scorecardresearch
 

पाकिस्‍तान सीमा से सटे जैसलमेर में मिला ड्रोन, सुरक्षा एजेंसियां चौकन्‍नी

अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि यह ड्रोन पाकिस्‍तान से आया है या नहीं, लेकिन सीमावर्ती इलाका होने की वजह से यह मसला काफी सनसनीखेज है और पुलिस ने इसकी गंभीरता से इसकी जांच शुरू कर दी है.

जमीन पर गिरा मिला ड्रोन जमीन पर गिरा मिला ड्रोन

राजस्‍थान में पाकिस्‍तान की सीमा से सटे जिले जैसलमेर में ड्रोन (UAV) मिलने से हलचल मच गई और सुरक्षा एजेंसियां चौकन्‍ना हो गई हैं. एक किसान ने इस ड्रोन को उठाकर स्‍थानीय थाने में जमा कराया. अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि यह ड्रोन पाकिस्‍तान से आया है या नहीं, लेकिन सीमावर्ती इलाका होने की वजह से यह मसला काफी सनसनीखेज है और पुलिस ने इसकी गंभीरता से इसकी जांच शुरू कर दी है.

प्रत्‍यक्षदर्श‍ियों के अनुसार एक स्‍थानीय किसान दिलबर खान ने मोहनगढ़ थाने के तहत आने वाले नेदाई गांव के पास देवा माइनर में कुछ गतिविधियां देखी. उसने देखा कि एक पेड़ से कुछ गिर रहा है. उसने जब ड्रोन को नीचे गिरा पाया तो इसे लेकर थाने में सौंप दिया. पुलिस के अनुसार यह काफी आधुनिक यूएवी क्‍वॉड कॉप्‍टर है और इसमें बहुत उच्‍च स्‍तर के कैमरे लगे हैं.

गौरतलब है कि ड्रोन ऐसे आधुनिक मानव रहित छोटे विमान जैसे यंत्र होते हैं जिन्‍हें रिमोट से संचालित किया जाता है. वैसे तो इसके तमाम जनउपयोगी इस्‍तेमाल हैं, लेकिन हाल के दिनों में तमाम देशों द्वारा सीमावर्ती इलाके में इससे जासूसी करने की चलन काफी बढ़ी है. ड्रोन के इस्‍तेमाल को लेकर तमाम देशों के बीच आरोप-प्रत्‍यारोप भी लगते रहे हैं. 

गुरुवार को चीन की ओर से दावा किया गया है कि भारत का एक ड्रोन (UAV) उसके एयरस्पेस में घुस गया है. इस पर चीन ने घोर आपत्ति जताई. चीन के वेस्टर्न कमांड ज्वाइंट स्टाफ डिपार्टमेंट के डिप्टी हेड झांग शुइली का कहना है कि भारतीय यूएवी ने हाल ही में चीन के एयरस्पेस में घुसपैठ की है. उनके अनुसार चीन बॉर्डर पर तैनात चीनी सैनिकों ने इस बात की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि भारत के इस कदम ने चीन की सुरक्षा संप्रभुता का उल्लंघन किया है, हम इसका विरोध करते हैं. हम चीन की संप्रभुता को सुरक्षित करने के लिए हर कदम उठाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें