scorecardresearch
 

यूपी: अलीगढ़, मैनपुरी के बाद मिर्जापुर का नाम बदलने की उठी मांग! इस संगठन ने की सीएम योगी से अपील

यूपी में अलीगढ़ और मैनपुरी के नाम बदले जाने की अटकलों के बीच मिर्जापुर में भी नाम बदलने की मांग हो रही है. भारतीय सवर्ण संघ ने सीएम योगी से अपील की है कि मिर्जापुर का नाम बदलकर विंध्याचल नगर कर दिया जाए.

मिर्जापुर का नाम विंध्याचल नगर करने की उठी मांग. मिर्जापुर का नाम विंध्याचल नगर करने की उठी मांग.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अलीगढ़-मैनपुरी का भी बदल सकता है नाम
  • मिर्जापुर का नाम विंध्याचल नगर करने की मांग
  • यूपी में फिर शुरू नाम बदलने की कवायद

उत्तर प्रदेश में नाम बदलने की सियासत थमती नजर नहीं आ रही है. अलीगढ़ और मैनपुरी के बाद अब मिर्जापुर के नाम को भी बदलने की मांग की जा रही है. यूपी में नाम बदलने की कवायद एक बार फिर से शुरू होते देख अब अन्य जिलों से भी नाम बदलने की मांग उठ रही है. अब मिर्जापुर जिले का नाम बदल कर विंध्याचल नगर करने की मांग एक संगठन ने की है.

मिर्जापुर जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे भारतीय सवर्ण संघ के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिख कर मिर्जापुर जनपद का नाम बदल कर विंध्याचल नगर करने की मांग की है. संघ के पदाधिकारी अवधेश सिंह ने कहा कि बाहर दूसरे प्रदेशों में मिर्जापुर को कोई नहीं जानता. जब हम लोग विंध्याचल का नाम बताते हैं तो यह नाम सभी जानते हैं.

भारतीय सवर्ण संघ ने कहा कि जनपद का नाम बदल कर विंध्याचल के नाम पर रखा जाए. भारतीय सवर्ण संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अवधेश सिंह ने कहा कि हम लोग डीएम कार्यालय आए हैं. हम लोग मिर्जापुर का नाम बदलकर विंध्याचल नगर या विंध्याचल धाम करने की मांग कर रहे हैं. मुख्यमंत्री को भी पत्र लिखा है. बाहर मिर्जापुर को बहुत कम लोग जानते हैं. विंध्याचल को ज्यादा लोग जानते हैं. उन्हीं के नाम से हो तो अच्छा हो.

यूपीः अलीगढ़ का नाम होगा 'हरिगढ़', मैनपुरी जिले का नाम भी बदला जाएगा 

अलीगढ़ और मैनपुरी का क्या होगा नया नाम? 

योगी सरकार में कई जिलों के नाम बदले गए हैं. ऐसे में एक बार फिर से नाम बदलने की कवायद सूबे में शुरू हो गई है. अलीगढ़ जिले का नाम हरिगढ़ रखने का प्रस्ताव पास हुआ है, वहीं मैनपुरी का नाम भी मयन ऋषि के नाम पर रखने का प्रस्ताव जिला पंचायत में पास किया गया है. जिला पंचायत में पास किए गए इन प्रस्तावों को अब सरकार के पास भेजा जा रहा है. अब इन पर सरकार फैसला लेगी या नहीं, अहम सवाल ये है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें