scorecardresearch
 

Subsidy on Makhana Farming: इस राज्य के मखाना किसानों के लिए खुशखबरी, सरकार दे रही 72 हजार की सब्सिडी

Subsidy News: बिहार में मखाना की खेती किसानों के बीच बेहद लोकप्रिय है. सरकार भी इसकी खेती को बढ़ावा देने के लिए किसानों को प्रोत्साहित कर रही है. इसकी कड़ी में बिहार उद्यान विभाग मखाना की खेती करने वाले किसानों को 75 प्रतिशत तक की सब्सिडी दे रही है. इसके लिए किसानों को आवेदन देना होगा. यहां पढ़िए कैसे मिलेगी सब्सिडी.

X
Makhana Ki Kheti (Representational Image) Makhana Ki Kheti (Representational Image)

Subsidy on Makhana Farming: बिहार में मखाने की खेती बड़े पैमाने पर की जाती है. राज्य सरकार की तरफ से इसकी उपज बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं. बिहार सरकार मखाना की खेती करने वाले किसानों के लिए एक योजना लेकर आई है. इस योजना के तहत इसकी खेती करने वाले किसानों को 75 फीसदी तक की सब्सिडी दी जा रही है.

75 फीसदी सब्सिडी का भी लाभ

बिहार सरकार मखाना विकास योजना के तहत मखाने के उच्च प्रजाति के बीजों का प्रयोग करने वाले किसानों को 75 फीसदी तक की सब्सिडी का लाभ दे रही है. जानकारी के मुताबिक इन बीजोंं की खेती करने पर 97 हजार प्रति हेक्टेयर की लागत आती है. जिस पर 72750 रुपये प्रति हेक्टेयर की सब्सिडी प्राप्त की जा सकती है. इसके लिए किसानों को आवेदन करना होगा.

5 सितंबर से शुरू हो रही है आवेदन प्रक्रिया

मखाने की खेती करने वाले करने वाले किसान अगर मखाना विकास योजना के तहत मिलने वाले लाभ को प्राप्त करना चाहते हैं तो उन्हें इसके लिए उद्यान विभाग की वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा. उद्यान निदेशालय की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक आवेदन की प्रक्रिया 5 सितंबर से शुरू हो रही है. किसान 20 सितंबर तक आवेदन कर सकते हैं.

मखाना प्रसंस्करण उद्योग लगाने पर भी सब्सिडी

वहीं मखाना प्रसंस्करण उद्योग लगाने के लिए सरकार की तरफ से सब्सिडी दी जा रही है. सरकार द्वारा जारी एडवायजरी के मुताबिक व्यक्तिगत निवेशकों के लिए 15% तो किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ/एफपीसी) के लिए 25% तक पूंजीगत दी जाएगी.

ये है उद्देश्य

दरअसल, सरकार किसानों की आय में इजाफा करना चाह रही है. इसी कड़ी में किसानों को मखाना प्रसंस्करण उद्योग पर सब्सिडी दी जा रही है. इसका उपयोग कर किसान मखाने से जुड़े कई तरह के प्रोडक्ट बना सकते हैं और बढ़िया मुनाफा कमा सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें