scorecardresearch
 

Team India For ODI World Cup 2023: अभी नहीं तो कभी नहीं! वनडे वर्ल्ड कप के लिए अभी से तैयारी जरूरी, इन 15 को दो जिम्मेदारी

टीम इंडिया को अब वनडे वर्ल्ड कप 2023 के लिए खुद को तैयार करना ही होगा. अगले साल भारत में ही वर्ल्ड कप होना है, कप्तान रोहित शर्मा की अगुवाई में कौन-से प्लेयर्स हैं जिनका पूल हमें वर्ल्ड कप जितवा सकता है इसपर एक नज़र डालते हैं...

X
वनडे वर्ल्ड कप के लिए क्या टीम इंडिया तैयार?
वनडे वर्ल्ड कप के लिए क्या टीम इंडिया तैयार?

न्यूजीलैंड सीरीज़ के बाद अब टीम इंडिया के लिए वनडे वर्ल्ड कप 2023 की तैयारियां शुरू हो गई हैं. बांग्लादेश का दौरा भारतीय टीम के लिए असली परीक्षा होगा और यह वनडे वर्ल्ड कप के लिए एक तरह से काउंटडाउन भी होगा. लेकिन क्या टीम इंडिया इसके लिए तैयार है, क्या भारतीय टीम के पास ऐसे खिलाड़ियों की फौज है जो आपको वनडे का वर्ल्ड कप जिता सके. मौजूदा हालात देखकर ऐसा बिल्कुल नज़र नहीं आता है, यही कारण है कि हर एक्सपर्ट सवाल खड़े कर रहा है कि टीम इंडिया को अभी से ही अपने बेस्ट पूल को तैयार करना चाहिए जो लगातार मैच खेले और वनडे वर्ल्ड कप तक पूरी तरह तैयार हो जाए. रोहित शर्मा, विराट कोहली जैसे प्लेयर्स के लिए शायद यह आखिरी मौका होगा जब वह वनडे वर्ल्ड कप जीतना चाहेंगे, यानी उनके लिए अभी नहीं तो कभी नहीं जैसे हालात हैं. 

अधर में फंसी है टीम इंडिया...
न्यूजीलैंड के हाथों टीम इंडिया को करारी हार मिली है, 0-1 से सीरीज को गंवा दिया है. ऐसे में टीम इंडिया की वनडे क्रिकेट की तैयारी भी अधर में लगती है, क्योंकि अभी टीम इंडिया के पास वनडे टूर्नामेंट के लिए कोई ब्लूप्रिंट नज़र नहीं आता है. कप्तान रोहित शर्मा, पूर्व कप्तान विराट कोहली, उप-कप्तान केएल राहुल समेत कई सीनियर प्लेयर वनडे सीरीज से अक्सर ब्रेक लेते नज़र आते हैं, उनकी जगह जिनको मौका मिलता है वह लगातार प्लेइंग-11 या टीम स्क्वॉड का हिस्सा नहीं बनते हैं. ऐसे में टीम इंडिया जिस फॉर्मूले से आगे बढ़ रही है, वह चिंताओं को काफी बढ़ाता है.  

क्लिक करें: वर्ल्ड कप को कुछ महीने बाकी, क्या वनडे टीम में जरूरी हैं संजू सैमसन?

किन क्षेत्रों में फंसी है टीम इंडिया?
टीम इंडिया के अगर कोर ग्रुप को देखें तो अभी भी हर जगह से कई तरह की कमियां निकलती नज़र आती हैं. कप्तान रोहित शर्मा की फॉर्म, रवींद्र जडेजा-जसप्रीत बुमराह जैसे खिलाड़ियों की चोट, विकेटकीपर-बल्लेबाज को लेकर चिंता, छठे बॉलिंग ऑप्शन को लेकर बहस ना जाने कितने सवाल हैं, जिनके जवाब तलाशे जा रहे हैं. एक-एक कर सभी मसलों पर नज़र डालते हैं...

ओपनिंग: रोहित शर्मा और केएल राहुल ही टीम इंडिया के लिए अभी ओपनिंग का जिम्मा संभालते नज़र आ रहे हैं. हालांकि पिछली कुछ वनडे सीरीज में दोनों नहीं दिखे हैं, तो शिखर धवन के साथ कोई ना कोई बल्लेबाज मिल जाता है. लेकिन शिखर धवन लगातार वनडे में रन बना रहे हैं, ऐसे में उनका दावा मजबूत होता है यही कारण है कि एक्सपर्ट भी रोहित-धवन की जोड़ी पर ज़ोर दे रहे हैं, ऐसे में केएल राहुल नंबर-3 या मिडिल ऑर्डर में आ सकते हैं.

मिडिल ऑर्डर: विराट कोहली के बाद टीम को तेज़ी से रन बनाने वाला और ज़रूरत पड़ने पर पारी को संभालने वाला बल्लेबाज चाहिए. श्रेयस अय्यर ने वनडे क्रिकेट में ऐसा कमाल करके दिखाया है, वह मौका मिलने पर लगातार रन बनाते दिख रहे हैं. हालांकि, सूर्यकुमार यादव या दीपक हुड्डा को अभी वनडे में काफी कुछ साबित करना है. टी-20 क्रिकेट में सूर्यकुमार यादव का जलवा है, लेकिन वह उसे वनडे में अभी तक उस प्रकार से नहीं दर्शा पाए हैं. यही कारण है कि मिडिल ऑर्डर भी कई तरह के सवाल छोड़कर जा रहा है. 

न्यूजीलैंड दौरे पर टीम इंडिया (फोटो: Getty)

विकेटकीपर/बल्लेबाज: पिछले कुछ दिनों में इस पॉजिशन को लेकर काफी बहस हुई है, टी-20 वर्ल्ड कप के दौरान ऋषभ पंत की जगह दिनेश कार्तिक को तवज्जो मिली. लेकिन टीम मैनेजमेंट भविष्य को देखते हुए हर मौके पर ऋषभ पंत को बैक करता नज़र आता है, लेकिन लंबे वक्त से व्हाइट बॉल फॉर्मेट में चली आ रही उनकी खराब फॉर्म अब निशाने पर है. ऋषभ की वजह से संजू सैमसन, ईशान किशन जैसे प्लेयर्स को मौका नहीं मिल रहा है. संजू सैमसन का वनडे रिकॉर्ड बेहतर है (वह जितना भी खेले हैं) और उनके लिए लगातार आवाज़ भी उठ रही है.

ऑलराउंडर और स्पिनर्स: हार्दिक पंड्या ने जब से वापसी की है, वह यह पक्का कर चुके हैं कि उनका कोई ऑप्शन नहीं है. वह अब बॉलिंग भी कर रहे हैं और आखिर में तेज़ी से रन भी बटोर सकते हैं, ऐसे में वनडे टीम में वह किस रोल के तहत आगे बढ़ते हैं यह सवाल है. दूसरा ऑप्शन रवींद्र जडेजा का है, जो अभी फील्ड से बाहर हैं लेकिन टीम में उनकी जरूरत है. बॉलिंग, बल्लेबाजी और फील्डिंग हर मोर्चे पर जडेजा फिट बैठते हैं. लेकिन इस बीच वाशिंगटन सुंदर, अक्षर पटेल, दीपक हुड्डा जैसे प्लेयर्स नए ऑप्शन पैदा कर रहे हैं. वहीं स्पिनर में युजवेंद्र चहल का चयन ही सटीक होगा.

क्लिक करें: कप्तान, ओपनर, विकेटकीपर...पूरी टीम पर कन्फ्यूजन! 10 महीने में कैसे जीतेंगे वनडे वर्ल्ड कप?

बॉलर्स की फौज तैयार: जसप्रीत बुमराह चोट के बाद वापसी कर सकते हैं, ऐसे में वो ही बॉलिंग यूनिट की अगुवाई कर रहे होंगे. उनके अलावा अर्शदीप सिंह, भुवनेश्वर कुमार और उमरान मलिक जैसी खेप भी है, लेकिन टीम मैनेजमेंट को अभी सोचना होगा कि क्या उमरान मलिक को वह वनडे में खिलाना चाहते हैं. अगर हां तो फिर वर्ल्ड कप तक उन्हें लगातार मौका देना ही होगा. 

ये 15 जिताएंगे वर्ल्ड कप?
अभी वर्ल्ड कप में करीब एक साल बाकी है लेकिन अगर पूरी तैयारी के साथ मैदान में कूदना है तो मेन पूल को अभी से तैयार करना होगा ताकि हर खिलाड़ी फॉर्म में रहे, कमियों को दूर किया जा सके और चीज़ें पिछली बार की तरह बिगड़ ना पाए. वरना, टी-20 वर्ल्ड कप 2021, टी-20 वर्ल्ड कप 2022 या फिर वनडे वर्ल्ड कप 2019 में जो गलतियां हुईं वह फिर से भारी पड़ सकती हैं. मौजूदा हालात में अगर वनडे वर्ल्ड कप के लिए 15 खिलाड़ियों की लिस्ट को तैयार करें, तो ये प्लेयर्स सटीक बैठ सकते हैं... 

1.    रोहित शर्मा (कप्तान) 
2.    शिखर धवन 
3.    केएल राहुल/शुभमन गिल (उप-कप्तान) 
4.    विराट कोहली 
5.    श्रेयस अय्यर 
6.    सूर्यकुमार यादव 
7.    ऋषभ पंत (विकेटकीपर) 
8.    हार्दिक पंड्या 
9.    रवींद्र जडेजा 
10.    जसप्रीत बुमराह 
11.    अर्शदीप सिंह 
12.    उमरान मलिक 
13.    संजू सैमसन (विकेटकीपर) 
14.    युजवेंद्र चहल
15.    मोहम्मद शमी  

इन 15 खिलाड़ियों के अलावा भी कुछ नाम ऐसे हैं, जो लगातार टीम इंडिया में एंट्री के लिए तैयार रहते हैं. पृथ्वी शॉ, ऋतुराज गायकवाड़, शुभमन गिल, दीपक चाहर, दीपक हुड्डा, वाशिंगटन सुंदर जैसे कई प्लेयर्स हैं जो मौका मिलने पर अपना जलवा बिखेरते हैं लेकिन लगातार मौके नहीं मिल रहे हैं. अगले एक साल में अगर ये सब कुछ कमाल करते हैं, तो वनडे टीम में जगह बना सकते हैं. 

कब-से है आईसीसी ट्रॉफी का इंतज़ार?
टीम इंडिया ने आखिरी बार कोई आईसीसी ट्रॉफी साल 2013 में जीती थी, जब एमएस धोनी की अगुवाई में टीम इंडिया ने चैम्पियंस ट्रॉफी अपने नाम की थी. उससे पहले 2011 का वनडे वर्ल्ड कप, 2007 का टी-20 वर्ल्ड कप भी एमएस धोनी की अगुवाई में टीम इंडिया ने जीता था. यानी आईसीसी ट्रॉफी का इंतज़ार एक दशक लंबा हो चला है. उससे पहले टीम इंडिया कपिल देव की अगुवाई में 1983 का वनडे वर्ल्ड कप जीत चुकी है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें