scorecardresearch
 

कांग्रेस सांसद अधीर रंजन ने राष्ट्रपति मुर्मू से मांगी माफी, चिट्ठी में लिखा- जुबान फिसल गई थी

लोकसभा में कांग्रेस के नेता सदन अधीर रंजन चौधरी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को चिट्ठी लिखकर अपने बयान के लिए माफी मांगी है. उन्होंने कहा कि जुबान फिसलने की वजह से उन्होंने राष्ट्रपति पद के लिए अनुपयुक्त शब्द का इस्तेमाल किया. उन्हें इसके लिए खेद है और वो इसके लिए माफी मांगते है.

X
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी (Photo: PTI) राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी (Photo: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राष्ट्रपति की जगह बोल गए थे राष्ट्रपत्नी
  • स्मृति ईरानी ने किया था जबरदस्त विरोध

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने जब गलती से 'राष्ट्रपत्नी' कहकर संबोधित किया, तो बीजेपी ने इस पर सियासी बवाल खड़ा कर दिया. सदन में केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने जोरदार तरीके से इसकी मुखाफलत की. अब अधीर रंजन चौधरी ने अपने इस बयान के लिए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को चिट्ठी लिखकर माफी मांगी है.

कहा-फिसल गई थी जुबान

लोकसभा में कांग्रेस के नेता सदन अधीर रंजन चौधरी ने अपनी चिट्ठी में कहा- मैंने आपके पद को परिभाषित करने के लिए गलती से एक अनुपयुक्त शब्द का इस्तेमाल किया था. मुझे इसका खेद है. मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि ऐसा सिर्फ जुबान फिसलने की वजह से हुआ था. मैं इसके लिए माफी मांगता हूं और उम्मीद करता हूं कि आप मुझे माफ कर देंगी.

अधीर रंजन चौधरी का पत्र
अधीर रंजन चौधरी का पत्र

 

अधीर के बोल पर बीजेपी 'अधीर'

अधीर रंजन चौधरी ने लोकसभा में बुधवार को राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रपत्नी शब्द का इस्तेमाल किया था. उनके इस बयान पर गुरुवार को संसद में जमकर हंगामा हुआ. सत्ता पक्ष से विरोध दर्ज करने की जिम्मेदारी संभाली केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने. उन्होंने इसे देश की स्मृति ईरानी द्रौपदी मुर्मू के अपमान के साथ-साथ आदिवासी समुदाय और महिलाओं का भी अपमान बताया. इसे लेकर उन्होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी माफी मांगने की मांग की.

हालांकि मामले को बिगड़ता देख अधीर रंजन चौधरी ने अपने इस बयान के लिए माफी मांगी और इसे जुबान फिसलना कहा. उन्होंने कहा कि वह हिंदी के बहुत अच्छे जानकार नहीं हैं, इसलिए उनकी जुबान फिसल गई थी. साथ ही ऐलान किया था कि उन्होंने राष्ट्रपति से मिलने का वक्त मांगा है और वह इसके लिए उनसे माफी मांगेंगे.

अधीर रंजन के माफी मांगने के बावजूद इस मसले पर विवाद थमा नहीं. बल्कि सदन के अंदर कांग्रेस नेता सोनिया गांधी और स्मृति ईरानी के बीच भी तीखी नोंक-झोंक देखी गई. हालांकि अब अधीर रंजन चौधरी ने इस मामले में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को पत्र लिखकर माफी मांग ली है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें