scorecardresearch
 

क्यों नहीं हो पा रही है आर्यन खान की जमानत? जानिए.. कहां अटका है मामला

एनसीबी का तर्क है कि भले ही आर्यन के पास ड्रग्स नहीं मिली हो, लेकिन वह ड्रग्स पेडलर के संपर्क में थे. ये एक बड़ी साजिश है. इसकी जांच जरूरी है. आर्यन खान पर कॉन्ट्राबैंड खरीदने का आरोप लगा था, जबकि वो कॉन्ट्राबैंड अरबाज मर्चेंट के पास से बरामद किया गया था.

आर्यन खान इस मामले में 10 दिन से जमानत का इंतजार कर रहे हैं आर्यन खान इस मामले में 10 दिन से जमानत का इंतजार कर रहे हैं
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हर बार जमानत में पेंच फंसा देती है NCB
  • कोर्ट में एनसीबी ने कहा- ये बड़ी साजिश है
  • अब गुरुवार को होगा आर्यन की जमानत पर फैसला

मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में फंसे आर्यन खान की जमानत पर एक बार फिर टल गई. इससे पहले मुंबई की सेशंस कोर्ट में इस केस पर करीब तीन बजे सुनवाई शुरु हुई थी. जिसमें एनसीबी और आर्यन के वकील ने जमानत के मसले पर दलीलें पेश की. शाम करीब पौने 6 बजे तक सुनवाई चलती रही. इसके बाद अदालत ने जमानत पर अपना फैसला अगले दिन यानी गुरुवार तक के लिए टाल दिया. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की टीम लगातार कोशिश कर रही है कि आर्यन को जमानत ना मिल पाए. एनसीबी ने बुधवार को अदालत में क्या दलील देकर मामला अटकाया, बताते हैं आपको.    

किंग खान के बेटे आर्यन खान को अभी एक रात और आर्थर रोड जेल में ही बितानी पड़ेगी. सेशंस कोर्ट उनकी जमानत पर 14 अक्टूबर यानी गुरुवार को अपना फैसला सुनाएगी. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की टीम आर्यन की जमानत में पहले दिन से ही रोड़े अटका रही है. एनसीबी ने बुधवार को जमानत पर अपना जवाब दाखिल करते हुए कोर्ट से कहा कि इस मामले में एक आरोपी की भूमिका को दूसरे के जर‍िए से नहीं समझा जा सकता है. 

एनसीबी का तर्क है कि भले ही आर्यन के पास ड्रग्स नहीं मिली हो लेकिन वह ड्रग्स पेडलर के संपर्क में थे. ये एक बड़ी साजिश है. इसकी जांच जरूरी है. आर्यन खान पर कॉन्ट्राबैंड खरीदने का आरोप लगा था, जबकि वो कॉन्ट्राबैंड अरबाज मर्चेंट के पास से बरामद किया गया था. कोर्ट में बताया गया कि विदेशों में ड्रग्स से जुड़े लेन-देन को लेकर भी एनसीबी की जांच चल रही है. एनसीबी ने दलील देते हुए कहा कि इस केस के पीछे एक बड़ी साजिश और गैंग है. एनसीबी ने अदालत से अपील करते हुए कहा कि आर्यन खान, अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धानेचा को जमानत नहीं मिलनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें--- खौफनाक वारदातः अवैध संबंध, विवाहित प्रेमिका और एक कत्ल की 'जहरीली' साजिश! 

एनसीबी ने कोर्ट को बताया कि पूछताछ में आर्यन खान आरोपी पाए गए हैं. वह विदेश में किसी व्यक्ति के संपर्क में थे. वो एक इंटरनेशनल ड्रग नेटवर्क का हिस्सा हैं. इस मामले में आगे की छानबीन जारी है. एनसीबी का दावा है कि आर्यन अरबाज से ड्रग्स लेते थे और अरबाज के जरिए उन्होंने कई बार ड्रग्स खरीदी है. पकड़े जाने के वक्त अरबाज मर्चेंट के पास से छह ग्राम चरस बरामद हुई थी. एनडीपीएस एक्ट के सेक्शन 29 तहत आर्यन और अरबाज को आरोपी बनाया गया है.

उधर, आर्यन खान के वकील ने अदालत में साफ कहा कि आर्यन खान के पास किसी तरह का कोई ड्रग्स नहीं मिला है. उनके पास से कैश भी बरामद नहीं हुआ. आर्यन खान, मुनमुन धमेचा को भी नहीं जानते हैं. एनसीबी ने तीनों को क्रूज से अरेस्ट करते हुए एक साथ पेश किया है. लेकिन आर्यन खान का मुनमुन से कोई कनेक्शन नहीं है. एनसीबी मामले को उलझाने की कोशिश कर रही है. वो किसी भी तरह आर्यन की जमानत के रास्ते में बाधा खड़ी कर देती है.

आपको बताते चलें कि बीती 3 अक्टूबर को मुंबई से गोवा जा रहे लग्जरी क्रूज शिप कोर्डेलिया में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने छापेमारी की थी. जहां एनसीबी ने बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान समेत आठ लोगों को गिरफ्तार किया था. हालांकि आर्यन के पास से ना तो ड्रग्स मिली थी और ना ही कैश. इस मामले में पहले दिन से ही एनसीबी की कार्रवाई को लेकर सवाल उठ रहे हैं. कई ऐसे सवाल हैं, जिनके जबाव एनसीबी नहीं दे पा रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें