scorecardresearch
 

ओम प्रकाश राजभर की नाराजगी पर बोले अखिलेश- राजनीति पीछे से ऑपरेट हो रही है

ओम प्रकाश राजभर की नाराजगी पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आजकल राजनीति पीछे से ऑपरेट हो रही है, कई बार पीछे से ऑपरेट होने के चलते लोग बयान दे देते हैं.

X
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सपा के सदस्यता अभियान की शुरुआत
  • अखिलेश बोले- हम गांव-शहर के हर घर जाएंगे

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद समाजवादी पार्टी (सपा) और छोटी-छोटी पार्टियों के गठबंधन की डोर धीरे-धीरे टूटती नजर आ रही है. आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा उपचुनाव के दौरान मिली हार के बाद सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने अखिलेश यादव साधा था. अब अखिलेश यादव ने पलटवार किया है.

ओम प्रकाश राजभर की नाराजगी पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आजकल राजनीति पीछे से ऑपरेट हो रही है, कई बार पीछे से ऑपरेट होने के चलते लोग बयान दे देते हैं. अखिलेश यादव ने कहा कि हमें किसी के सलाह की जरूरत नहीं है. गौरतलब है कि ओम प्रकाश राजभर ने अखिलेश यादव को घर से निकलने की सलाह दी थी.

रामपुर और आजमगढ़ में प्रचार न करने पर अखिलेश यादव ने कहा, 'हमारे संगठन के लोगों ने कहा था कि आप प्रचार में मत आइए, हम चुनाव जीत जाएंगे लेकिन हमें नहीं पता था कि जनता को वोट नहीं देने दिया जाएगा, लोगों को भ्रमित करने के लिए शराब बांटी जाएगी, पैसे बांटे जाएंगे, सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग होगा.'

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि जातीय जनगणना होनी चाहिए, इससे सरकार को काम करने की नीति बनाने और उन तक उपलब्धियां पहुंचाने में आसानी होगी. अखिलेश यादव ने कहा कि मैं अग्निपथ योजना के पक्ष में नहीं हूं, अगर सरकार कारपोरेट टैक्स बढ़ा दे तो पैसे की कमी नहीं होगी, फ़ौज की नौकरी परमानेंट नौकरी होनी चाहिए.

सपा सदस्यता अभियान की शुरुआत करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि लोकतंत्र बचाने के लिए सदस्यता अभियान की शुरुआत की गई है, हम शहर-गांव और घर तक जायेंगे, संगठन के पूरे सिस्टम को डिजिटलाइस्ड करेंगे. अखिलेश ने कहा कि कांग्रेस सत्ता में थी तो विरोधियों के पीछे सीबीआई और ईडी लगाती थी, उसी रास्ते पर बीजेपी भी चल रही है.

विधानसभा चुनाव में हार पर अखिलेश यादव ने कहा कि बड़े पैमाने पर समाजवादी पार्टी के वोटरों का नाम काटा गया था, भारतीय जनता पार्टी, जांच एजेंसियों का बड़े पैमाने पर दुरुपयोग कर रही है, हमने इलेक्शन कमिशन से भी शिकायत की थी कि कैसे वोट नहीं डालने दिए गए, वोट काटे गए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें