scorecardresearch
 

गोंडा: तीन बहनों पर एसिड अटैक का आरोपी एनकाउंटर में घायल, गिरफ्तार

वारदात गोंडा के परसपुर थाना क्षेत्र की है. जहां पसका परसपुर में रहने वाले दलित परिवार की बेटियों पर यह एसिड अटैक किया गया. गोंडा के पुलिस अधीक्षक (SP) शैलेश कुमार पांडे ने बताया कि तीन लड़कियों पर केमिकल से अटैक किया गया है.

तीन घायल बहनों में से एक की हालत गंभीर बनी हुई है तीन घायल बहनों में से एक की हालत गंभीर बनी हुई है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तीन नाबालिग बहनों पर हुआ था हमला
  • एक बहन की हालत गंभीर
  • पुलिस ने जुटाए सबूत

यूपी के गोंडा में तीन दलित बहनों पर एसिड फेंकने की खौफनाक वारदात सामने आई है. वारदात को उस वक्त अंजाम दिया गया, जब तीनों बहनें देर रात घर में सो रही थीं. तीनों लड़कियां नाबालिग हैं. उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने इस मामले की शिकायत मिलते ही आईपीसी की धारा 326ए के तहत एफआईआर दर्ज कर ली. पुलिस ने देर शाम एक मुठभेड़ में आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया.  

यह वारदात गोंडा के परसपुर थाना क्षेत्र की है. जहां पसका परसपुर में रहने वाले दलित परिवार की बेटियों पर यह एसिड अटैक किया गया. गोंडा के पुलिस अधीक्षक (SP) शैलेश कुमार पांडे ने बताया कि तीन लड़कियों पर केमिकल से अटैक किया गया है. केमिकल की जांच की जा रही है. फॉरेंसिक टीम को भी मौके पर बुलाया गया. 

देखें: आजतक LIVE TV 

पुलिस के मुताबिक तीनों बहनों पर एसिड जैसा कुछ फेंका गया है. दो बहनें मामूली रूप से घायल हैं. जबकि एक बहन के चेहरे पर एसिड पड़ा है. हालांकि, एसिड फेंकने का कारण अभी तक नहीं चल पाया है. 

पीड़ित लड़कियों की मां ने बताया कि उन्हें इस घटना का पता ही नहीं चला. घटना की जानकारी होने पर उनकी बेटी नीचे दौड़कर आई, तब पता चला. उन्होंने किसी पर शक नहीं जताया लेकिन इंसाफ की मांग की है.

आजतक/इंडिया टुडे की टीम खुद घटना स्थल पर पहुंची और वहां के हालात जाने. मौका-ए-वारदात पर मौजूद एडिशनल एसपी मुकेश कुमार ने बताया कि उन्हें पर्याप्त साक्ष्य मिल गए हैं और कुछ कॉल रिकॉर्डिंग भी उनके हाथ लगी हैं. इस मामले में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ परसपुर थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी. एफआईआर आईपीसी की धारा 326 ए के तहत दर्ज किया गया था.

एनकाउंटर में आरोपी गिरफ्तार
अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने बताया कि एसिड कांड का आरोपी आशीष मंगलवार की देर शाम एक मुठभेड़ के दौरान पुलिस के हत्थे चढ़ गया. पुलिस घटना के बाद से ही उसकी तलाश कर रही थी. इसी दौरान आशीष के बाइक पर करनैलगंज हुजूरपुर रोड की तरफ जाने की सूचना मिली. पुलिस ने उसका पीछा किया. उसे रुकने के लिए कहा, लेकिन उसने फायरिंग शुरु कर दी. पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए गोलीबारी की. जिसमें आशीष घायल हो गया और पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. उसके कब्जे से एक बाइक और तमंचा बरामद किया गया है.  

ये भी पढ़ेंः

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें