scorecardresearch
 

बिहार MLC चुनाव में आज वोटिंग, तेजस्वी की रणनीति की परीक्षा तो नीतिश का लिटमट टेस्ट, जानिए 24 सीटों का गुणा-गणित

Bihar Mlc election: बिहार में 24 MLC सीटों पर सोमावर को वोटिंग है. एमएलसी चुनाव में तेजस्वी यादव की रणनीति की परीक्षा है, जिसमें वो कांग्रेस से अलग चुनावी मैदान में हैं. वहीं, नीतीश कुमार के लिए लिटमस टेस्ट है, जिसमें एनडीए एकजुट होकर चुनावी मैदान में उतरा है. मुकेश सहनी और चिराग पासवान की साख भी दांव पर है.

X
तेजस्वी यादव और नीतीश कुमार तेजस्वी यादव और नीतीश कुमार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एमएलसी चुनाव में कांग्रेस और आरजेडी आमने-सामने
  • एनडीए एकजुट होकर एमएलसी चुनाव में उतरा है
  • चिराग पासवान और मुकेश सहनी की प्रतिष्ठा दांव पर है

बिहार विधानसभा चुनाव के करीब दो साल बाद अब बारी विधानपरिषद के चुनाव की है. सूबे की 24 एमएलसी सीटों पर चुनाव के लिए सोमवार को मतदान हो रहा है, जिसमें 187 प्रत्याशियों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है. एनडीए एकजुट होकर चुनाव में उतरा है तो महागठबंधन में कांग्रेस और आरजेडी अलग-अलग किस्मत आजमा रहे हैं. वहीं, चिराग पासवान और मुकेश सहनी की भी साख दांव पर है. 

एनडीए और आरजेडी गठबंधन में मुकाबला

बिहार की 24 विधानपरिषद सीटों के लिए एनडीए और आरजेडी के बीच कांटे का मुकाबला माना जा रहा है. एनडीए एकजुट होकर मैदान में है, जिसके तहत बीजेपी 12 और जेडीयू ने 11 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार रखे हैं. एक सीट पर केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस की राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी चुनाव लड़ रही है. 

वहीं, महागठबंधन में आरजेडी और कांग्रेस अलग-अलग चुनाव लड़ रहे हैं, आरजेडी 23 सीटों पर तो सीपीआई एक सीट पर चुनाव लड़ रही है. कांग्रेस 15 सीटों पर किस्मत आजमा रही है. इसके अलावा कुछ सीटों पर चिराग पासवान की लोजपा रामविलास और मुकेश सहनी के वीआईपी के उम्मीदवार भी हैं. ऐसे में कांग्रेस, वीआइपी के संस्थापक मुकेश सहनी और चिराग पासवान की साख कसौटी पर है. 

निर्दलीय ने बनाया त्रिकोणीय मुकाबला

बिहार की 24 सीटों में से सात से आठ सीटों पर त्रिकोणीय मुकाबला होने की संभावना है. इसमें मुख्य रूप से सारण जिले में निर्दलीय प्रत्याशी सच्चिदानंद राय, मधुबनी में सुमन महासेठ, मोतिहारी में महेश्वर सिंह, पटना में लल्लू मुखिया और गया में सत्येंद्र कुमार के अलाव रोहतास-कैमूर में रविशंकर पासवान के अलावा कई और सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशियों के मजबूत लड़ाई की स्थिति में होने की वजह से त्रिकोणीय मुकाबले के संकेत मिल रहे हैं.

MLC चुनाव में कौन करेगा मतदान

स्थानीय निकाय की 24 विधान परिषद सीटों पर कुल 1,34,106 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. इसमें  सांसद, विधायक, विधान पार्षद, त्रिस्तरीय पंचायत के वार्ड सदस्य, मुखिया, ग्राम पंचायत सदस्य, प्रमुख, जिला परिषद सदस्य, छावनी क्षेत्र के चुने हुए प्रतिनिधि मतदान करेंगे. 24 सीटों पर 187 प्रत्याशी मैदान में है. ऐसे में वोटिंग के लिए 534 प्रखंड मुख्यालय (ब्लॉक) में मतदान केंद्र बनाए गए हैं. सोमवार की सुबह आठ बजे से मतदान शुरू होगा और शाम चार बजे तक जारी रहेगा. 

चुनाव में ऐसे करना होगा मतदान

मतदाता बैंगनी स्केच पेन से मतपत्र पर मूल्यांकन कर मतपेटी में मतदान करेंगे. मतदाताओं को चुनाव कर्मियों द्वारा दिए गए पेन की मदद से अपनी पसंद के प्रत्याशी के नाम के आगे अंक लिखकर मतदान करना होगा. किसी भी हाल में मतदाता मतपत्र पर ना तो हस्ताक्षर कर सकेंगे, ना ही अंगूठे का निशान लगा सकेंगे. मतदाताओं के लिए स्पष्ट किया गया है कि वे यदि मतपत्र पर हस्ताक्षर करते हैं या अंगूठे का निशान लगाते हैं तो उनका मत बेकार चला जाएगा. 

कहां कितने प्रत्याशी मैदान में है
एमएलसी चुनाव में पटना में छह, नालंदा में पांच, गया-जहानाबाद-अरवल में पांच, औरंगाबाद में आठ, नवादा में 11, भोजपुर-बक्सर में दो, रोहतास-कैमूर में 9, सारण में आठ, सिवान में आठ, गोपालगंज में छह, पश्चिम चंपारण में सात, पूर्वी चंपारण में सात, मुजफ्फरपुर में छह, वैशाली में छह, सीतामढ़ी-शिवहर में पांच, दरभंगा में 13, समस्तीपुर में आठ, मुंगेर-जमुई-लखीसराय-शेखपुरा में 13, बेगूसराय-खगडिया में 12, सहरसा-मधेपुरा-सुपौल में 14, भागलपुर-बांका में सात, मधुबनी में छह, पूर्णिया-अररिया सह किशनगंज में सात और कटिहार निर्वाचन क्षेत्र में आठ प्रत्याशी चुनावी मैदान में किस्मत आजमा रहे हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें