scorecardresearch
 

कश्मीर यूनिवर्सिटी की पहली महिला VC बनीं प्रोफेसर नीलोफर खान

होम साइंस डिपार्टमेंट की प्रोफेसर डॉ. नीलोफर खान को कश्मीर यूनिवर्सिटी की नई वाइस चांसलर के पद पर नियुक्त किया गया है. उनका कार्यकाल तीन साल का होगा.

X
 Kashmir University's first woman Vice-Chancellor Prof Nilofar Khan Kashmir University's first woman Vice-Chancellor Prof Nilofar Khan
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कश्मीर यूनिवर्सिटी की पहली महिला VC
  • जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल ने किया नियुक्त

जम्मू और कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा (Lieutenant Governor Manoj Sinha) ने गुरुवार को होम साइंस डिपार्टमेंट की प्रोफेसर डॉ. नीलोफर खान को कश्मीर विश्वविद्यालय (University of Kashmir) का नया कुपति नियुक्त किया है. वे कश्मीर यूनिवर्सिटी की पहली महिला वाइस चांसलर बनीं.

जम्मू और कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर सेक्रेटेरियट की ओर से जारी एक नोटिफिकेशन में कहा गया कि विश्वविद्यालय अधिनियम, 1969 की धारा 12 के तहत निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए, मैं मनोज सिन्हा, चांसलर कश्मीर यूनिवर्सिटी, गृह विज्ञान विभाग की प्रोफेसर नीलोफर खान को कश्मीर यूनिवर्सिटी का वाइंस चांसलर के पद पर नियुक्त करता हूं. कश्मीर विश्वविद्यालय के कुलपति का कार्यकाल चार्ज लेने की तारीख से तीन (03) साल की अवधि तक होगा.

दरअसल, प्रोफेसर नीलोफर खान प्रीमियर संस्थान में नियुक्त होने वाली पहली महिला हैं. वे पृथ्वी-वैज्ञानिक प्रोफेसर तलत अहमद का स्थान लेंगी, जिनका तीन साल का कार्यकाल अगस्त 2021 में समाप्त हुआ था. प्रोफेसर तलत अहमद 2018 से 2021 तक यूनिवर्सिटी के वीसी (Vice-Chancellor) के पद पर रहे. इससे पहले उन्हें 2011 से 2014 तक कश्मीर यूनिवर्सिटी वीसी के पद पर नियुक्त किया गया था.

बता दें कि जम्मू और कश्मीर विश्वविद्यालय (University of Jammu and Kashmir) की स्थापना वर्ष 1948 में हुई थी. वर्ष 1969 में इसे दो विश्वविद्यालयों में बांटा गया था - श्रीनगर में कश्मीर विश्वविद्यालय और जम्मू में जम्मू विश्वविद्यालय. कश्मीर विश्वविद्यालय श्रीनगर के हजरतबल में स्थित है. इसके पूर्वी हिस्से में विश्व प्रसिद्ध डल झील और पश्चिम में निगीन झील है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें