scorecardresearch

विधानसभा चुनाव 2021

बीजेपी में शामिल हुए अभिनेता मिथुन चक्रवती, पार्टी का पटका किया धारण

विधानसभा चुनाव 2021

देश के चार राज्यों - पश्चिम बंगाल (West Bengal), असम (Assam), केरल (Kerala), तमिलनाडु (Tamil Nadu) और केंद्र शासित प्रदेश पुदुचेरी (Puducherry) के विधानसभा चुनाव (Legislative Assembly Elections) की तारीखों का ऐलान हो गया है. तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में एक चरण में 6 अप्रैल को विधानसभा चुनाव होने हैं. असम में 3 चरणों में 27 मार्च, 1 अप्रैल और 6 अप्रैल को विधानसभा चुनाव कराए जाएंगे. पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में 27 मार्च, एक अप्रैल, 6 अप्रैल, 10 अप्रैल, 17 अप्रैल, 22 अप्रैल, 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को मतदान होगा.  सभी राज्यों में सभी सीटों के लिए वोटों की गिनती 2 मई को होगी. 

पश्चिम बंगाल विधानसभा का कार्यकाल 30 मई 2021 को पूरा हो रहा है. ऐसे में 30 मई से पहले हर हाल में विधानसभा और नई सरकार के गठन की प्रकिया पूरी होनी है. पश्चिम बंगाल में कुल 294 विधानसभा सीटें हैं. पिछले 10 साल से ममता बनर्जी यहां मुख्यमंत्री हैं.

140 सीटों वाली केरल विधानसभा का कार्यकाल एक जून को खत्म हो रहा है. राज्य में 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में कम्युनिस्ट पार्टी की अगुवाई वाले गठबंधन लेफ्ट डेमोक्रेटिक फ्रंट ने 91 सीटों पर जीत हासिल की थी. पिनाराई विजयन राज्य के 12वें मुख्यमंत्री बने. कांग्रेस की अगुवाई वाला यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट दूसरे नंबर पर रहा था.126 सीटों वाली असम विधानसभा का कार्यकाल 31 मई को समाप्त हो रहा है. 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में BJP ने राज्य में 15 साल से सत्तासीन कांग्रेस के शासन को उखाड़ फेंका था. 2016 के चुनाव (Election) में बीजेपी को 86 सीटें मिलीं और सर्वानंद सोनोवाल राज्य के मुख्यमंत्री बने.

तमिलनाडु विधानसभा का कार्यकाल 24 मई को खत्म हो रहा है. 234 सीटों वाली तमिलनाडु विधानसभा के लि‍ए 2016 में हुए चुनाव में जयललिता की अगुवाई में एआईएडीएमके ने जीत हासिल की थी. 5 दिसम्बर 2016 को जयललिता के निधन के बाद ओ पनीरसेल्वम राज्य के सीएम बने लेकिन केवल 73 दिनों तक ही वो मुख्यमंत्री की कुर्सी पर टिके रह सके. 16 दिसम्बर 2017 को ई पलानीस्वामी राज्य के नए मुख्यमंत्री बने. केंद्रशासित प्रदेश पुदुचेरी में विधानसभा का कार्यकाल आठ जून को खत्म हो रहा है. 30 सीटों वाली पुदुचेरी विधानसभा के लिए 2016 में हुए चुनाव में Congress की अगुवाई वाले यूपीए गठबंधन को जीत हासिल हुई थी. यूपीए को कुल 17 सीटों पर जीत मिली जिनमें कांग्रेस को अकेले 15 सीटें हासिल हुई थीं. पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा कांग्रेस के सीनियर नेता वी नारायणस्वामी पुदुचेरी के मुख्यमंत्री बने.