scorecardresearch
 

कुंभ 2019: आस्था का ऐसा दृश्य और कहीं नहीं दिखेगा

कुंभ 2019: आस्था का ऐसा दृश्य और कहीं नहीं दिखेगा

जैसे जैसे सुबह हुई और सूरज की रोशनी फैली, पूरे प्रयागराज में संगम तट पर दिव्यता निखर कर सामने आ गई. सुबह होते ही संगम के तट पर विहंगम दृश्य चारों ओर दिखने लगा. संगम तट पर देश दुनिया के श्रद्धालु जुट गए हैं. श्रद्धालु चाहते हैं कि उनके मन का अंधियारा दूर हो और ईश्वर की रोशनी से अंदर से बाहर तक परिपूर्ण हो जाएं.

Lakhs of devotees, saints and religious leaders of various patrs of country took ritual dip in Kumbh of Prayagraj, marking the beginning of the Kumbh Mela. Kumbh started on Makar sankranti. The 13 organisations of sadhus that have traditionally participated in the Kumbha Mela are called 'akharas'. 13 akharas (seven Shaiva, three Vaishnava, two Udasina, an one Sikh) have participated in the mela. Juna is believed to be the oldest of akharas.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें