scorecardresearch
 

बिहार बोर्ड: 'प्रोडिकल साइंस' वाली रूबी के कारण फेल हुए 64 फीसदी छात्र?

बिहार बोर्ड के 12वीं रिजल्‍ट में 64 प्रतिशत छात्र फेल हो गए हैं. ये अब तक देश के किसी राज्‍य का सबसे खराब रिजल्‍ट माना जा रहा है. जानिए क्‍या है इसकी वजह...

रूबी राय रूबी राय

इस साल बिहार बोर्ड 12वीं का रिजल्‍ट बहुत खराब रहा है. बिहार बोर्ड में ओवर ऑल 64 प्रतिशत छात्र फेल हो गए हैं, जिसमें 70 फीसदी साइंस स्ट्रीम, 63 प्रतिशत आर्ट्स और 26 फीसदी कॉमर्स के स्टूडेंट शामिल हैं. तो क्‍या है इसकी वजह.

जानकार बता रहे हैं कि पिछले साल बिहार में सामने आया टॉपर्स स्‍कैम ही वो वजह है, जो बिहार बोर्ड ने इस बार हर कदम फूंक-फूंककर रखा है.

देश में सबसे खराब Bihar Board 12वीं का रिजल्ट, कुल 64% हो गए हैं फेल

कौन है रूबी राय
रूबी राय पिछले साल की टॉपर घोषित की गई थी. पर एक इंटरव्‍यू में वो पॉलिटिकल साइंस को सही तरह से प्रोनाउंस भी नहीं कर सकी थी. जिसके बाद उसके टॉप करने पर सवाल खड़े हो गए थे. जांच में बड़ा घोटाला सामने आया था. तब बिहार आर्ट्स की फर्जी टॉपर रूबी राय ने जांचकर्ताओं के सामने कहा था कि वह सिर्फ पास होना चाहती थी लेकिन उनके पिता ने उन्हें टॉप करवा दिया.

'आज तक' ने किया था खुलासा
रूबी राय का फर्जीवाड़ा तब सामने आया था जब 'आज तक' ने एक वीडियो में दिखाया कि किस तरह बिहार के टॉपर अपने सब्जेक्ट के आसान से सवालों का भी जवाब नहीं दे सके. रूबी ने तो अपने इंटरव्यू के दौरान पॉलिटिकल साइंस विषय को 'प्रोडिकल साइंस' कहा था. जब उनसे पूछा गया कि इस विषय में क्या-क्या होता है तो रूबी ने कहा कि इसमें खाना बनाना सिखाया जाता है. वहीं साइंस टॉपर सौरभ श्रेष्ठ ने भी आसान से सवालों का बेतुका जवाब दिया था. इस वीडियो के बाद इन टॉपर्स का रिव्यू एग्जाम लिया गया था. जिनमें ये फेल हो गए थे.

RESULT: Bihar Board का बुरा हाल, 70% छात्र Science में फेल

इस साल चौकन्‍ना रहा बिहार बोर्ड
दसवीं और इंटर की परीक्षा में नकल के आरोपों और पिछले साल हुए टॉपर्स घोटाले से जली बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इस साल फूंक-फूंक कर कदम रखा. इस बार समिति ने परीक्षाओं की मीडिया कवरेज पर रोक लगा दी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें