scorecardresearch
 

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद फतेहाबाद के होटल में रुके थे शूटर

Punjabi singer Sidhu Musewala murder case: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या 29 मई को कर दी गई थी. पुलिस का कहना है कि इस वारदात के बाद आरोपी शूटर ​हरियाणा के फतेहाबाद के एक होटल में रुके थे.

X
सिद्धू मूसेवाला. (File Photo) सिद्धू मूसेवाला. (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 29 मई को कर दी गई थी सिद्धू मूसेवाला की हत्या
  • एके-47 से दिया था वारदात को अंजाम

Punjabi singer Sidhu Musewala murder case: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में पुलिस ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है. दिल्ली पुलिस ने हरियाणा के फतेहाबाद में छापा मारकर होटल मैनेजमेंट से जुड़े पवन गुर्जर और प्रदीप को हिरासत में लिया है. पुलिस सूत्रों का कहना है कि हिसार के किरमारा से हथियार और ग्रेनेड की बरामदगी के साथ गिरफ्तार किए गए सुनील से पूछताछ में फतेहाबाद के होटल के बारे में जानकारी मिली है.

हिरासत में लिए गए पवन और प्रदीप से दिल्ली पुलिस पूछताछ कर रही है. पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार, पवन गुर्जर और प्रदीप पर कई संगीन मामले दर्ज हैं. पूछताछ में पता चला है कि पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद आरोपी शूटर फतेहाबाद के होटल सांवरिया में रुके थे. बता दें कि सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में सोमवार को दिल्ली पुलिस ने 3 शूटर्स को गिरफ्तार किया था. तीनों की गिरफ्तारी गुजरात के मुंद्रा से हुई.

इसके कुछ देर बाद ही दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर खुलासा किया कि हत्याकांड को किस तरह से अंजाम दिया गया था. दिल्ली पुलिस ने बताया था कि गुजरात से मुंद्रा से जिन तीन शूटर्स को गिरफ्तार किया, उनमें से 2 हरियाणा और एक पंजाब का रहने वाला है. तीनों पर पहले से ही हत्या के केस हैं. मूसेवाला की हत्या से पहले 8 से 9 बार रेकी की गई थी. स्पेशल सेल ने पंजाब में संगठित अपराध के खिलाफ बड़े पैमाने पर काम किया है. जैसे ही 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की हत्या की गई, दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की सभी टीम को एक्टिवेट कर दिया गया था.

यह भी पढ़ें: शूटर प्रियव्रत फौजी का खुलासा- 27 मई को ही हो जाती सिद्धू मूसेवाला की हत्या, ऐसी बची थी जान

सबसे पहले छह शूटर्स की पहचान की गई. शूटर्स के 2 मॉड्यूल इस हत्याकांड में शामिल थे. दोनों ही गोल्डी बराड़ के संपर्क में थे. सबसे पहले संदीप केकड़ा सिद्धू मूसेवाला की रेकी करने पहुंचा था. उसने जानकारी दी कि मूसेवाला अपनी थार से बिना सिक्योरिटी घर से निकल गए. मूसेवाला के घर से निकलते ही 2 गाड़ियां उनके पीछे लग गईं. इसमें से एक बोलेरो थी, जिसे कशिश चला रहा था.

इसमें प्रियव्रत (मुख्य शूटर) और अंकित सिरसा थे. दूसरी गाड़ी कोरोला थी, जिसे केशव चला रहा था. इसमें जगदीप रूपा और मनप्रीत थे. केशव ने कोरोला कार टेकओवर कर सिद्धू की जीप के आगे लगा दी. दोनों गाड़ियों से सभी 6 शूटर निकले. मनप्रीत मन्नू ने AK-47 से फायरिंग की. सिद्धू मूसेवाला को गोली लग गई. इसके बाद गाड़ी पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी. सभी 6 शूटर्स ने लगातार फायरिंग की और वहां से भाग निकले.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें