scorecardresearch
 

ओम प्रकाश राजभर को बड़ा झटका, प्रदेश महासचिव ने इस्तीफा देकर लगाए ये आरोप

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रदेश महासचिव अभय नंदन बरनवाल ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने पार्टी प्रमुख पर परिवारवाद, अवसरवाद के साथ ही अन्य गंभीर आरोप लगाए हैं. बरनवाल ने कहा कि ओम प्रकाश राजभर टिकट बेचने का काम करते हैं. इसी वजह से पूरे प्रदेश के कार्यकर्ता परेशान हैं और इस्तीफा देने के लिए मजबूर हो रहे हैें.

X
अभय नंदन बरनवाल ने सुभासपा से दिया इस्तीफा अभय नंदन बरनवाल ने सुभासपा से दिया इस्तीफा

सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर को तगड़ा झटका लगा है. यूपी के देवरिया निवासी प्रदेश महासचिव अभय नंदन बरनवाल ने इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने कहा कि वह पार्टी की नीतियों से आहत हैं. अभय नंदन बरनवाल ने पार्टी प्रमुख पर गंभीर आरोप लगाए हैं. 

अभय नंदन बरनवाल ने कहा "ओम प्रकाश राजभर कहते हैं कि चुनाव लड़ने के लिए तैयारी करो. नेता और कार्यकर्ता पांच साल तैयारी करते हैं. इसके बाद जब चुनाव आता है, तो राजभर किसी पार्टी से गठबंधन कर लेते हैं. फिर कहते हैं कि टिकट नहीं मिली, तो अब हम क्या करें".

बरनवाल का आरोप है "ओम प्रकाश राजभर टिकट बेचने का काम करते हैं. रिटायर्ड अधिकारियों से मोटी रकम लेकर कार्यकर्ताओं का शोषण करते हैं. पूरे प्रदेश के कार्यकर्ता राजभर की इस अवसरवादी नीति से परेशान होकर इस्तीफा दे रहे हैं."

उन्होंने आगे कहा, "राजभर ने 2017 के साथ ही 2022 में भी यही काम किया. अपने और बेटे के लिए टिकट लेकर वो पार्टी के अन्य नेताओं और कार्यकर्ताओं को मजधार में छोड़ देते हैं. इस वजह से अब कार्यकर्ताओं के सब्र का बांध टूट गया है." 

बरनवाल ने कहा कि बात केवल टिकट की नहीं है. यह सिस्टम की बात है. जब ओम प्रकाश राजभर ने पार्टी के गठन के समय कहा था कि न वो चुनाव लड़ेंगे न ही परिवार का कोई सदस्य. मगर, जैसे ही किसी बड़ी पार्टी से समझौता होता है, ये चुनाव लड़ते हैं. इनका लड़का चुनाव लड़ता है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें