दूसरी मंज़िल पर मौजूद टॉयलेट में हुआ है और इस धमाके में टॉयलेट के अंदर मौजूद एक शख्स के चीथड़े उड़ गए.

500 करोड़ की 'फिल्मी' कहानी, महाठग के महाठग से दुनिया हैरान

22 दिसंबर 2021

जैकलीन फर्नांडीज, बॉलीवुड की ग्लैमरस हिरोइनों में से एक. कुल जमा 13 सालों का करियर और हिस्से में 29 हिंदी और दूसरी भाषाओं के फिल्में. एजेंलिना जॉली, हॉलीवुड की सबसे बड़ी हिरोइनों में से एक, 39 सालों का शानदार फ़िल्मी करियर और एक से बढ़ कर एक ब्लॉक बस्टर समेत कुल 45 फिल्में. क्या आपको इन दोनों में कोई भी एक बात कॉमन लगती है? सिवाय इसके कि दोनों का ताल्लुक फिल्मी दुनिया से है? आपका जवाब शायद ना में हो, लेकिन इस दुनिया में कोई ऐसा भी है जिसे ना सिर्फ जैकलीन बिल्कुल एजेंलिना जॉली जैसी लगती थी, बल्कि वो शख़्स जैकलीन पर कुछ इस कदर फिदा था कि वो सिर्फ़ और सिर्फ़ जैकलीन के लिए ही पूरे 500 करोड़ की फिल्म बनाना चाहता था. वारदात में देखें पूरी कहानी.

पत्नी और 3 बच्चों को मारकर 'मोक्ष' के सफर पर निकला शख्स! देखें वारदात

21 दिसंबर 2021

ना परिवार की बेड़ियां, ना दुनिया की फिक्र, ना मरने का ख़ौफ. हर डर, हर फिक्र, हर पाबंदियों से आज़ाद हो जाने को कहते हैं मोक्ष. सिर्फ परम आनंद, परम होश का अहसास है मोक्ष. ये पुराणों में लिखा है. 30 जून और 31 जुलाई 2018 की उस दरमियानी स्याह रात में बुराड़ी के ललित ने इस एहसास को महसूस किया और अपने साथ परिवार के 11 सदस्यों को मोक्ष के सफर पर ले गया और अब 19 और 20 दिसंबर 2021 की दरमियानी रात को इसी एहसास के लिए बीवी समेत अपने तीन बच्चों के साथ हिसार का रमेश दीवार पर दो लाइनें लिखकर मोक्ष के सफर पर कूच कर चुका है. वारदात में देखिए पूरी कहानी.