scorecardresearch
 

नोएडा-गाजियाबाद में नाइट कर्फ्यू की पहली रात, दिल्ली बॉर्डर पर लंबा जाम

राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों ने उत्तर प्रदेश सरकार की भी चिंताएं बढ़ा दी हैं, यही वजह है दिल्ली से सटे नोएडा-गाजियाबाद में भी दिल्ली की तरह नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है, जिसके कारण देर रात 10:00 बजे के बाद दिल्ली से नोएडा और गाजियाबाद जाने वाली लोगों को घंटों जाम का सामना करना पड़ा.

यूपी में भी कोरोना को लेकर बढ़ी चिंता (फाइल फोटो) यूपी में भी कोरोना को लेकर बढ़ी चिंता (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी की राजधानी में भी है बुरा हाल
  • देश में सवा लाख से ज्यादा नए कोरोना मामले
  • यूपी के बड़े शहरों में नाईट कर्फ्यू
  • नोएडा-गाजियाबाद में दिल्ली जैसी स्थितियां

देश के अलग-अलग राज्यों में कोरोना का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है, मुंबई हो या फिर राजधानी दिल्ली, लगातार कोरोना के मरीजों की संख्या में रिकॉर्डतोड़ इजाफा हो रहा है. वह भी तब जब देश में लोगों को कोरोना वैक्सीन मिल रही है. राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों ने उत्तर प्रदेश सरकार की भी चिंताएं बढ़ा दी हैं, यही वजह है दिल्ली से सटे नोएडा गाजियाबाद में भी दिल्ली की तरह नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है, जिसके कारण देर रात 10:00 बजे के बाद दिल्ली से नोएडा और गाजियाबाद जाने वाली लोगों को घंटों जाम का सामना करना पड़ा.

पुलिस प्रशासन की तरफ से गाजियाबाद और नोएडा में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया ताकि लोग घरों से बाहर ना निकलें. ऐसे में उन लोगों के लिए परेशानी ज्यादा हो गई, जो लोग नोएडा और गाजियाबाद से दिल्ली कामकाज करने के लिए आते हैं. देर रात के वक्त इन लोगों को पुलिस प्रशासन की तरफ से वापस जाने के लिए कहा गया. जिससे आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा.

हालांकि नाइट कर्फ्यू का पहला दिन था और ऐसे में ज्यादातर लोगों को इस बात की जानकारी भी नहीं थी कि नोएडा और गाजियाबाद में भी दिल्ली की तरह नाइट कर्फ्यू इंप्लीमेंट हो गया है, ऐसे में पुलिस प्रशासन की तरफ से पहला दिन होने के कारण लोगों को राहत भी दी गई और इसके साथ-साथ हिदायत भी दी गई कि 10:00 बजे की बाद अपने घरों से बाहर ना निकलें और अगर कोई जरूरत है तभी घरों से बाहर निकलें.

जाम में बहुत से लोगों जानकारी नहीं थी इसलिए लोग पुलिस से बहस भी कर रहे थे. लोगों और गाड़ियों की चेकिंग की वजह से लंबा जाम भी लग गया. नोएडा पुलिस एसेंशियल सर्विस और इमरजेंसी सर्विस से जुड़े लोगों को जाने की इजाजत दे रही है.

आपको बता दें कि बीते चौबीस घंटे में उत्तर प्रदेश में 8400 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी बुधवार को 1 दिन में 1333 कोरोना के मामले मिले है, बढ़ते मामलों को देखते हुए यहां भी नाइट कर्फ्यू का निर्णय लिया गया है. लखनऊ ही नहीं उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों में भी ऐसा ही हाल हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लखनऊ, नोएडा, वाराणसी, कानपुर, मेरठ, गाजियाबाद, प्रयागराज और बरेली में नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है. यह नाइट कर्फ्यू गुरुवार रात से ही लागू हो गया है.

जानकारी के मुताबिक लखनऊ में 16 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू रहेगा. वहीं गाजियाबाद और नोएडा में 17 अप्रैल तो वहीं मेरठ में 18 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा. वहीं कर्फ्यू से पहले ही नोएडा पुलिस के कई आईपीएस अफसर सड़कों पर दिखाई दिए. कई अफसर नोएडा के अलग-अलग बाजारों में लोगों को जागरूक करते दिखे और सलाह दी गई की भीड़ कम से कम इकट्ठा करें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और मास्क पहनें.

कोरोना ने देश में अब तक के पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. बीते चौबीस घंटे में देश में 1 लाख 26 हजार से ज्यादा नए मामले सामने सामने आए हैं. पिछले 24 घंटे में 685 मौतें दर्ज की गई हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें