scorecardresearch
 

UP: अंश की मौत मामले में हैलट के डॉक्टर, PRO और वार्ड ब्वॉय दोषी

डीएम ने इनके खिलाफ कार्रवाई के लिए जांच रिपोर्ट सीएम अखिलेश यादव को भेज दी है. डीएम ने प्रदेश शासन के साथ-साथ प्रधानमंत्री कार्यालय को भी रिपोर्ट भेजी है. वहीं, दो कर्मचारियों को तुरंत नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है. इसके अलावा अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई का आदेश जारी किया गया है.

अंश ने पिता के कंधे पर तोड़ा था दम अंश ने पिता के कंधे पर तोड़ा था दम

उत्तर प्रदेश के कानपुर में हैलट हॉस्पिटल में मासूम अंश की मौत के मामले में प्रशासन की जांच पूरी हो गई है. डीएम की बनाई इस जांच रिपोर्ट में हैलट के पीआरओ, ईएमओ, वार्ड ब्वॉय और ड्यूटी गार्ड दोषी पाए गए हैं.

सीएम को भेजी गई रिपोर्ट
डीएम ने इनके खिलाफ कार्रवाई के लिए जांच रिपोर्ट सीएम अखिलेश यादव को भेज दी है. डीएम ने प्रदेश शासन के साथ-साथ प्रधानमंत्री कार्यालय को भी रिपोर्ट भेजी है. वहीं, दो कर्मचारियों को तुरंत नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया है. इसके अलावा अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई का आदेश जारी किया गया है.

क्या है पूरा मामला?
कानपुर के हैलट हॉस्पिटल में 26 अगस्त को 12 साल के अंश को इलाज के लिए लाया गया था, जहां पर डॉक्टरों और स्टाफ ने अंश का इलाज करना तो दूर, उसे स्ट्रेचर तक नहीं दी गई. अंश के पिता उसे कंधे में लेकर इलाज के लिए इधर से उधर भटक रहे थे. इसी दौरान उसकी मौत हो गई. 'आजतक' ने इस घटना को बड़े जोर-शोर से उठाया था, जिसके बाद सीएम अखिलेश यादव ने इस मामले को संज्ञान में लिया था और कानपुर डीएम को जांच के आदेश दिए थे.

ये स्टाफ पाए गए दोषी
कानपुर प्रशासन की दो सदस्यीय टीम ने अपनी जांच रिपोर्ट में हैलट हॉस्पिटल के पांच लोगों को इसका दोषी पाया है, जिसमें हैलट की पीआरओ पल्लवी शुक्ला, डॉक्टर मयंक सिंह, वार्ड ब्वॉय संतोष और गार्ड संदीप को सीधे-सीधे दोषी पाया गया है, जबकि एक अधिकारी के खिलाफ भी सबूत मिले हैं. वार्ड ब्वॉय और गार्ड को बर्खास्त कर दिया गया है. डीएम का कहना है कि वह इस रिपोर्ट को उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ प्रधानमंत्री कार्यालय को भी भेजने जा रहे हैं, क्योंकि इस मामले में पीएमओ से फोन करके रिपोर्ट मांगी गई थी. डीएम का कहना है कि हैलट हॉस्पिटल में पिछले कुछ सालों में जितनी भी अमानवीय घटनाएं हुई हैं, उन सबका जिक्र भी इस रिपोर्ट में किया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें