scorecardresearch
 

इटावा: दोस्त की हत्या कर उसकी पत्नी को अपने साथ रखा, दो साल बाद उसे भी मार डाला

यूपी के इटावा के एक युवक ने अपने दोस्त की पत्नी के साथ अफेयर के बाद दोस्त की हत्या कर दी थी. इसके बाद उसकी पत्नी को अपनी बीवी बनाकर रखने लगा. दो साल बाद जब महिला के चरित्र पर शक हुआ तो उसकी भी गोली मारकर हत्या कर दी.

X
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी. पुलिस की गिरफ्त में आरोपी.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • प्रेमी ने 2 वर्ष पूर्व महिला के पति की कर दी थी हत्या
  • 22 जून को नाले में मिला था महिला का शव

उत्तर प्रदेश के इटावा के थाना ऊसराहार क्षेत्र में एक नाले में 22 जून को एक महिला का शव मिला था. जांच में पता चला कि महिला राजस्थान की रहने वाली है. उसके दो बच्चे भी हैं. उसकी हत्या उसके प्रेमी ने गोली मारकर की थी. महिला का प्रेमी ट्रेवल एजेंसी में ड्राइवर था, वह इटावा के पास ऊसराहार का रहने वाला है. महिला अपने बच्चों को लेकर उसके साथ पत्नी बनकर दो साल से रह रही थी. महिला के परिवार वालों ने दो वर्ष पूर्व उसकी और बच्चों की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी.

पुलिस ने बताया कि गजेंद्र नाम का युवक अपनी पत्नी मिथिलेश के साथ नोएडा में रहता था. एक ट्रेवल एजेंसी में गजेंद्र और सतीश दोनों ही ड्राइवर थे. दोनों की दोस्ती हो गई, इसके बाद सतीश का अफेयर गजेंद्र की पत्नी मिथिलेश के साथ हो गया. इसी बीच सतीश, गजेंद्र और उसकी पत्नी मिथिलेश इटावा घूमने पहुंचे. वहां सतीश यादव ने मिथिलेश के साथ मिलकर उसके पति गजेंद्र को जमकर शराब पिलाई और फिर अकेले गाड़ी में बैठाकर सीट बेल्ट लगाकर कार को नहर में फेंक दिया.

गजेंद्र का शव सैफई हवाई पट्टी के पास नहर से बरामद हुआ था, जहां पोस्टमॉर्टम में गजेंद्र की मौत नहर में डूबने से होना बताई गई. इसके बाद मिथिलेश दो महीने के लिए राजस्थान के झुंझुनू में अपनी ससुराल चली गई. वहां से दोनों बच्चों को लेकर परिवार में बिना बताए सतीश के साथ इटावा पहुंची. इसके बाद सतीश और मिथिलेश पति पत्नी की तरह रहने लगे. दो साल बाद सतीश को मिथिलेश पर शक होने लगा कि उसके कहीं अवैध संबंध हो गए हैं. इस पर सतीश मिथिलेश को पूजा के बहाने मंदिर के पास जंगल में ले गया और पीठ में गोली मारकर हत्या कर दी. इसके बाद शव नाले में फेंक दिया. मृतक महिला दुल्हन की तरह सजी थी, उसके पास नारियल, चावल और पूजा सामग्री भी पड़ी थी.

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश सिंह ने बताया कि सतीश यादव ने मिथिलेश के पति गजेंद्र की भी हत्या की थी, जिसमें उसका साथ मिथिलेश ने दिया था. फिर सतीश और मिथिलेश पति पत्नी की तरह रहे. इसके बाद सतीश ने उसकी भी हत्या कर दी है. आरोपी सतीश के पास से तमंचा, कारतूस और हत्या में प्रयुक्त गाड़ी बरामद की है. सतीश को दोनों की हत्या के मामले में आरोपी बनाकर जेल भेजा जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें