scorecardresearch
 

वाराणसी: ज्ञानवापी मस्जिद के तहखानों मिले कलश-स्वस्तिक-मंदिरों के खंभे! 4 कमरों का सर्वे पूरा

वाराणसी के डीएम कौशल राज शर्मा ने कहा कि सर्वे के दौरान सभी पक्षों के प्रतिनिधि मौजूद थे. उन्होंने कहा कि वे यह जानकारी नहीं दी जा सकती है कि सर्वे में क्या-क्या मिला. वहीं वादी के मुख्य वकील जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा कि उन्हें उम्मीद से ज्यादा तहखाने में मिला है.

X
सर्वे के दौरान दोनों पक्ष के लोग रहे मौजूद (फाइल फोटो) सर्वे के दौरान दोनों पक्ष के लोग रहे मौजूद (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पहले दिन सुबह 8 बजेे से दोपहर 12 बजे तक चला सर्वे
  • मुस्लिम पक्ष के वकील ने कहा- बस 25% सर्वे बचा

Gyanvapi Masjid Survey: वाराणसी में शनिवार को ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे शुरू किया गया. सूत्रों के मुताबिक हिंदू पक्ष के पास जो तहखाने का कमरा है उसमें मूर्ति मिली है, कमल के चिह्न मिले, घंटियां दिखाई दी हैं. वहीं मस्जिद कमिटी के पास के तीनों तहखानों में भी कई हिंदू धर्म के प्रतीक मिले हैं. 

सर्वे में शामिल वकील ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि तीन कमरों में सर्प, कलश, घंटियां, स्वस्तिक, संस्कृत के श्लोक और स्वान की मूर्तियां मिली हैं, जो उनके लिए सबसे अहम सबूत हैं. इसके अलावा हिंदू मंदिरों के खंभे मिले हैं. वहीं मुस्लिम पक्ष के वकील ने सभी दावों को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा कि सर्वे में जो कुछ भी मिला है, उसकी रिपोर्ट कोर्ट को सौंपी जाएगी.

15 मई को मस्जिदों के गुंबदों का होगा सर्व

सर्वे के लिहाज से रविवार का दिन बेहद अहम है क्योंकि मस्जिद में मौजूद एक कमरे को खोला जाएगा, जिसमें बताया जा रहा है कि मलबा भरा हुआ है. इसके अलावा मस्जिद के गुंबदों का सर्वे भी अहम है. 

17 मई से पहले पूरा करना है सर्वे: वकील

सर्वे में शामिल सभी पक्षों को लगता है कि कल (रविवार) ही सर्वे पूरा होने की संभावना है. वहीं वकील दीपक कुमार ने कहा कि रविवार को फिर सुबह 8 बजे से शुरू होगा. अगर सर्वे पूरा नहीं हुआ तो 17 से पहले तक हम सर्वे कर सकते हैं.

ताला तोड़ने के लिए भी मौजूद थी टीमें

जानकारी के मुताबिक प्रशासन एहतियातन ने शनिवार को सर्वे स्थल पर ताला तोड़ने के लिए भी तीन टीमें भेज दी गई थीं. सर्वे करीब चार घंटे सुबह 8 बजे से दोपहर 12 बजे तक चला. वहीं मुस्लिम पक्ष के वकील ने बताया कि पहले ही दिन 75 फीसदी सर्वे कर लिया गया है.

कमरों को लेकर हिंदू पक्ष का यह है दावा

जिन कमरों का सर्वे किया जा रहा है इनके बारे में हिंदू पक्ष का दावा है कि तहखाने के इन्हीं कमरों में मंदिर के प्रमाण हैं. तहखानों के बीचोबीच आदि विशेश्वर का स्थान है, जहां कभी शिवलिंग स्थापित हुआ करता था. मूल विशेश्वर का मंदिर वहीं था. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें