scorecardresearch
 

Saran: बाहुबली प्रभुनाथ सिंह के छोटे भाई और भतीजे भी चुनावी रण में कूदे

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए नामांकन की होड़ लगी है. बाहुबली और पूर्व आरजेडी सांसद प्रभुनाथ सिंह के छोटे भाई और भतीजे भी चुनाव मैदान में कूद पड़े हैं. छोटे भाई आरजेडी विधायक केदार सिंह ने बनियापुर से नामांकन भरा है. केदार सिंह 2005 से लगातार इस क्षेत्र से विधायक चुने जाते रहे हैं.

Bahubali Prabunath Singh younger brother and nephew in election Bahubali Prabunath Singh younger brother and nephew in election
स्टोरी हाइलाइट्स
  • साजिश के तहत जेल में बंद कराया प्रभुनाथ सिंह को
  • सरकार ने किया परेशान इसलिए चुनाव में कूदे
  • विधायक इलाके में नहीं कर रहे थे काम

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए नामांकन की होड़ लगी है. बाहुबली और पूर्व आरजेडी सांसद प्रभुनाथ सिंह के छोटे भाई और भतीजे भी चुनाव मैदान में कूद पड़े हैं. छोटे भाई आरजेडी विधायक केदार सिंह ने बनियापुर से नामांकन भरा है. केदार सिंह 2005 से लगातार इस क्षेत्र से विधायक चुने जाते रहे हैं.

नामांकन करने के बाद केदार सिंह ने कहा कि साजिश करके न सिर्फ उनके बड़े भाई प्रभुनाथ सिंह बल्कि आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद को जेल में बंद किया गया है. इसका जनता में बहुत आक्रोश है. उन दोनों के नहीं रहने से चुनाव पर तो असर पड़ रहा है. लेकिन सभी कार्यकर्ता खुद को प्रभुनाथ और लालू समझ कर पूरी तरह से आत्मविश्वास से भरपूर हैं. 

केदार सिंह ने अपने बड़े भाई प्रभुनाथ सिंह की बाहुबली की छवि होने से भी इंकार किया. उन्होंने कहा कि अगर बाहुबली रहते तो इतनी जनता यहां नहीं आती. वहीं तरैया विधानसभा से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में सांसद प्रभुनाथ सिंह के भतीजे सुधीर कुमार सिंह ने अपना नामांकन दाखिल किया. 

सुधीर कुमार सिंह ने नामांकन के बाद कहा कि बीते 10 साल में दोनों विधायकों ने क्षेत्र में कोई भी विकास का कार्य नहीं किया. इसलिए क्षेत्र की जनता ने मुझे चुनाव में जिताने का फैसला किया है. मैं जीतने के बाद प्रदेश से बाहर रह रहे मित्रों को आमंत्रित करके कोई ना कोई उद्योग लगवाने की कोशिश करूंगा. ताकि क्षेत्र के लोगों को रोजगार मिले.

ये भी पढ़े

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें