scorecardresearch
 

सुप्रीम कोर्ट अपने कॉम्प्लेक्स में COVID सेंटर बनाने पर सहमत, दिल्ली सरकार से मांगा ब्लू प्रिंट

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के अपने नए कॉम्प्लेक्स में करोना सेंटर (Corona Center) शुरू करने की सहमति दे दी है. दिल्ली सरकार (Delhi government) से इसके लिए ब्लू प्रिंट मांगा गया है.

सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम कोर्ट
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सुप्रीम कोर्ट नए चैंबर भवन में कोविड सेंटर बनाने पर सहमत
  • सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन ने की थी पहल

सुप्रीम कोर्ट कॉम्प्लेक्स में कोरोना मरीजों के लिए अस्थायी इन-पेशेंट सुविधा के लिए सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन (SCBA) ने पहल की. जिस पर अब सुप्रीम कोर्ट प्रशासन ने अपनी सैद्धांतिक सहमति व्यक्त की है. कोर्ट में वकीलों के नए चैंबर भवन में कोविड-19 देखभाल केंद्र निर्मित किया जा सकेगा. 

दरअसल, दिल्ली में इस समय कोरोना का कहर जारी है. ऐसे में सुप्रीम कोर्ट कॉम्प्लेक्स में कोरोना मरीजों के लिए अस्थायी इन-पेशेंट सुविधा के लिए SCBA ने एक प्रस्ताव रखा था. गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट SCBA के इस प्रस्ताव पर ‘सिद्धांतत:’ सहमत हो गया है कि यहां वकीलों के नए चैंबर भवन में कोविड केयर सेंटर निर्मित किया जाए.

हालांकि सुप्रीम कोर्ट प्रशासन ने यह स्पष्ट किया है कि सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री के कर्मचारी इस प्रस्तावित सुविधा (कोविड केयर सेंटर) से संबद्ध नहीं होंगे. यह दिल्ली सरकार को तय करना है कि इसे कैसे संचालित की जाए. 

यदि GNCTD ब्लू प्रिंट के अनुसार, अपने स्वयं के मूल्यांकन के आधार पर प्रस्तावित स्थान पर कोविड केयर सेंटर स्थापित करने के लिए आगे आता है तो सुप्रीम कोर्ट प्रशासन संबंधित विभाग को स्थान सौंपने पर विचार कर सकता है. 

आपको बता दें कि बार एसोसिएशन पिछले कई दिनों से सुप्रीम कोर्ट के परिसर में ही कोरोना अस्पताल शुरू करने की मांग कर रहा था. जिसपर चीफ जस्टिस ने सुप्रीम कोर्ट की नई बिल्डिंग में करोना सेंटर खोलने की इजाजत भी दे दी, लेकिन अब बताया जा रहा है कि दिल्ली सरकार ने इस सेंटर को चलाने में असमर्थता जताई है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×