scorecardresearch
 

नाबालिग छात्रा से ब्लैकमेलिंग, अकेले में बुलाकर यौन शोषण करते थे टीचर

दोनों अध्यापक छात्रा को अनजान और सुनसान जगहों पर बुलाते और उसका यौन शोषण करते. लड़की दोनों की हरकतों से तंग आ चुकी थी. जब उसे कुछ और नहीं सूझा तो उसने उनकी शिकायत का मन बनाया.

जिला शिक्षा अधिकारी ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं जिला शिक्षा अधिकारी ने इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं

पंजाब के रोपड़ में ब्लैकमेंलिग और यौन शोषण का हैरान करने वाला मामला सामने आया है, जहां 11वीं की एक छात्रा को उसके दो अध्यापकों ने ब्लैकमेल किया और उसका यौन शोषण किया. उन दोनों अध्यापकों के हाथ लड़की के हाथ का लिखा एक लेटर लग गया था, जो उसने अपने ब्वॉयफ्रेंड को लिखा था.

मामला रोपड़ जिले के एक सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल का है. जहां 11वीं कक्षा में पढने वाली एक छात्रा की दोस्ती अपने क्लासमेट लड़के से थी. लड़का उस छात्रा को लेटर लिखने लगा. लड़की भी जवाब में लेटर लिखती थी. इसी बीच एक लेटर उनके एक अध्यापक के हाथ लग गया.

टीचर के दिमाग में न जाने क्या था कि उसने उस लेटर के सहारे उस नाबालिग छात्रा को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया और वो कलयुगी गुरु लड़की का यौन शोषण करने लगा. यही नहीं उसने स्कूल में पढ़ाने वाले एक अन्य अध्यापक को भी इस बारे में सारी जानकारी दे दी. फिर दोनों मिलकर लड़की को ब्लैकमेल करने लगे.

दोनों उसे अनजान और सुनसान जगहों पर बुलाते और उसका यौन शोषण करते. लड़की दोनों की हरकतों से तंग आ चुकी थी. जब उसे कुछ और नहीं सूझा तो उसने उनकी शिकायत का मन बनाया.

एक दिन परेशान होकर लड़की ने अपने माता-पिता को सारी बात बता दी. घरवाले उसकी बात सुनकर सकते में आ गए. उन्होंने फौरन स्कूल जाकर प्रिंसिपल से मुलाकात की और पूरी घटना के बारे में बताया. जिस पर प्रिंसिपल ने मामले की जानकारी जिला शिक्षा अधिकारी को दी. साथ ही दोनों आरोपी शिक्षकों को उनके स्कूल से हटाने की मांग की.

हालांकि लड़की के घरवाले आरोपी अध्यपकों को बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं. इस मामले की खुलासा हो जाने के बाद दोनों आरोपी टीचर फरार हो गए हैं. जिला शिक्षा अधिकारी ने इस मामले में स्कूल की प्रिंसिपल से रिपोर्ट तलब की है. परिजन अब पुलिस के पास जाने की बात कह रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें