scorecardresearch
 

राम मंदिर के आंदोलन से निर्माण तक, 500 सालों के इतिहास पर बनेगी डॉक्यूमेंट्री फिल्म, PM मोदी भी आएंगे नजर

Ram Mandir documentary: इस डॉक्यूमेंट्री में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंदिर भूमि पूजन का दृश्य भी दिखाया जाएगा. फिल्म को लेकर हर बारीकी पर ध्यान दिया जा रहा है. प्रसार भारती ने इस डॉक्यूमेंट्री पर काम भी शुरू कर दिया है.

X
ऐसा होगा राम मंदिर ऐसा होगा राम मंदिर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राम मंदिर पर तैयार होगी डॉक्यूमेंट्री फिल्म
  • मंदिर निर्माण से जुड़े हर पहलू देखने को मिलेंगे

राम मंदिर के लिए हुए संघर्ष और बलिदान को अब पर्दे पर दिखाया जाएगा. जी हां, राम मंदिर आंदोलन के संघर्ष को डॉक्यूमेंट्री फिल्म के जरिए पर्दे पर दिखाने की तैयारी की जा रही है. इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म में 1528 से लेकर राम मंदिर निर्माण की हर एक कड़ी को पेश किया जाएगा. फिल्म का उद्देश्य राम मंदिर आंदोलन के पिछले 500 सालों के संघर्ष को अगली पीढ़ी तक पहुंचाना है. 

राम मंदिर पर बनेगी डॉक्यूमेंट्री फिल्म

इस डॉक्यूमेंट्री में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंदिर भूमि पूजन का दृश्य भी दिखाया जाएगा. फिल्म को लेकर हर बारीकी पर ध्यान दिया जा रहा है. श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के मार्गदर्शन में इसको लेकर एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म बनाई जा रही है.

प्रसार भारती ने इस डॉक्यूमेंट्री पर काम भी शुरू कर दिया है. राम मंदिर संघर्ष और आंदोलन से लेकर सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद मंदिर निर्माण तक की एक-एक कड़ी को इस डॉक्यूमेंट्री में पिरोया जाएगा. इस तरह राम मंदिर को लेकर हुए संघर्ष और बलिदान की गाथा भावी पीढ़ी तक पहुंचाने की तैयारी है. 

जब TV पर बहू बनकर नजर आईं Urfi Javed, आपने पहचाना? 

राम मंदिर के हर पहलू को दिखाएगी फिल्म

डॉक्यूमेंट्री फिल्म एक तरह से राम मंदिर के लिए हुए संघर्ष और उसके निर्माण की पूरी कहानी पर बेस्ड होगी. इसमें 1528 से लेकर राम मंदिर निर्माण तक की पूरी कहानी बताई और समझाई जाएगी.

फिल्म में राम मंदिर के लिए बलिदानियों की गाथा के साथ-साथ, कब-कब संघर्ष और आंदोलन हुए यह सब कुछ भी आपको देखने को मिलेगा. डॉक्यूमेंट्री फिल्म में मंदिर निर्माण से जुड़े हर पहलू देखने को मिलेंगे. इसके लिए राम मंदिर ट्रस्ट निर्माण के प्रत्येक चरण की वीडियोग्राफी करा रहा है.

शादी के डर से घर से भागीं, फिल्मों पर मचा बवाल, कौन हैं Kaali Poster Controversy में घिरीं Leena Manimekalai? 

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा- प्रसार भारती इस काम में लग गया है. अब कोशिश तो यही की जाएगी कि फिल्म अपने में परिपूर्ण हो. परिपूर्णता का अर्थ यही होता है, प्रारंभ 1528 से लेकर वर्तमान तक का दृश्य दिखाया जाए, तब वह कंप्लीट मानी जाएगी. जब प्रसार भारती फिल्म बनाएगा तो हम उसका अध्ययन करेंगे और देखेंगे कि कहीं कोई तथ्य गलत ना हो जाए. कोई तथ्य अतिरेक न हो जाय. फिल्म समाज में प्यार और मोहब्बत बढ़ाए और सही तथ्यों की जानकारी आने वाली पीढ़ियों को दे, यह हमारा काम है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें