scorecardresearch
 

डेंगू-चिकनगुनिया मरीजों का हाहाकार, AAP के मंत्री एम्स-सफदरजंग अस्पताल पर बरसे

मंत्री ने कहा कि दिल्ली में दो तिहाई मरीज दिल्ली के बाहर से आ रहे हैं. हम किसी को मना नहीं कर रहे, सबको एडमिट कर रहे हैं.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन

देश की राजधानी में डेंगू और चिकनगुनिया के मामले दिन पर दिन बढ़ते जा रहे हैं. मौसम बदलने के साथ ही अस्पतालों में मरीजों की संख्या कई गुना ज्यादा हो गई है. लेकिन दिल्ली सरकार के दावों के उलट कई अस्पतालों में मरीजों के साथ बड़ी लापरवाही बरती जा रही है, इसमें बेड की कमी होना एक सबसे बड़ी परेशानी बनकर सामने आ रही है.

सरकारी अस्पतालों में डेंगू और चिकनगुनिया के मरीजों को बेड न मिलने के सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने अजीब जवाब देते हुए कहा कि एक बेड पर 2 नहीं 3 लोग भी भर्ती करने पड़ें तो हम मना नहीं करेंगे. किसी को इलाज की जरूरत है तो उसको एडमिट किया जाएगा. जहां तक एक बेड पर 2 या 3 की बात है तो इमरजेंसी में लाया जाता है. उसके बाद वार्ड में शिफ्ट करते हैं. आधा घंटा रखना पड़ा तो रख सकते हैं. चिकनगुनिया के एक भी मरीज को भर्ती होने की जरूरत नहीं है. डेंगू के अंदर 5 प्रतिशत से ज्यादा लोगों को भर्ती होने की जरूरत नहीं. लोगों में पैनिक क्रिएट हो जाता है.

केंद्र सरकार पर लगाए आरोप
हालांकि मंत्री महोदय अस्पताल के इंतजामों को लेकर अपनी सरकार का बचाव करते रहे, लेकिन जब उन्हें ये बताया गया कि 1 बेड में 2 मरीजों का इलाज सिर्फ इमरजेंसी के लिए नहीं बल्कि कई दिनों तक हो रहा है तो उन्होंने केंद्र सरकार पर ही ठीकरा फोड़ दिया. सत्येंद्र जैन ने कहा कि बेड की कमी दूर करने की जरूरत है. डीडीए से जमीन मांग रहे हैं. 10 अस्पतालों के लिए डेढ़ साल से जमीन मांग रहे हैं. दिलवा दीजिये जमीन, अस्पताल बना लेंगे.

एम्स-सफदरजंग पर भी बरसे मंत्री
इस दौरान सत्येंद्र जैन ने दिल्ली के 2 बड़े अस्पतालों एम्स और सफदरजंग में मरीजों को जगह न देने का आरोप भी लगाया. मंत्री ने कहा कि दिल्ली में दो तिहाई मरीज दिल्ली के बाहर से आ रहे हैं. हम किसी को मना नहीं कर रहे, सबको एडमिट कर रहे हैं. लेकिन केंद्र सरकार अस्पताल को कहे कि अपने गेट खोल लें, लोगों को मना न करें. एम्स और सफदरजंग को अब किसी को मना नहीं करना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें