scorecardresearch
 

बेहतरीन एक्टर फारुख शेख के जन्मदिन पर जानें उनके बारे में कुछ खास बातें

फिल्म 'शतरंज के खि‍लाड़ी', 'उमराव जान', 'कथा', 'बाजार', 'चश्म-ए-बद्दूर', 'क्लब 60' और कई बेहतरीन फिल्मों में अपने सादगी भरे अभिनय से दिल जीतने वाले एक्टर फारुख शेख का आज जन्मदिन है.

Farooq Sheikh Farooq Sheikh

फिल्म 'शतरंज के खि‍लाड़ी', 'उमराव जान', 'कथा', 'बाजार', 'चश्म-ए-बद्दूर', 'क्लब 60' और कई बेहतरीन फिल्मों में अपने सादगी भरे अभिनय से दिल जीतने वाले एक्टर फारुख शेख का आज जन्मदिन है.

फारुख शेख का जन्म 1948 में आज ही के दिन गुजरात के अमरोली में हुआ था. साल 1977 से लेकर 1989 तक उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाया इसके अलावा साल 1999 से लेकर 2002 तक टीवी की दुनिया में अपनी एक अलग पहचान कायम की. फारुख शेख ने सत्यजीत रे, मुज्जफर अली, ऋषिकेश मुखर्जी और केतन मेहता जैसे डायरेक्टर्स के साथ काम किया. फिल्म और टीवी की दुनिया का जाना माना चेहरा माने जाने वाले इस महान कलाकार के बारे में आइए जानते हैं कुछ खास बातें:

1. फारुख का जन्म गुजरात के एक मुस्लिम परिवार में हुआ उनके पिता मुस्तफा शेख एक जाने माने वकील थे.

2. फारुख शेख लॉ के स्टूडेंट थे और उनके पिता चाहते थे कि फारुख भी उनकी तरह वकील के तौर पर नाम कमाएं लेकिन फारुख की रुचि इस पेशे से ज्यादा एक्टिंग में थी.

3. अपने कॉलेज के दिनों में फारुख थिएटर में काफी एक्टिव रहे. थिएटर में उनकी बेहतरीन परफॉर्मेंस की बदौलत ही उन्हें 1973 में रिलीज हुई फिल्म 'गर्म हवा' में ब्रेक मिला. इस फिल्म के लिए उन्हें 750 रुपये फीस के तौर अदा किए गए.

4. फारुख शेख ने एक्ट्रेस शबाना आजमी के साथ फिल्म 'लोरी', 'अंजुमन', 'एक पल' और 'तुम्हारी अमृता' जैसी कई बे‍हतरीन फिल्मों में अभिनय किया.

5. फारुख शेख के साथ दीप्ति नवल की ऑनस्क्रीन जोड़ी को दर्शकों ने बेहद पसंद किया. यह जोड़ी काफी हिट रही. दीप्ति नवल के साथ फारुख शेख ने करीब 7 फिल्मों में काम किया जिनमें 'चश्म-ए-बद्दूर' , 'कथा', 'साथ-साथ', 'किसी से ना कहना', 'रंग बिरंगी' जैसी फिल्में शामिल थीं.

6. एक अंग्रेजी अखबार को दिए गए इंटरव्यू में फारुख शेख ने कहा था कि उन्हें दर्शक पसंद करते थे. अपने जमाने में जब वह आम लोगों के बीच जाया करते थे लोग मुझे जानते थे, देखकर हाथ हिलाते थे और स्माइल पास करते थे. उन्होंने कहा, ' मुझे कभी खून से लिखे गए खत या शादी के ऑफर नहीं मिले जैसे कि राजेश खन्ना और बाकी एक्टर्स को मिलते थे.'

7. 90 के दशक में भी फारुख साहब कुछ एक फिल्मों में नजर आए जिनमें  'सास, बहू और सेंसेक्स', 'लाहौर' और 'क्लब 60' शामिल हैं. 'लाहौर' में उनके अभिनय के लिए उन्हें साल 2010 में बेस्ट सर्पोटिंग एक्टर के रोल के लिए नेशनल अवॉर्ड से नवाजा गया.

8. 2014 में रिलीज हुई 'यंगिस्तान' फारुख शेख की आखिरी फिल्म थी.

9. फारुख शेख टीवी शो 'जीना इसी का नाम है' के लिए मशहूर हुए. इस शो में उन्होंने कई जानी मानी हस्तियों के इंटरव्यू किए.

10. 28 दिसंबर 2013 को फारुख साहब दिल का दौरा पड़ने से इस दुनिया को अलविदा कह गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें