scorecardresearch
 

यूपी में बिजली संकट! दिल्ली में CM योगी अमित शाह, ऊर्जा मंत्री और रेल मंत्री से मिले

देश के विभिन्न राज्यों में बिजली का संकट बरकरार है. इनमें उत्तर प्रदेश भी शामिल है. योगी आदित्यनाथ ने अपने दिल्ली दौरे के दौरान प्रदेश में बिजली संकट को लेकर केंद्रीय उर्जा मंत्री से मुलाकात की है. इसके अलावा उन्होंने गृहमंत्री और रेलमंत्री से भी मुलाकात की.

X
योगी आदित्यनाथ. -फाइल फोटो योगी आदित्यनाथ. -फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गृहमंत्री अमित शाह से भी योगी आदित्यनाथ ने की मुलाकात
  • रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव से भी योगी ने की मुलाकात

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने दिल्ली दौरे के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और ऊर्जा मंत्री आर के सिंह से मुलाकात की. इस दौरान योगी आदित्यनाथ ने यूपी में बिजली संकट पर दोनों केंद्रियों मंत्रियों से बात की. 

सीएम योगी ने दिल्ली दौरे के दौरान ही केंद्रीय उर्जा मंत्री आरके सिंह से भी मांग के अनुरूप अतिरिक्त पावर उपलब्ध कराने का अनुरोध किया. इसके अलावा सीएम योगी ने रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव से मिले. उन्होंने रेल मंत्री से कोयले के लिए आवश्यक रैक उपलब्ध कराने की मांग की. सीएम ने बताया कि यूपी को कोयले के 15 रैक की रोजाना जरूरत होती है. बता दें कि अभी यूपी के कई शहरों में बिजली की कटौती हो रही है. 

बिजली संकट को लेकर योगी के मंत्री ने एक दिन पहले दिया था ये बयान

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री एके शर्मा (Minister AK Sharma) ने कहा कि गहराते बिजली संकट (Power Crisis) की जिम्मेदार पिछलीं सरकारें हैं. पहले की सरकारों ने बिजली की व्यवस्था को लेकर कोई काम नहीं किया. उन्होंने कहा कि इस संकट से उबरने के लिए BJP सरकार काम कर रही है. 

दिन-प्रतिदिन गहराते बिजली संकट पर पूछे गए सवाल को लेकर उन्होंने कहा कि इसकी जिम्मेदार पिछली सरकारों की लचर व्यवस्था है. यदि भारतीय जनता पार्टी से पहले की सरकारें बिजली इकाइयां और ट्रांसफार्मर लगाती तो शायद यह स्थिति नहीं बनती, लेकिन अब भारतीय जनता पार्टी की सरकार इस संकट से जनता को उबारने के लिए लगातार पूरा प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि शीघ्र ही इस समस्या से छुटकारा मिल जाएगा.  

ये भी पढ़ें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें